क्या दिन में 10 हज़ार कदम चलना काफी होता है? जानें आपके लिए क्या सही है

क्या दिन में 10 हज़ार कदम चलना काफी होता है? जानें आपके लिए क्या सही है

क्या दिन में 10 हज़ार कदम चलना काफी होता है? जानें आपके लिए क्या सही है

नई दिल्ली: रोज़ाना या कम से कम हफ्ते में 4 दिन व्यायाम करना (Exercise) हमारे लिए कितना फायदेमंद हो सकता है, यह हम सब जानते हैं. हम में से ज़्यादातर लोग अपने व्यस्त जीवन से भी वर्कआउट (Workout) के लिए कुछ समय ज़रूर निकाल लेते हैं. कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus Epidemic) की वजह से हमारा व्यायाम छूट गया है, जिम बंद हैं और अब पार्क भी बंद हैं. हालांकि, इसके बावजूद आप घर के आसपास या घर के अंदर ही चल सकते हैं. सिर्फ कुछ चल लेने से ही आपके शरीर को कई तरह से फायदा पहुंच सकता है. चलना एक बेहद आसान एक्सरसाइज़ है और आपको कई तरह से फायदे पहुंचा सकता है. यही वजह है कि हेल्थ एक्सपर्ट्स भी लोगों को रोज़ाना कम से कम 10 हज़ार चलने की सलाह देते हैं.

चलने के फायदे:
चलने के लिए आपको किसी ख़ास ट्रेनिंग (Special Traning) की ज़रूरत नहीं होती. थोड़ी तैयारी और कुछ एहतियात बरतें (Take Precautions), तो इससे बेहतर ऐरोबिक एक्सरसाइज़ (Aerobic Exercise) कोई है ही नहीं. न तो इसमें कोई पैसा ख़र्च होता है, और आप इसे किसी भी समय कर सकते हैं. अगर रोज़ाना कुछ समय चला जाए तो आप इन आम बीमारियों के जोखिम को कम कर सकते हैं.

• दिल की बीमारी (Heart Disease)

• मोटापा (Obesity)

• डायबिटीज़ (Diabetes)

• हाई ब्लड प्रेशर (high blood pressure)

• अवसाद (Depression)

कितना समय चलना चाहिए?
क्लिनिक एक्सपर्ट (Clinic Experts) के अनुसार, एक व्यक्ति को हफ्ते में 150 मिनट चलना चाहिए, जिसमें मध्यम इंटेनसिटी की एक्सरसाइज़ (Intensity Exercise) जैसे की ब्रिस्क वॉकिंग (Brisk Walking) शामिल है. धीरे-धीरे कर अपना समय बढ़ाते रहें. आप हफ्ते में 5 दिन 30 मिनट के लिए चलें, या फिर दिन में कई बार 10 मिनट के लिए चलें. वहीं, हारवर्ड न्यूज़लेटर के हिसाब से सेहतमंद रहने के लिए हर व्यक्ति को रोज़ाना 30-45 मिनट वॉक करना चाहिए.

दिन में कितने कदम चलना चाहिए?
शोधकर्ताओं (Researchers) ने पाया कि चलने से हृदय संबंधी घटनाओं में 31% की कमी से मृत्यु का जोखिम 32% तक कम हो जाता है. आपको रोज़ाना कम से कम 10 हज़ार कदम चलना चाहिए. जो लोग रोज़ाना 10 हज़ार या उससे ज़्यादा कदम चलते हैं, उनमें कई तरह की बीमारियां का जोखिम कम हो जाता है.

कितना तेज़ चलना चाहिए?
एक मिनट में 80 कदम, एक इत्मीनान वाली गति मानी जाती है, वहीं, एक मिनट में 100 कदम, मध्यम गति और एक मिनट में 120 कदम, तेज़ गति होती है. अगर आप तेज़ चलने से जल्दी थक जाते हैं, तो ऐसे में ब्रिस्क वॉक सबसे अच्छा है.

हम सभी ने यह सुना है कि बैठे रहना धूम्रपान करने जैसा ही है. पूरे दिन अपने डेस्क पर बैठे रहने का मतलब है, की बीमारियों को आमंत्रित करना. इसलिए, अगर आपका दिन में ज्यादा बैठने का काम है, तो रोज़ाना मध्यम-तीव्रता से चलें, जिसस आपको कई बीमारियों को रोकने में मदद मिलेगी.

अगर आप चलने में बोरिंग महसूस कर रहे हैं तो आजामए ये टिप्स:
 अपने पालतू कुत्ते (Pet Dog) को घुमाने के लिए ले जाएं. अगर आपके पास नहीं है, तो किसी दोस्त के डॉग को घुमा लें. चलते वक्त गाने सुनें, इससे आप उस समय को एंजॉय (Enjoy) करेंगे. किसी साथी को भी चुन लें, जैसे परिवार में कोई व्यक्ति या फिर दोस्त. फोन पर बात करते समय चलें, इससे आपके दो काम हो जाएंगे.

और पढ़ें