VIDEO: जयपुर एयरपोर्ट की टॉप 15 में वापसी !  कोविड की दूसरी लहर से उबरा, देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: जयपुर एयरपोर्ट की टॉप 15 में वापसी !  कोविड की दूसरी लहर से उबरा, देखिए ये खास रिपोर्ट

जयपुर (काशीराम चौधरी): कोरोना की दूसरी लहर के बाद जयपुर हवाई अड्डे से हवाई यात्रा करने का ट्रेंड बढ़ा है. जुलाई माह में जयपुर एयरपोर्ट से हवाई यात्रियों और फ्लाइट संचालन का आंकड़ा बढ़ा है. एयरपोर्ट अथॉरिटी की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक कोविड की दूसरी लहर के बाद जयपुर एयरपोर्ट देश के टॉप 15 एयरपोर्ट की सूची में फिर से शामिल हो गया है, जबकि अप्रैल और मई माह में जयपुर एयरपोर्ट टॉप 15 से बाहर हो गया था. 

देशभर में हवाई यात्रा पर बुरा असर डाला:

कोरोना महामारी ने देशभर में हवाई यात्रा पर बुरा असर डाला है. अपेक्षाकृत रूप से जयपुर एयरपोर्ट को ज्यादा नुकसान झेलना पड़ा है. एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की मई माह की रिपोर्ट के मुताबिक जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट संचालन और यात्रियों की संख्या कई छोटे एयरपोर्ट्स से भी कम रही थी. तब जयपुर एयरपोर्ट टॉप 15 से बाहर हो गया था, लेकिन अब जुलाई की ताजा रिपोर्ट में जयपुर एयरपोर्ट फिर से वापसी करने में सफल रहा है. मई माह के दौरान कभी भी टॉप 15 एयरपोर्ट में शामिल नहीं रहे रांची, वाराणसी और श्रीनगर जैसे छोटे एयरपोर्ट जयपुर एयरपोर्ट से आगे निकल गए थे. आमतौर पर यात्रीभार के लिहाज से जयपुर एयरपोर्ट की रैंक 12वीं या 13वीं रहती आई है, लेकिन कोरोना के प्रकोप के चलते अप्रैल और मई माह में जयपुर एयरपोर्ट 16वें स्थान पर खिसक गया था, लेकिन जुलाई की रिपोर्ट में यह सामने आया है कि जयपुर एयरपोर्ट ने वाराणसी, भुबनेश्वर और रांची एयरपोर्ट्स को पीछे छोड़ दिया है. साथ ही देश के टॉप 10 में शुमार गोवा एयरपोर्ट से भी ज्यादा फ्लाइट संचालन व यात्रीभार जयपुर एयरपोर्ट का रहा है. 

इस तरह टॉप 15 में हुई जयपुर एयरपोर्ट की वापसी:
- जुलाई माह में जयपुर एयरपोर्ट से 140369 यात्रियों ने यात्रा की
- लखनऊ और जयपुर एयरपोर्ट में अक्सर आगे-पीछे बने रहने की प्रतिस्पर्धा रहती है
- लखनऊ ही नहीं, पटना एयरपोर्ट भी फिलहाल जयपुर से आगे है
- जुलाई में लखनऊ से यात्रीभार 1.83 लाख और पटना से 1.98 लाख रहा
- श्रीनगर और चंडीगढ़ जैसे छोटे एयरपोर्ट भी जयपुर से फिलहाल आगे हैं
- चंडीगढ़ से यात्रीभार 1.51 लाख, श्रीनगर से 2.46 लाख रहा
- दिल्ली, मुम्बई, बेंगलूरु, कोलकाता, हैदराबाद, चेन्नई...
- अहमदाबाद, कोचीन, पुणे और गुवाहाटी शुरू से रहे हैं जयपुर से आगे
- इस तरह 15वें स्थान पर आया जयपुर एयरपोर्ट
- गोवा एयरपोर्ट पर यात्रीभार 1.39 लाख रहा, गोवा टॉप 15 से भी बाहर हुआ

जयपुर एयरपोर्ट ने टॉप 15 में की वापसी:

केवल यात्रीभार के लिहाज से ही नहीं, बल्कि फ्लाइट संचालन की संख्या के आंकड़ों में भी जयपुर एयरपोर्ट ने टॉप 15 में वापसी की है. मई माह के दौरान चंडीगढ़, वाराणसी और श्रीनगर जैसे छोटे एयरपोर्ट भी जयपुर से कहीं आगे थे. लखनऊ और पटना एयरपोर्ट भी जयपुर से आगे रहे थे, लेकिन अब जुलाई में जयपुर वाराणसी और गोवा से आगे रहा है.

फ्लाइट संचालन में गोवा से आगे, पर चंडीगढ़ से पीछे:
- फ्लाइट संख्या के लिहाज से भी जयपुर एयरपोर्ट देश में 15वें स्थान पर रहा
- जुलाई में जयपुर एयरपोर्ट से 1449 फ्लाइट संचालित हुई
- लखनऊ, पटना, श्रीनगर और चंडीगढ़ एयरपोर्ट जयपुर से आगे रहे
- लखनऊ से 1854, पटना से 2000, श्रीनगर से 1989 और चंडीगढ़ से 1536 फ्लाइट संचालित
- वाराणसी और भुवनेश्वर जो मई में जयपुर से आगे थे, अब पीछे हुए
- गोवा भी जयपुर से पीछे रहा, यहां 1448 फ्लाइट हुईं संचालित

एयरपोर्ट प्रशासन के लिए यह आंकड़े थोड़े राहत देने वाले:

जयपुर एयरपोर्ट प्रशासन के लिए यह आंकड़े थोड़े राहत देने वाले हैं. जुलाई के बाद इस माह अगस्त में अब तक 5 नई फ्लाइट शुरू हो चुकी हैं. ये फ्लाइट बेंगलूरु, हैदराबाद, गुवाहाटी और दिल्ली के लिए बढ़ी हैं. साथ ही 20 अगस्त से ग्वालियर के लिए भी नई हवाई सेवा शुरू हुई है, ऐसे में उम्मीद की जानी चाहिए कि अगस्त माह में जयपुर एयरपोर्ट अपनी रैंक में और सुधार करेगा.

और पढ़ें