धर्मशाला अय्यर की अर्धशतकीय पारी से भारत ने श्रीलंका को सात विकेट से हराकर मैच और श्रृंखला जीती

अय्यर की अर्धशतकीय पारी से भारत ने श्रीलंका को सात विकेट से हराकर मैच और श्रृंखला जीती

अय्यर की अर्धशतकीय पारी से भारत ने श्रीलंका को सात विकेट से हराकर मैच और श्रृंखला जीती

धर्मशाला: श्रेयस अय्यर की 44 गेंदों में नाबाद 74 रन की शानदार पारी के दम पर भारत ने दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में शनिवार को यहां श्रीलंका को सात विकेट से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली.इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने पिछले साल श्रीलंका में टी20 श्रृंखला में मिली हार का बदला भी चुकता कर लिया. भारतीय टीम की यह टी20 अंतरराष्ट्रीय में यह लगातार 11वीं जीत है. टीम ने इस दौरान न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज को घरेलू सरजमीं पर तीन मैचों की श्रृंखला में 3-0 से मात दी है.

श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 183 रन बनाये लेकिन सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा (एक रन) और इशान किशन (16 रन) के सस्ते में आउट होने बाद भी भारतीय टीम ने 17.1 ओवर में आसानी से तीन विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया. मैन ऑफ द मैच श्रेयस को संजू सैमसन और रविन्द्र जडेजा का अच्छा साथ मिला. उन्होंने तीसरे विकेट के लिए सैमसन के साथ 84 रन की साझेदारी की. सैमसन ने 25 गेंद की पारी में दो चौके और तीन छक्के की मदद से 39 रन बनाए.

अय्यर और जडेजा ने 58 रन की ताबड़तोड़ अटूट साझेदारी की जिसमें जडेजा ने 18 गेंद में नाबाद 45 रन बनाये. उन्होंने इस दौरान सात चौके और एक छक्का लगाया.बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को दुश्मांता चमीरा (39 रन पर एक विकेट) ने पहले ही ओवर में कप्तान रोहित शर्मा  को आउट कर बड़ा झटका दिया. पिछले मैच में आक्रामक अर्धशतक लगाने वाले इशान किशन क्रीज पर सहज नहीं दिखे. मैच के चौथे ओवर में लाहिरु कुमारा (31 रन पर दो विकेट) की बाउंसर इशान के सिर पर लगी जिसके बाद फिजियो को मैदान पर आना पड़ा. लाहिरु के अगले ओवर में इशान मिड ऑन पर शनाका को आसान कैच थमा बैठे.

इस बीच श्रेयस ने बिनुरा फर्नांडो के खिलाफ पांचवें ओवर में लगातार तीन चौके जड़कर अपनी पारी को वहीं से आगे बढ़ता जहां पिछले मैच में उन्होंने छोड़ा था.पावर प्ले में भारत का स्कोर दो विकेट पर 46 रन था.पिछले मैच में नाबाद अर्धशतक लगाने वाले श्रेयस का साथ देने के लिए संजू सैमसन मौजूद थे. सैमसन जहां संभल कर बल्लेबाजी कर रहे थे वही श्रेयस ने नौंवें ओवर में बायें हाथ के गेंदबाज प्रवीण जयविक्रमा के खिलाफ लगातार दो छक्के लगाये.

उन्होंने 11वें ओवर में चमिका करूणारत्ने के खिलाफ छक्का लगाकर लगातार दूसरा अर्धशतक पूरा किया जबकि 12वें ओवर में शनाका के खिलाफ उनके छक्के के कारण टीम के रनों का शतक पूरा हुआ. पिछले चार पारियों में श्रेयस की यह तीसरी अर्धशतकीय पारी है.अब तक संभल कर बल्लेबाजी कर रहे सैमसन ने 13वें ओवर में लाहिरु के खिलाफ चौका और फिर तीन शानदार छक्के जड़कर अपने हाथ खोले लेकिन ओवर की आखिरी गेंद पर बिनुरा फर्नांडो ने स्लिम में शानदार कैच लपकर कर 25 गेंद में 39 रन की उनकी पारी को खत्म किया. सैमसन ने श्रेयस के साथ तीसरे विकेट के लिए शानदार साझेदारी कर मैच में भारत की वापसी करायी.

