New Year 2021: इस बार नए साल का जश्न रहेगा फीका, रात्रिकालीन कर्फ्यू की होगी कड़ाई से पालना 

New Year 2021: इस बार नए साल का जश्न रहेगा फीका, रात्रिकालीन कर्फ्यू की होगी कड़ाई से पालना 

New Year 2021: इस बार नए साल का जश्न रहेगा फीका, रात्रिकालीन कर्फ्यू की होगी कड़ाई से पालना 

जयपुर: कोरोना संकट के चलते इस बार न्यू ईयर सेलिब्रेशन फीका  नजर आएगा. प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार ने नए साल को लेकर होने वाले तमाम कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है. साथ ही रात्रिकालीन कर्फ्यू की कड़ाई से पालना कराने के निर्देश जारी किए है. सरकार के आदेशों की पालना को लेकर पुलिस -प्रशासन भी सख्त हो गया है.

न्यू ईयर सेलिब्रेशन के तमाम कार्यक्रमों पर रोक:
नए साल का जश्न इस बार आपको जेल की सलाखों के पीछे पहुॅचा सकता है. जी हां ,प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर राज्य सरकार ने प्रदेशभर में न्यू ईयर सेलिब्रेशन के तमाम कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है. होटल , गेस्ट हाउस या फार्म हाउसों में नए साल के कार्यक्रमों पर पूरी तरह से रोक रहेगी. रात्रिकालीन कर्फ्यू को लेकर पुलिस और सख्ती बरतेगी.रात 8 बजे बाद सड़कों पर बिना अनुमति घूमने या जश्न मनाने वालों के खिलाफ भी एपिडेमिक एक्ट के तहत सख्त कार्रवाई होगी.

कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई:
सार्वजनिक स्थानों पर नए साल का जश्न मनाने , शराब पीकर उत्पात मचाने और कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए राजधानी जयपुर में पुलिस का अतिरिक्त जाप्ता तैनात किया गया है. आम दिनों में शहर में 30 पाइंट्स पर हो रही नाकाबंदी को भी बढ़ाया जाएगा. 31 दिसंबर को शहर के 90 चिन्हित पाइंट्स पर नाकाबंदी कर वाहनों और लोगों की जांच की जाएगी.सरकारी गाइडलाइन या यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी. वहीं पुलिस टीमें शहर का दौरा कर होटल , गेस्ट हाउस या क्लबों की सघन जांच करेगी और चोरी छिपे कार्यक्रम आयोजित करने पर कार्रवाई करेगी.

सरकारी गाइडलाइन का उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई:
कोरोना संकट की रोकथाम में जुटी राज्य सरकार के सख्त निर्देशों का असर राजधानी में अभी से नजर आ रहा है.न्यू ईयर सेलिब्रेशन को लेकर पुलिस ने शहर में जहां कानून व्यवस्था की पालना कराने के माकूल इंतजाम किए है.तो वहीं दूसरी ओर सरकारी गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्ती से निपटने की तैयारी भी कर ली है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए सत्यनारायण शर्मा की रिपोर्ट

और पढ़ें