जयपुर ताजमहल को लेकर चल रहे विवाद में जयपुर राजघराना आया सामने, दीया कुमारी ने कहा- जमीन के दस्तावेज हमारे पास

ताजमहल को लेकर चल रहे विवाद में जयपुर राजघराना आया सामने, दीया कुमारी ने कहा- जमीन के दस्तावेज हमारे पास

जयपुर: वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद-काशी विश्वनाथ मंदिर विवाद के बीच अब आगरा (Agra)का ताजमहल (tajmahal) भी चर्चा में है. ताजमहल को लेकर चल रहे विवाद में अब जयपुर राजघराना (Jaipur royal family) सामने आया है. राज परिवार से दीया कुमारी (Diya Kumari) का बड़ा बयान सामने आया है. इस मामले पर दीया कुमारी ने खुलकर अपनी बात रखते हुए कहा कि उस वक्त मुगलों का राज था, लेकिन वह प्रॉपर्टी हमारी थी. यह प्रॉपर्टी हमारी विरासत रहीं थी. इस बात के हमारे पोथी खाने में रिकॉर्ड भी है. दीया कुमारी ने कहा कि ताजमहल के बंद दरवाजे के राज खुलने चाहिए. 

उन्होंने कहा कि जमीन के दस्तावेज हमारे पास है. उसमें यह प्रॉपर्टी जो है वो पैसेल था. शाहजहां ने इस पर कब्जा किया, उस समय सरकार उन्हीं की थी. आज भी अगर कोई गवर्नमेंट एक्वायर करती है तो उसके बदल में मुआवजा देती है, हमने सुना है कि उसके बदले में कुछ मुआवजा दिया. लेकिन उस वक्त कोई लॉ नहीं था कि जो अपील की जा सके. यह जयपुर पूर्व राजपरिवार की जमीन थी. अच्छा है किसी ने आवाज उठाई है और जरूरत पड़ी तो हम डॉक्यूमेंट्स भी मुहैया करवाएंगे. जयपुर पूर्व राजपरिवार की जमीन थी. 

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में ताजमहल को लेकर एक याचिका दायर:
आपको बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में ताजमहल को लेकर एक याचिका दायर की गई, जिसमें कहा गया कि ताजमहल के 22 कमरे खोले जाएं ताकि मालूम चल सके कि उसके भीतर देवी देवताओं की मूर्तियां और शिलालेख हैं या नहीं?  ये पहली बार नहीं है जब ताजमहल को लेकर विवाद खड़ा हुआ है. इसके पहले भी कई बार दावा किया जाता रहा है कि ताजमहल एक मंदिर को तोड़कर बनाया गया है. 

और पढ़ें