जडेजा ने इसके बाद क्रीज पर कदम रखते ही श्रीलंकाई गेंदबाजों के खिलाफ बेहद आक्रामक रुख अख्तियार कर मैच को आराम से भारत के नाम कर दिया.इससे पहले सलामी बल्लेबाज पथुम निसंका की 53 गेंद में 75 रन की शानदार पारी के दम पर श्रीलंका ने बड़ा स्कोर खड़ा किया. निसंका ने अपनी पारी के दौरान 11 चौके लगाने के साथ पहले विकेट के लिए धनुष्का गुणतिलका (38) के साथ 67 और कप्तान शनाका के साथ पांचवें विकेट के लिए आक्रामक 58 रन की साझेदारी की. शनाका ने आखिरी ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए महज 19 गेंद की पारी में दो चौके और पांच छक्के की मदद से नाबाद 47 रन बनाये.

श्रीलंका के बल्लेबाजों आखिरी चार ओवरों में 72 रन बटोरे.टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला करने के बाद भारत के तेज गेंदबाजों ने शुरुआती चार ओवरों को श्रीलंका के बल्लेबाजों को रन बनाने का ज्यादा मौका नहीं दिया.पांचवें ओवर में गेंदबाजी के लिए आये हर्षल पटेल (52 रन पर एक विकेट) के खिलाफ सलामी बल्लेबाज  निसंका और गुणतिलका ने चौका लगाकर रन गति तेज करने की कोशिश की. लेकिन पावर प्ले के छह ओवर के बाद टीम बिना किसी नुकसान के 32 रन ही बना सकी थी.

गुणतिलका ने नौवें ओवर में जडेजा (37 रन पर एक विकेट) की शुरुआती तीन गेंदों में दो छक्के और एक चौका लगाकर अपना आक्रामक रवैया दिखाया लेकिन ओवर की चौथी गेंद पर जडेजा ने उन्हें फंसा लिया और लांग ऑन पर वेंकटेश अय्यर ने डाइव लगाकर शानदार कैच पकड़ा. गुणतिलाका ने 29 गेंद में 38 रन बनाने.
इसके बाद अगले दो ओवरों में युजवेन्द्र चहल (27 रन पर एक विकेट) ने चरिथ असलंका (दो) और हर्षल ने कामिल मिशारा (एक) का विकेट चटकाकर 11 ओवर में श्रीलंका का स्कोर तीन विकेट पर 76 रन कर दिया.

एक छोर से विकेटो के पतन का निसंका पर कोई असर नहीं हुआ और उन्होंने 13वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार (36 रन पर एक विकेट) के खिलाफ दो चौके जड़े. अनुभवी दिनेश चांदीमल (नौ) ने जसप्रीत बुमराह (24 रन पर एक विकेट) के खिलाफ शानदार स्ट्रेट ड्राइव कर चौका लगाया लेकिन अगली ही गेंद पर एक्स्ट्रा कवर में कप्तान रोहित शर्मा को कैच थमा दिया. निसंका ने 16वें ओवर में चहल के खिलाफ चौका जड़कर टी20 अंतरराष्ट्रीय में अपना पांचवां अर्धशतक पूरा किया. दासून शनाका ने इसके बाद क्रीज पर कदम रखते ही बड़े शॉट खेलने शुरू कर दिये. उन्होंने हर्षल के खिलाफ आक्रामक रूख अख्तियार करते हुए उनके 17वें और 20वें ओवर में दो-दो छक्के जड़े. भुवनेश्वर ने इससे पहले 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर निसंका को पगबाधा कर उनकी शानदार पारी का अंत किया. (भाषा) 

और पढ़ें