जयपुर राजस्थान पर्यटन देश-दुनिया में पेश कर रहा मिसाल, आउटस्टैंडिंग परफॉर्मेंस के आधार पर प्रथम मिला प्रथम स्थान

राजस्थान पर्यटन देश-दुनिया में पेश कर रहा मिसाल, आउटस्टैंडिंग परफॉर्मेंस के आधार पर प्रथम मिला प्रथम स्थान

जयपुर: पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार (Ministry of Tourism, Government of India) द्वारा उत्सव पोर्टल पर जारी सूची में राजस्थान को सर्वश्रेष्ठ राज्य (Rajasthan selected as the best state on Utsav Portal) चुना गया है. पर्यटन स्थलों को वैश्विक पटल पर लाने और पर्यटकों की मदद के लिए उत्सव पोर्टल का शुभारंभ किया है. 

राजस्थान को आउटस्टैंडिंग परफॉर्मेंस के आधार पर प्रथम स्थान मिला है. राजस्थान ने सर्वाधिक 22 मेलों और उत्सवों से संबंधित समस्त सूचनाओं को उत्सव पोर्टल वेबसाइट पर अपलोड किया है. देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने इसमें हिस्सा लिया. 

पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने प्रदेश की अव्वल रैंकिंग पर खुशी जताते हुए कहा कि राजस्थान पर्यटन देश-दुनिया में मिसाल पेश कर रहा है. राजस्थान को पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार की और से जारी सूची में सर्वश्रेष्ठ राज्य चुना जाना प्रदेशवासियों और राजस्थान पर्यटन के लिए गर्व की बात है. पर्यटन को बढ़ावा देना राज्य सरकार की प्राथमिकता है. राज्य सरकार पर्यटकों के लिए जरूरी सुविधाओं विकसित कर रही है. 

राजस्थान अपने समृद्ध सांस्कृतिक, ऐतिहासिक विरासत, धार्मिक स्थलों, प्रसिद्ध मंदिरों, प्राचीन दुर्गों, महलों, स्वादिष्ट व्यंजन और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए देश दुनिया में जाना जाता है. राजस्थान में श्री गोविंद देवजी और मोती डूंगरी गणेश मंदिर (जयपुर) जैसे कई धार्मिक स्थलों के लाइव दर्शन लिंक के अलावा पुष्कर मेला (अजमेर), मेवाड़ उत्सव (उदयपुर), तीज उत्सव (जयपुर), कुंभलगढ़ उत्सव (राजसमंद), ब्रज होली महोत्सव (भरतपुर), गण्गौर उत्सव (जयपुर), मरू महोत्सव (जैसलमेर) जैसे कई मेलों और उत्सवों की सूचना पोर्टल पर दर्ज की गई है. उत्सव पोर्टल पर जारी सूची में राजस्थान को प्रथम स्थान मिला है. 

केरला को दूसरा, उत्तर प्रदेश को तीसरा स्थान मिला:
इसी प्रकार जारी सूची में केरला को दूसरा, उत्तर प्रदेश को तीसरा व अंडमान और निकोबार को चौथा स्थान मिला है. उल्लेखनीय है कि उत्सव पोर्टल वेबसाइट एक डिजिटल पहल है. इसे पर्यटन मंत्रालय, केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के समय वर्ष 2021 में शुरू किया था.  इसका उद्देश्य देश के विभिन्न राज्यों के प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों को देश-दुनिया में लोकप्रिय बनाने, मेलों, त्योहारों और प्रमुख मंदिरों में होने वाली पूजा-अर्चना, आरती, का लाइव प्रसारण करना है, ताकि लोग घर बैठे इनका आनंद उठा सकें. साथ ही उन्हें आगामी यात्रा कार्यक्रम को बनाने में आसानी हो. 

उत्सव पोर्टल पर पर्यटन संबंधित संपूर्ण जानकारी आसानी से उपलब्ध हो रही:
उत्सव पोर्टल पर पर्यटन संबंधित संपूर्ण जानकारी आसानी से उपलब्ध हो रही है. पोर्टल पर आधिकारिक सोशल मीडिया लिंक, आधिकारिक वेबसाइटें, विवरणिका और आयोजन समिति के संपर्क विवरण और हवाई, रेल और सड़क मार्ग से आसानी से गंतव्य तक पहुंचने की जानकारी प्रदान की जा रही है. इससे पर्यटकों को पर्यटन स्थलों तक पहुंचने की योजना बनाने में सहायता मिल रही है. वेबसाइट पर 28 राज्यों और 9 केंद्र शासित प्रदेशों के विभिन्न धार्मिक  मंदिरों पूजा-आरती, पर्यटन स्थलों, कार्यक्रमों, मेलों और उत्सवों के लाइव दर्शन की जानकारी दी गई है. पर्यटकों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए वेबसाइट को लगातार अपडेट किया जा रहा है. पर्यटन क्षेत्र में आने वाले सभी मेलों और उत्सवों से संबंधित नई जानकारी तेजी से वेबसाइट पर अपडेट की जा रही है.

और पढ़ें