जयपुर आखिर मान गए गुढ़ा ! शपथ लेने के 21 दिन बाद संभाला विभाग, शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद पहुंचे सचिवालय

आखिर मान गए गुढ़ा ! शपथ लेने के 21 दिन बाद संभाला विभाग, शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद पहुंचे सचिवालय

जयपुर: शपथ लेने के 21 दिन बाद आखिरकार मंत्री राजेन्द्र गुढ़ा ने मंत्रालयिक भवन पहुंचकर कार्यभार संभाल लिया है. इस दौरान उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता धर्मेन्द्र राठौड़ भी मौजूद रहे. राजेन्द्र गुढ़ा शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद सचिवालय पहुंचे. आज फिर वरिष्ठ कांग्रेस नेता धर्मेंद्र राठौड़ की अहम भूमिका रही. मुख्यमंत्री गहलोत के कहने पर राठौड़ ने गुढ़ा को मनाया. इससे पहले राठौड़ ने ही गुढ़ा को सरकारी वाहन में बैठाया था. अब अस्पताल रोड पर बंगला भी आवंटित कर दिया है. 

बसपा से कांग्रेस में आए 6 में से एक मात्र विधायक गुढ़ा को मंत्री बनाया गया है. इससे पहले वो अपने साथियों को एडजस्ट नहीं किए जाने से नाराज बताए जा रहे थे. इसी के चलते 20 नवंबर को शपथग्रहण के बाद से गुढ़ा ने पदभार नहीं संभाला था और सरकारी गाड़ी नहीं ली थी. लेकिन आज सीएम गहलोत के खास सिपहसालार धर्मेन्द्र राठौड़ की समझाइश के बाद गुढ़ा ने पूजा-पाठ के साथ पदभार संभाल लिया है. 

13 वीर सपूतों को श्रद्धांजलि देने के बाद पदभार संभाल रहा हूं:
अब पदभार संभालने के बाद राजेन्द्र गुढ़ा ने कहा कि आज शहादत का दिन है. 13 वीर सपूतों को श्रद्धांजलि देने के बाद पदभार संभाल रहा हूं. वहीं धर्मेंद्र राठौड़ पर बोलते हुए कहा कि उनका ससुराल हमारे गांव में हैं. अपने साथियों पर बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत ने उनको सम्मान देने का आश्वासन दिया है. विवादित बयान पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि मैं धरातल से जुड़ा हुआ हूं, सुंदरता की प्रशंसा तो की जा सकती है.  

और पढ़ें