भीलवाड़ा पुलिस ने 200 करोड़ रुपए के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सट्टे का किया फर्दाफाश

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/11 03:13

भीलवाड़ा। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सट्टा गिरोह का भीलवाड़ा पुलिस ने सोमवार को पर्दाफाश किया। पकड़े गए तीनों बदमाशों के राज्य के साथ साथ दूसरे प्रदेशों व नेपाल तक के सट्टा बाजार से तार जुड़े हुए हैं। शनिवार शाम को महिला आश्रम के पास एक जूते के शोरूम पर मारे छापे के दौरान पुलिस ने करीब 200 करोड़ रुपए का क्रिकेट सट्टे के लेनदेन व 55 करोड रुपए के हवाला का हिसाब भी लैपटॉप से जप्त किया। पुलिस ने अब तक 3 लोगों को हिरासत में लेकर 19 लाख 11 हजार रुपए की नकदी बरामद की है। सट्टा कारोबारियों से लग्जरी कार भी बरामद की है एक बीएमडब्ल्यू एक ओडी सहित चार कार बरामद करने में पुलिस को कामयाबी मिली है।

मामले का खुलासा सोमवार को प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक योगेश यादव ने किया। क्रिकेट के ऑनलाइन सट्टे के कारोबार में लगे बदमाशों से पुलिस ने 21 मोबाइल, 9 लैपटॉप 1 एलईडी के साथ लग्जरी कारें बरामद करने में सफलता हासिल की है। पुलिस अधीक्षक यादव ने कहा कि महिला आश्रम के पास कमल बुट वाला नाम से जूते का शोरूम काफी समय से संचालित है। जूते के कारोबार की आड में कमल मंगवानी ललित छतवानी ऑनलाइन क्रिकेट सट्टे का काम करने की सूचना मिली थी। सूचना पर भीमगंज थाना प्रभारी भूपेश कुमार के नेतृत्व में प्रतिष्ठान पर छापा मारा गया। भारत-न्यूजीलैंड मैच यहां सट्टा लगाया जा रहा था। 

छापेमारी कार्रवाई के दौरान पुलिस ने वहां से लैपटॉप व मोबाइल पकड़े तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। लैपटॉप का रिकॉर्ड खंगाला गया तो सामने आया कि बीते 3 साल से क्रिकेट के सट्टे के साथ साथ यहां से हवाला का कारोबार संचालित किया जा रहा था। 1431 क्रिकेट मैच का हिसाब किताब जप्त लैपटॉप में मिला है। पुलिस ने दावा किया कि 200 करोड़ रुपए की राशि इन मैचों में दांव पर लगी थी। राज्य के कई जिलों में आरोप लेकर 100 फर्जी आईडी से अपना सट्टे का कारोबार संचालित कर रहे थे। एक मैच पक करीब 50 लाख रुपए के आसपास दांव पर लगता था। 

पुलिस अधीक्षक यादव ने बताया कि आरोपियों से जप्त हिसाब किताब के रिकॉर्ड में नकद राशि के बाद सूचना ईडी व इनकम टैक्स महकमे को दे दी गई है। आरोपी मौज शोक के लिए विदेश यात्राएं भी करते रहते हैं। एसपी यादव ने यह भी कहा कि आरोपी ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के साथ-साथ पेटीएम से भी भुगतान करते थे। पुलिस में वैभव नगर निवासी कमल मंगवानी, महिलाश्रम निवासी ललित चेतवानी व एक बिजोलिया रजत सोनी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने इस अवैध कारोबार के जरिए किया मदनी से प्रदेश के अलग-अलग जिला मुख्यालय पर मकान भी खरीदें। अधिकतर भुगतान आरोपी हवाला के जरिए करते थे।

...नवीन जोशी फर्स्ट इंडिया न्यूज भीलवाड़ा

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in