जयपुर सदन में उठा महिलाओं पर अत्याचार का मामला, दिलावर बोले- सरकार ने पुलिस को दे रखी है पूरी छूट

सदन में उठा महिलाओं पर अत्याचार का मामला, दिलावर बोले- सरकार ने पुलिस को दे रखी है पूरी छूट

सदन में उठा महिलाओं पर अत्याचार का मामला, दिलावर बोले- सरकार ने पुलिस को  दे रखी है पूरी छूट

जयपुर: विधानसभा में गुरुवार को प्रदेश में आए दिन हो रही महिला अत्याचार की घटनाओं का मामला उठा. भाजपा विधायक मदन दिलावर ने स्थगन के जरिए कहा कि सरकार ने पुलिस को महिलाओं की इज्जत लूटने की पूरी छूट दे रखी है. पुलिसकर्मियों में होड़ सी मची हुई है कि कौन कितनी बहादुरी से महिलाओं की इज्जत लूटता है.

उन्होंने कहा कि सरकार में इतनी हिम्मत नहीं है कि वो पुलिसकर्मियों की तरफ नजर भी टेढ़ी कर सके. अलवर, जयपुर में इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं. 2019 थानागाजी में गैंगरेप की घटना को पुलिस ने दबा लिया था, बाद में गैंगरेप का वीडिया वायरल हुआ. जयपुर में एसीपी ने एक महिला की अस्मत मांग ली. इन घटनाओं से साफ है कि सरकार महिला अपराधों को गंभीरता से नहीं लेती है.

दुष्कर्मी के साथ थानाधिकारी की फोटो- पूनिया
विधायक सुभाष पूनिया ने अपराधियों के साथ पुलिस की मिलीभगत का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि झुंझुनूं में एक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म के बाद न्यायालय ने 17 दिन में उसे फांसी दे दी. मगर मेरे विधानसभा क्षेत्र में एक दलित से दुष्कर्म किया. पहले तो थानाधिकारी ने एफआईआर दर्ज नहीं की. इसके बाद दबाव पड़ा तो एफआईआर दर्ज की गई और आरोपी को गिरफ्तार किया गया. पूनिया ने एक पोस्टर बताया जिसमें थानाधिकारी की आरोपी के साथ फोटो है. उन्होंने मांग की कि ऐसे अधिकारियों पर कार्रवाई होनी चाहिए.

और पढ़ें