जयपुर VIDEO: इंट्रा स्टेट एयर कनेक्टिविटी के नहीं दिख रहे आसार, बजट घोषणा के बाद भी शुरू नहीं हो सकी फ्लाइट्स, देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: इंट्रा स्टेट एयर कनेक्टिविटी के नहीं दिख रहे आसार, बजट घोषणा के बाद भी शुरू नहीं हो सकी फ्लाइट्स, देखिए ये खास रिपोर्ट

जयपुर: राजस्थान में इंट्रा स्टेट एयर कनेक्टिविटी शुरू होने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट में प्रदेश के एक से दूसरे शहरों के लिए फ्लाइट शुरू करने की बात कही थी, लेकिन अभी फ्लाइट शुरू होने की दिशा में कोई प्रगति नहीं है. वहीं जयपुर को छोड़कर प्रदेश के दूसरे एयरपोर्ट्स पर वैसे भी हवाई यातायात के हाल खराब हैं. प्रदेश में इंट्रा स्टेट एयर कनेक्टिविटी काे लेकर राज्य सरकार की तरफ से खास प्रगति नहीं दिख रही है. अभी तक प्रदेश के एक से दूसरे शहरों के बीच हवाई सेवा उपलब्ध नहीं है. केवल जयपुर से उदयपुर की एकमात्र फ्लाइट को छोड़ दें तो अन्य शहरों के बीच आपस में कोई एयर कनेक्टिविटी नहीं है. 

कोविड के बाद जनजीवन तो सामान्य हो चुका है, लेकिन फ्लाइट संचालन अभी भी गड़बड़ाया हुआ है. राजस्थान में गर्मियों में पर्यटन सीजन नहीं होने से कमर्शियल एयरलाइंस भी फ्लाइट नहीं चला रही हैं. प्रदेश के उदयपुर, जैसलमेर, जोधपुर, बीकानेर जैसे एयरपोर्ट्स पर फ्लाइट संचालन काफी कम हैं. आश्चर्यजनक स्थिति यह है कि जैसलमेर में तो 3 माह से फ्लाइट संचालन पूरी तरह बंद है. बीकानेर एयरपोर्ट से एयर इंडिया की एकमात्र फ्लाइट सप्ताह में 5 दिन ही चल रही है. यात्रीभार में गिरावट से जयपुर एयरपोर्ट भी अछूता नहीं है, लेकिन यहां पर अपेक्षाकृत रूप से फ्लाइट संचालन औसत चल रहा है. राजस्थान के दूसरे सबसे बड़े उदयपुर के डबोक एयरपोर्ट पर फ्लाइट संचालन सर्दियों की तुलना में आधे से भी कम चल रहा है. 

सर्दियों की तुलना में कितनी कम चल रही फ्लाइट:
-जयपुर एयरपोर्ट : सर्दियों में रोज 60 फ्लाइट थीं, अब औसतन 53 फ्लाइट
-उदयपुर एयरपोर्ट : सर्दियों में रोज औसतन 20 फ्लाइट थीं, अब मात्र 10 फ्लाइट
-जोधपुर एयरपोर्ट : सर्दियों में रोज औसतन 16 फ्लाइट थीं, अब मात्र 8 फ्लाइट
-किशनगढ़ एयरपोर्ट : सर्दियों में रोज औसतन 5 फ्लाइट थीं, अब 4 फ्लाइट
-जैसलमेर एयरपोर्ट : सर्दियों में रोज औसतन 5 फ्लाइट थीं, अब मार्च के बाद फ्लाइट संचालन बंद
-बीकानेर एयरपोर्ट : सर्दियों में रोज औसतन 1 फ्लाइट थी, अब सप्ताह में 5 दिन 1 फ्लाइट

प्रदेश में एयर कनेक्टिविटी को बेहतर करने के लिए ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट में इसकी घोषणा की थी. इसके तहत प्रदेश के एक से दूसरे शहरों के लिए फ्लाइट चलनी हैं. इस दिशा में प्रदेश के केवल इन 6 एयरपोर्ट पर ही नहीं, बल्कि कोटा, श्रीगंगानगर, सवाईमाधोपुर, आबूरोड जैसी हवाई पट्टियों पर भी फ्लाइट चलाने की योजना बताई जा रही है, लेकिन इस दिशा में नागरिक उड्डयन विभाग प्रगति नहीं कर सका है.

वहीं प्रमुख एयरपोर्ट से कई एयरलाइंस ने भी फ्लाइट संचालन कम कर रखा है. ट्रू जेट एयरलाइन के विमानों पर विवाद होने से जैसलमेर और उदयपुर एयरपोर्ट से इसकी फ्लाइट नहीं चल रही हैं. वहीं स्पाइसजेट एयरलाइन ने भी उदयपुर, जोधपुर और जैसलमेर से फ्लाइट संचालन काफी कम किया हुआ है. कुलमिलाकर अभी फ्लाइट संचालन में सुधार के संकेत नहीं दिख रहे हैं. माना जा रहा है कि सितंबर के बाद पर्यटन सीजन शुरू होने पर ही एयरपोर्ट्स पर रौनक लौटेगी.

और पढ़ें