जयपुर Jaipur: रियल एस्टेट मार्केट के बेताज बादशाह हाउसिंग बोर्ड ने बनाया एक और नया रिकॉर्ड! मानसरोवहर में बिका 488 करोड़ रुपए का भूखंड

Jaipur: रियल एस्टेट मार्केट के बेताज बादशाह हाउसिंग बोर्ड ने बनाया एक और नया रिकॉर्ड! मानसरोवहर में बिका 488 करोड़ रुपए का भूखंड

जयपुर: रियल एस्टेट मार्केट (Real Estate Market) के बेताज बादशाह हाउसिंग बोर्ड (Housing Board) ने अब एक ऐसा रिकॉर्ड बना दिया है जिसकी पूरे देश में चर्चा हो रही है. हाउसिंग बोर्ड में बुधवार को किसी भी सरकारी विभाग और संस्थान का सबसे बड़ा ई ऑक्शन कर कर नया रिकॉर्ड बना दिया है. मानसरोवर में 45 हजार 632 वर्ग मीटर का है यह भूखण्ड रिकॉर्ड 488 करोड़ रुपये में बिका है. 

3 साल पहले जहां हाउसिंग बोर्ड  के पास अपने कार्मिकों को सैलरी देने के पैसे नहीं थे और बोर्ड को बंद करने तक की संभावनाओं पर सरकार विचार कर रही थी. हाउसिंग बोर्ड में आज रियल एस्टेट मार्केट में ऐसी धाक जमा दी है जिसके आसपास भी पहुंचना किसी के लिए संभव नहीं दिख रहा. अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने हाउसिंग बोर्ड को पुनर्जीवित करने की मंशा के साथ आईएएस पवन अरोड़ा (Housing Board Commissioner Pawan Arora) को हाउसिंग बोर्ड की जिम्मेदारी सौंपी थी. 

पवन अरोड़ा  बीते 3 साल में चार विश्व रिकॉर्ड बना चुके: 
UDH मंत्री शांति धारीवाल के मार्गदर्शन और सहयोग से कमिश्नर पवन अरोड़ा  मुख्यमंत्री की उम्मीदों पर पूरी तरह से खरे उतरे हैं. बीते 3 साल में चार विश्व रिकॉर्ड बना चुके हाउसिंग बोर्ड में आज मानसरोवर में एक ई ऑक्शन से  एक नया कीर्तिमान स्थापित कर दिया है. हाउसिंग बोर्ड ने प्रदेश में किसी भी विभाग और सरकारी संस्थान के मुकाबले अब तक का सबसे बड़ा ई ऑक्शन किया है. मानसरोवर के VT रोड पर 45625 वर्ग मीटर के इस भूखंड को रिकॉर्ड 488 करोड़ में बेचा है. इस भूखंड को खरीदने के लिए देश की दो नामी कंपनियों में इस कदर प्रतिस्पर्धा हुई कि बोर्ड को न्यूनतम मूल्य 408 करोड़ के मुकाबले 488 करोड रुपए का रिकॉर्ड राजस्व मिला है. यह भूखण्ड 1 लाख 7 हजार रुपये प्रति वर्ग मीटर में बिका है. 

एक ही दिन में 511 करोड रुपए के ऑप्शन करके एक औऱ नया रिकॉर्ड बनाया:
हाउसिंग बोर्ड ने बुधवार को एक ही दिन में 511 करोड रुपए के ऑप्शन करके एक औऱ नया रिकॉर्ड बनाया है. इस भूखण्ड को पैसेफिक मॉल कंपनी ने खरीदा है जिसके देश में पहले से दिल्ली मुंबई लखनऊ गाजियाबाद समेत कई शहरों में शानदार मॉल संचालित हो रहे हैं. हाउसिंग बोर्ड की इस शानदार कामयाबी के लिए यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल, मुख्य सचिव उषा शर्मा और प्रमुख सचिव UDH  कुंजीलाल मीणा ने फोन कर के बधाई है. 

मॉल आने वाले दिनों में मानसरोवर के विकास में एक मील का पत्थर साबित होगा:
जिस भूखंड की रिकॉर्ड नीलामी बुधवार को हाउसिंग बोर्ड ने की है इस भूखंड पर बनने वाला मॉल आने वाले दिनों में मानसरोवर के विकास में एक मील का पत्थर साबित होगा. क्योंकि हाउसिंग बोर्ड को यूं तो एशिया की सबसे बड़ी कॉलोनी कहा जाता है लेकिन अभी तक मानसरोवर में कोई बड़ा मॉल या मल्टीप्लेक्स नहीं था जिस कारण यहां के लोगों को अच्छी खरीदारी और मूवी देखने के लिए कई किलोमीटर दूर तक जाना पड़ता था. हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने मानसरोवर के लोगों की इस परेशानी को समझा और उसके बाद ही उन्होंने. मानसरोवर के वी.टी. रोड और अरावली मार्ग की प्राइम लोकेशन पर वाणिज्यिक भूखण्ड संख्या-21 के ई-ऑक्शन की भूमिका तैयार की.

पूरे देश में इस भूखण्ड कर प्रचार-प्रसार की रणनीति बनाई:
कमिश्नर पवन अरोडा ने पूरे देश में इस भूखण्ड कर प्रचार-प्रसार की रणनीति बनाई इसका असर यह हुआ कि देश की कई प्रतिष्ठित कंपनियों ने इस भूखंड के ऑक्शन में हिस्सा लिया. इस भूखंड के पास नहीं हाउसिंग बोर्ड सिटी पार्क और फाउंटेन स्क्वायर जैसे दो विश्व स्तरीय प्रोजेक्ट भी तैयार कर रहा है इसका फायदा भी हाउसिंग बोर्ड को मिला है. हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने इस कामयाबी के लिए हाउसिंग बोर्ड के पूरे स्टाफ को बधाई दी है. उन्होंने कहा है कि टीम वर्क और सभी के प्रयासों से हाउसिंग बोर्ड को यह कामयाबी मिली है.

लोगों के लिए आने वाले दिन होंगे बहुत खास: 
हाउसिंग बोर्ड ने बुधवार को प्रदेश का सबसे बड़ा ई ऑक्शन कर के एक ऐसी लकीर खींच दी है जिसके आगे निकलना किसी भी विभाग या सरकारी संस्थान के लिए आसान नहीं होगा. इस रिकॉर्ड नीलामी के बाद मानसरोवर और आसपास के इलाके के लोगों के लिए आने वाले दिन बहुत खास होने वाले हैं. 

और पढ़ें