Rajasthan: महिला की हत्या से गुस्साए ग्रामीण धरने पर बैठे, अंत्येष्टि से किया इंकार

Rajasthan: महिला की हत्या से गुस्साए ग्रामीण धरने पर बैठे, अंत्येष्टि से किया इंकार

जयपुर: राजस्थान के जयपुर जिले के जमवारामगढ़ इलाके में महिला की हत्या के मामले में बुधवार को परिजन व ग्रामीण धरने पर बैठे गए. ये लोग आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने, मुआवजा व परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग कर रहे हैं.

मंगलवार को अज्ञात बदमाशों ने 55 वर्षीय महिला की धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी और उसके दोनों पैरों के पंजे काटकर चांदी के आभूषण चुरा ले गये थे. गीता देवी खतेहपुरा गांव में जंगल में पशुओं को चराने गई थी. वृत्त अधिकारी लखन मीणा ने कहा कि ग्रामीण खतेहपुरा गांव में घटनास्थल पर धरने पर बैठे हैं. ग्रामीण शव को वहां से हटाने नहीं दे रहे हैं.

ग्रामीणों व परिजनों को भी समझाने का प्रयास किया जा रहा:
अधिकारी ने कहा कि उनकी मांगों में आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी, मुआवजा व परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी शामिल है. आरोपियों की पहचान व गिरफ्तारी के लिए कई टीमें बनाई गई हैं. उन्होंने कहा कि ग्रामीणों व परिजनों को भी समझाने का प्रयास किया जा रहा है.

किरोड़ीलाल मीणा ने इस मुद्दे को लेकर एक बार फिर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा:
इस बीच, भाजपा के राज्यसभा सदस्य किरोड़ीलाल मीणा ने इस मुद्दे को लेकर एक बार फिर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को संबोधित करते हुए ट्वीट किया कि आपको महिलाएं उत्तर प्रदेश में ही असुरक्षित लग रही हैं. शर्मनाक तथ्य यह है कि देशभर में महिला अपराध में राजस्थान अव्वल है. मीणा ने आरोप लगाया कि राज्य के मुखिया महिला सुरक्षा को नजरंदाज कर केवल आपके यशोगान में व्यस्त हैं.

और पढ़ें