दिवाली से पहले चलेगी जयपुर-रींगस ट्रेन, जयपुर जंक्शन पर 2 नए प्लेटफार्म भी मिल सकेंगे

दिवाली से पहले चलेगी जयपुर-रींगस ट्रेन, जयपुर जंक्शन पर 2 नए प्लेटफार्म भी मिल सकेंगे

जयपुर: शहरवासियों को रेलवे स्टेशन पर 2 नए प्लेटफार्म की सौगात मिलने जा रही है. प्लेटफार्म संख्या 6 और 7 अगले 2 सप्ताह में शुरू हो सकते हैं. इसी के साथ ही जयपुर से रींगस-सीकर के लिए भी ट्रेन शुरू कर दी जाएगी. जयपुर रेल मंडल प्रशासन ने रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेज दिया है, जिस पर जल्द मंजूरी मिलने की संभावना है. 

सीकर निवासियों के लिए दिवाली का बड़ा तोहफा:
पिछले 6 माह से अटकी रींगस-सीकर की ट्रेन दिवाली से पहले दौड़ सकती है. ऐसा हुआ तो सीकर निवासियों के लिए दिवाली का बड़ा तोहफा मिलेगा. रेलवे के जयपुर मंडल की डीआरएम मंजूषा जैन ने इसे लेकर तैयारियां पूरी कर ली हैं. इसके साथ ही जयपुर जंक्शन पर यात्रियों को दो नए प्लेटफार्म मिल सकेंगे. जयपुर जंक्शन पर पूर्व में प्लेटफार्म संख्या 6 और 7 मीटरगेज के हुआ करते थे, जिन्हें अब ब्रॉडगेज में कन्वर्ट कर लिया गया है. ये दोनों प्लेटफार्म भी इसी दौरान शुरू कर दिए जाएंगे. प्लेटफार्मों पर फिनिशिंग वर्क तेजी से पूरा किया जा रहा है. वहीं जयपुर से रींगस के बीच नए बनाए गए रेलवे ट्रैक पर दिन और रात्रि का ट्रायल पूरा कर लिया गया है. साथ ही रेलवे संरक्षा आयुक्त द्वारा बताई गई तकनीकी खामियों को पूरा कर लिया गया है. ट्रेन के संचालन की अनुमति के लिए जयपुर रेल मंडल प्रशासन ने रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेज दिया है. ऐसे में माना जा रहा है कि रेलवे बोर्ड 15 अक्टूबर तक ट्रेन संचालन से जुडी अनुमति दे सकता है. जिसके बाद इस रुट पर दो मेल/एक्सप्रेस और एक डीएमयू ट्रेन का संचालन शुरु किया जाएगा. ट्रेन शुरू होने से शेखावाटी से रोजाना जयपुर आने-जाने वाले करीब 5 हजार यात्री लाभान्वित होंगे. 

ये ट्रेनें होंगी संचालित:
- ट्रैक पर ट्रेन संचालन को मंजूरी मिलते ही पहली ट्रेन अरावली एक्सप्रेस चलेगी
- अभी जयपुर से बांद्रा के बीच संचालित होती है यह ट्रेन
- इस ट्रेन का सीकर तक किया जाएगा विस्तार
- रूट पर दूसरी ट्रेन लीलण एक्सप्रेस होगी
- जयपुर से बीकानेर होकर जैसलमेर के लिए चलती है यह ट्रेन
- अब सीकर होकर प्रॉपर रूट से संचालित होगी लीलण एक्सप्रेस
- तीसरी ट्रेन जयपुर-सीकर के बीच डीएमयू चलाई जाएगी
- तीनों ट्रेनें रोजाना चलेंगी, रेलवे प्रशासन जल्द जारी करेगा शेड्यूल

खास बात यह है कि जयपुर से सीकर के लिए ब्रॉडगेज रूट शुरू होने पर जयपुर से दिल्ली के बीच एक और वैकल्पिक रूट मिल सकेगा. अभी जयपुर-दिल्ली के लिए वाया बांदीकुई-अलवर रूट उपलब्ध है. लेकिन जयपुर-सीकर लाइन शुरु होने के बाद जयपुर से दिल्ली के लिए एक नया वैकल्पिक रूट मिल जाएगा. आगामी समय में दिल्ली के लिए ढेहर का बालाजी-नीम का थाना-रींगस-रेवाडी से होकर भी ट्रेनें संचालित की जाएंगी. इससे एक ओर जहां जयपुर से दिल्ली के बीच शॉर्टटेस्ट रूट मिलेगा. वहीं इस रूट पर ट्रेनों का संचालन भी बढ़ेगा. इस रूट के शुरू होने से जयपुर-चूरू-श्रीगंगानगर-सादुलपुर से हिसार तक की सीधी कनेक्टिविटी हो जाएगी. जिससे बीकानेर-गंगानगर-लोहारू के लिए फुलेरा से होकर जाने के बजाय सीधा जाया जा सकेगा. इससे बीकानेर और श्रीगंगानगर का सफर तय करने में करीब 2 घंटे कम लगेंगे तो वहीं जयपुर-अजमेर रूट का कंजेशन भी कम हो जाएगा. देखना होगा कि रेलवे बोर्ड कितनी जल्दी इस ट्रेन के संचालन की मंजूरी देता है. 

- काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज, जयपुर

और पढ़ें