PM मोदी के संबोधन से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बोला केंद्र सरकार पर हमला, कहा - इस प्रकार की असत्य खबरें फैलायी गई हैं कि...

PM मोदी के संबोधन से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बोला केंद्र सरकार पर हमला, कहा - इस प्रकार की असत्य खबरें फैलायी गई हैं कि...

PM मोदी के संबोधन से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बोला केंद्र सरकार पर हमला, कहा - इस प्रकार की असत्य खबरें फैलायी गई हैं कि...

जयपुर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Pm narendra modi) आज सोमवार की शाम पांच बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे. मोदी के संबोधन से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने ट्वीट कर केंद्र सरकार पर हमला बोला है. 

मुख्यमंत्री गहलोत ने सोमवार को ट्वीट करते हुए लिखा कि इस प्रकार की असत्य खबरें फैलायी गई हैं कि 18 से 44 आयुवर्ग को वैक्सीन राज्यों द्वारा खरीदकर लगाने दी जाए. केन्द्र सरकार ने इस आयुवर्ग के वैक्सीनेशन के संबंध में राज्य से कोई चर्चा नहीं की एवं अपने स्तर पर फैसला किया. 

उन्होंने कहा कि मेरा आज भी यह मानना है कि केन्द्र सरकार को फ्री यूनिवर्सल वैक्सीनेशन का ऐलान करना चाहिए. अन्य वैक्सीनेशन ड्राइव की तरह ही केन्द्र सरकार वैक्सीन खरीदकर राज्यों को सप्लाई करें जिससे वहां जल्द से जल्द वैक्सीन उपलब्ध हो सके, युवाओं को जल्द से जल्द वैक्सीन लगाकर तीसरी लहर को रोका जा सके. 

पीएम महामारी फैलने के बाद से कई बार देश को संबोधित कर चुके:  
आपको बता दें कि पीएम मोदी (Pm modi) आज शाम पांच बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी. प्रधानमंत्री पिछले वर्ष कोविड-19 (Covid-19) वैश्विक महामारी फैलने के बाद से कई बार देश को संबोधित कर चुके हैं. इस दौरान उन्होंने लोगों को सुझाव दिए तथा हालात के निपटने के लिए उनकी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी है. अपने संबोधनों में प्रधानमंत्री ने कई बार नई घोषणाएं भी की हैं. 

पीएम मोदी का संबोधन कोरोना वायरस और टीकाकरण अभियान को लेकर संभव:
हालांकि इस बार पीएम मोदी किस मुद्दे पर अपनी बात देश से साझा करेंगे, इसकी अभी कोई सटीक जानकारी सामने नहीं आई है. लेकिन माना जा रहा है कि पीएम मोदी का संबोधन कोरोना वायरस और टीकाकरण अभियान को लेकर हो सकता है. बताया जा रहा है कि पीएम मोदी कोरोना के संकट काल में कमजोर पड़ रही अर्थव्यवस्था को ध्यान में रखते हुए कोई बड़ा एलान कर सकते हैं. 

पीएम मोदी अनलॉक 2.0 को लेकर बात कर सकते हैं:
इसके अलावा पीएम मोदी अनलॉक 2.0 को लेकर बात कर सकते हैं. कोरोना की दूसरी लहर के धीमी होने के बाद कई राज्यों ने अपने यहां लागू पाबंदियों में ढील देनी शुरू कर दी है. दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, राजस्थान समेत कई राज्यों ने अपने यहां अनलॉक प्रक्रिया शुरू कर दी है. ऐसे में पीएम मोदी अपने संबोधन में अनलॉकिंग की इस प्रक्रिया पर संवाद कर सकते हैं और लोगों से सावधानी बरतने की अपील कर सकते हैं. 

ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करने के लिए एक रोडमैप संभव:
गौरतलब है कि कांग्रेस समेत पूरा विपक्ष देश में टीकाकरण अभियान की धीमी गति को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साध रहा है. ऐसे में आज राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम मोदी ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करने के लिए एक रोडमैप दे सकते हैं और राज्यों को वैक्सीन बांटने पर अपनी बात रख सकते हैं. केंद्र सरकार ने दिसंबर तक पूरे देश का टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा है.
 

और पढ़ें