Jaisalmer: अमृत महोत्सव में BSF का 'हर घर झंडा' प्रोग्राम, तिरंगे को लेकर ग्रामीणों में दिखा जोश और जुनून

Jaisalmer: अमृत महोत्सव में BSF का 'हर घर झंडा' प्रोग्राम, तिरंगे को लेकर ग्रामीणों में दिखा जोश और जुनून

Jaisalmer: अमृत महोत्सव में BSF का 'हर घर झंडा' प्रोग्राम, तिरंगे को लेकर ग्रामीणों में दिखा जोश और जुनून

जैसलमेर: भारत-पाकिस्तान सरहद पर इन दिनों हर घर झण्डा (तिरंगा) कार्यक्रम के तहत सीमा सुरक्षा बल सरहदी गांवों में तिरंगा फहरा रही है. साथ ही सरहदी गांवों में निवास कर रहे लोगों को तिरंगे को फहराने के लिए जागरूक कर रही है. 92वीं वाहिनी सीमा सुरक्षा बल के सब कमांडेंट कमलेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि आजादी का अमृत महोत्सव के तहत 'हर घर झंडा' कार्यक्रम का आयोजन सरहदी गांवों में किया जा रहा है. 

कुरिया बेरी और किशनगढ़ में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस दौरान उन्होंने सरहदी गांव वालों को तिरंगे झंडे की जानकारी दी साथ ही उससे जुड़े सम्मानजनक तथ्य भी बताए. सबको अपने घरों पर तिरंगा फहराने के लिए जागरूक किया. उन्होंने बताया कि हमारा राष्ट्रीय ध्वज का आकार हमेशा आयताकार और लम्बाई, चौड़ाई का अनुपात 3:2 होता है.

इसके अलावा उन्होंने सभी ग्रामीणों को तिरंगा फहराने के लिए प्रेरित किया और बताया की आप किस तरह के झंडे प्रयोग कर सकते हैं और उसे कैसे सम्मान दे सकते हैं. इस दौरान तिरंगे को हाथ में लेते ही ग्रामीणों में काफी जोश जुनून देखा गया. स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त पर देश के सभी नागरिकों को अपने-अपने घरों पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराने के लिए प्रोत्साहित करने का कार्यक्रम चलाया जा रहा है.

भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति के 75 साल पूरे होने पर मनाए जा रहे जश्न के लिए केंद्र सरकार ने 'हर घर झंडा' अभियान (Har Ghar Tiranga Campaign) शुरू किया है. आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के दौरान केंद्र के इस पहल पर केंद्रीय कला-संस्कृति एवं पर्यटन मंत्रालय इस विशेष अभियान का नेतृत्व कर रहा है. इस अभियान में ज्यादा से ज्यादा लोगों से भाग लेने के लिए अपील की जा रही है. 

राष्ट्रगान भी गाने के लिए प्रेरित:

दरअसल, लोगों में देशभक्ति को बढ़ावा देने और देश से जुड़े मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने के लिए यह अहम अभियान शुरू किया गया है. इसके तहत 15 अगस्त 2022 को अपने घरों, संस्थानों और प्रतिष्ठानों पर तिरंगा फहराने और इसके बाद परिवार के साथ मिलकर तिरंगे के सम्मान में राष्ट्रगान भी गाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है.
 

और पढ़ें