Jaipur Jaipur: वाइल्ड एनिमल्स एक्सचेंज कार्यक्रम के तहत नाहरगढ़ टाइगर सफारी के लिए मध्यप्रदेश से मिली बाघ लाने की अनुमति

Jaipur: वाइल्ड एनिमल्स एक्सचेंज कार्यक्रम के तहत नाहरगढ़ टाइगर सफारी के लिए मध्यप्रदेश से मिली बाघ लाने की अनुमति

Jaipur: वाइल्ड एनिमल्स एक्सचेंज कार्यक्रम के तहत नाहरगढ़ टाइगर सफारी के लिए मध्यप्रदेश से मिली बाघ लाने की अनुमति

जयपुर: 'सिटी ऑफ बिग कैट्स' की राह पर तेजी से आगे बढ़ रहे जिले में अब जल्द ही टाइगर सफारी भी शुरू की जाएगी. नाहरगढ़ टाइगर सफारी के लिए सेंट्रल ज़ू अथॉरिटी ने मध्यप्रदेश से बाघ लाने की अनुमति दे दी है. वाइल्ड एनिमल्स एक्सचेंज कार्यक्रम के तहत वन विभाग की टीम ग्वालियर के गांधी जूलॉजिकल पार्क से एक बाघ लेने जाएगी. इसके बदले में नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क से एक जोड़ा इंडियन वुल्फ और इंडियन फॉक्स का भेजा जाएगा और एक पैंथर भी ग्वालियर जाएगा. 

फिलहाल नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में पांच बाघ, बाघिन हैं. इनमें उम्रदराज हो चली करीब 18 वर्ष की बाघिन रंभा, महक और 17 वर्ष का बाघ नाहर भी शामिल है. ये तीनों की फिलहाल स्वस्थ हैं. लेकिन बाघों की औसत आयु पार कर चुके हैं और जीवन के अंतिम पड़ाव पर हैं. नाहरगढ़ में एक जोड़ा 6 साल का बाघ चीनू और 4 साल की बाघिन रानी भी है. इन दोनों की ब्रीडिंग के प्रयास किए जा रहे हैं लेकिन सफलता नहीं मिली है. बहरहाल ग्वालियर से आने वाला बाघ अब यहां बाघों की संख्या बढ़ाएगा.

और पढ़ें