VIDEO: जयपुर में पानी के लिए त्राहि त्राहि, अप्रैल तक खाली हो जाएगा बीसलपुर बांध !

Naresh Sharma Published Date 2019/04/02 11:41

जयपुर। प्रदेश में सूरज का पारा बढ़ने के साथ ही जनता के हलक सूखने लगे हैं। पानी के लिए परेशान जनता अप्रैल महीना शुरु होते ही अब सड़कों पर उतरने लगी है। कहीं रास्ते रोके जा रहे हैं, तो कहीं अधिकारियों को खरी खोटी सुनाई जा रही है। राजधानी जयपुर से लेकर प्रदेश के कई हिस्सों में पानी के लिए प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। राजधानी जयपुर में ही पानी सप्लाई में 40 फीसदी कटौती हो रही है। ऐसे में चुनावी मौसम में जनता का गुस्सा और उग्र हो सकता है।

जयपुर की लाइफ लाइन बीसलपुर बांध अब खाली होने लगा है और हालात यही रहे, तो 30 अप्रैल के बाद बीसलपुर से जयपुर को पानी नहीं मिलेगा। 30 अप्रैल 2019 के बाद जयपुर में भयंकर जल संकट होगा और यदि मानसून में बारिश नहीं होती है, तो पीने के पानी के लिए त्राहि त्राहि होगी। राजधानी जयपुर सहित प्रदेश के कई इलाकों में पानी सप्लाई नहीं के बराबर है। कुछ जगह तीन-चार दिन से पानी आता है, तो कुछ बाहरी इलाके ऐसे हैं, जहां पर 10-15 दिन से भी पानी नहीं आ रहा। जलदाय विभाग के अधिकारियों व दफ्तरों में चक्कर लगाकर जनता परेशान हो चुकी है। और अब गुस्सा सड़क पर उतरने लगा है। आमेर के पास ब्रह्मपुरी इलाके में जनता ने रास्ता रोककर प्रदर्शन किया। यह वह इलाका है, जहां पर एक सप्ताह से अधिक समय से पानी नहीं आ रहा। टैंकर से भी पानी सप्लाई नहीं किया जा रहा।

- जयपुर में पानी के लिए त्राहि त्राहि
- 30 अप्रैल बाद बीसलपुर से नहीं मिलेगा पानी
- क्षमता का एक चौथाई पानी भी नहीं है बांध में
- जयपुर में हो रही है 30 से 50 फीसदी कटौती
- राजधानी के कई इलाकों में नहीं हो रही पानी सप्लाई
- प्यासी जनता उतरने लगी है सड़कों पर
- राजधानी में आज पानी के लिए हुआ रास्ता जाम
- प्रदेश के कई इलाकों में जनता कर रही है प्रदर्शन

जयपुर की ही बात करें, तो इस रीजन के 16 शहर कस्बे ऐसे है, जहां पर पानी की पूरी सप्लाई नहीं हो रही। आंकड़े इसकी गवाही दे रहे हैं,,,,,,,,,,

- गर्मी शुरू होते ही गहराया पानी संकट
- जयपुर क्षेत्र के 16 शहर-कस्बे में पानी संकट
- 135 लीटर प्रति व्यक्ति प्रति पानी मिलना चाहिए
- लेकिन 26 से 85 लीटर ही मिल रहा है पानी
- जयपुर शहर में ही पूरा पानी नहीं मिल रहा
- 135 की बजाय 113 लीटर पानी दिया जा रहा
- बगरू की हालत है सबसे खराब
- महज 26 लीटर पानी ही मिल रहा बगरू में
- सांगानेर में 85, आमेर में 67, फुलेरा में 55
- चौमू में महज 37 लीटर पानी एक व्यक्ति को
- बीसलपुर पानी मे 40 से 50 फीसदी कटौती
- कई 4 से 10 दिन के बीच आता है बीसलपुर पानी

खुद जलदाय विभाग मान रहा है कि 30 अप्रैल 2019 के बाद बीसलपुर से जयपुर को पानी नहीं मिलेगा,, यानी इस साल गर्मियों में जयपुर में भयंकर जल संकट होगा। पिछले साल गर्मियों में 475 एमएलडी तक पानी बीसलपुर से जयपुर को मिला था, लेकिन अब यह स्तर 300 के पास पहुंच गया हैं। विभाग द्वारा 25 फीसदी की घोषित कटौती हैं, लेकिन कई जगह 50 फीसदी तक अघोषित कटौती चल रही है। खराब मानसून के कारण उम्मीद के अनुसार बीसलपुर बांध में पानी नहीं आने के करण जयपुर सहित राज्य के पांच जिलों पर जलसंकट का खतरा मंडरा रहा है। बीसलपुर बांध में 25 फीसदी से कम पानी बचा है।

- अप्रैल तक खाली हो जाएगा बीसलपुर बांध !
- 8.5 टीएमसी पानी ही बचा है बीसलपुर बांध में
- सिर्फ 7.5 टीएमसी पानी है उपयोग लेने लायक
- हर महीने 1.37 टीएमएसी पानी का होता है उपभोग
- 2009 से पहले सिर्फ अजमेर में होती थी बांध से सप्लाई
- 2009 में जयपुर को जोड़ा गया था बीसलपुर से
- अब 88 लाख से अधिक जनसंख्या को होता है सप्लाई
- 2009 की तुलना में चार गुणा हो गई सप्लाई वाली जनसंख्या
- इस वर्ष बांध में 5.4 टीएमसी पानी की आवक हुई
- 2009 के बाद पहली बार इतनी कम आवक हुई बांध में

इस संकट से बचने के लिए जलदाय विभाग ने जयपुर में 2009 से बंद पड़े 273 ट्यूबवेल को सही कराने का फैसला किया। इसके लिए 498 लाख रुपए का बजट भी स्वीकृत किया गया। इन 273 में से 230 ट्यूबवेल चालू कर दिए गए हैं और इससे शहर को 39 एमएलडी पानी मिलने लगा है। लेकिन इससे भरपाई नहीं होने वाली,,,,,इसलिए 279 नए ट्यूबवेल खोदने की भी मंजूरी दी गई है। नए ट्यूबवेल पर करीब 35 करोड़ रुपए खर्च होंगे, लेकिन इस काम को करने में ही करीब चार महीने लग जाएंगे,,,,,,,अब उम्मीद पानी के टैंकर्स और ट्यूबवेल से ही है, लेकिन ऐसे में देखना है कि विभाग कितने इलाकों तक टैकर्स से पानी सप्लाई कर पाता है। ऐसे में नजरें अब मानसू पर टिकी हैं, क्योकि बीसलपुर पूरी तरह खाली हो गया, तो जयपुर में त्राहि त्राहि हो जाएगी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in