भुवनेश्वर भगवान जगन्नाथ की 34,000 एकड़ भूमि बेचने का दावा गलत: मंदिर प्रशासन

भगवान जगन्नाथ की 34,000 एकड़ भूमि बेचने का दावा गलत: मंदिर प्रशासन

भगवान जगन्नाथ की 34,000 एकड़ भूमि बेचने का दावा गलत: मंदिर प्रशासन

भुवनेश्वरः भारतीय जनता पार्टी ने ओडिशा सरकार के उस निर्णय की निंदा की है जिसके तहत राज्य के भीतर और बाहर भगवान जगन्नाथ की 34,000 एकड़ भूमि को बेचा जा रहा है. हालांकि श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन ने इस आरोप का खंडन किया है और आरोपो को बेफिजूल करार दिया है. 

विधानसभा में उठा था मुद्दा

भाजपा के नेता प्रतिपक्ष पी के नायक ने कहा है कि कानून मंत्री प्रताप जेना ने 16 मार्च को विधानसभा में बताया था कि बीजद सरकार ने भगवान जगन्नाथ के स्वामित्व वाली 34,000 एकड़ भूमि को बेचने का निर्णय लिया है. 

मंदिर प्रशासन ने कही ये बात

मंदिर प्रशासन के मुख्य प्रशासक कृष्ण कुमार ने स्पष्ट किया है कि जो भूमि लंबे समय से कई लोगों के अवैध कब्जे में है, उन विवादों का मंदिर प्रशासन द्वारा समाधान किया जा रहा है और यह दो दशक पहले बनाई गई नीति के तहत किया जा रहा है ताकि भगवान जगन्नाथ की भूमि सुरक्षित रह सके. 

और पढ़ें