Jaisalmer: फसल खराबे से किसान ने आत्महत्या का किया प्रयास, अस्पताल में चल रहा उपचार

Jaisalmer: फसल खराबे से किसान ने आत्महत्या का किया प्रयास, अस्पताल में चल रहा उपचार

Jaisalmer: फसल खराबे से किसान ने आत्महत्या का किया प्रयास, अस्पताल में चल रहा उपचार

जैसलमेर: रविवार देर रात जैसलमेर में तेज तूफ़ान से किसानों पर कहर बनकर टूटा जिससे किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हो गया है. जैसलमेर सहित ग्रमीण क्षेत्रों में देर रात तेज आंधी तूफान आने से किसानों के उजड़ने से अलादीन पुत्र इशाक खान 21वर्ष निवासी रिवड़ी हाल निवासी जावन्ध नई फतेहगढ़ ने सदमे में आकर कीटनाशक का सेवन कर लिया. परिजनों को पता लगने पर परिजन युवक को मोहनगढ़ हॉस्पिटल लेकर पहुंचे जहां पर डॉ के आर पंवार की देख रेख में इलाज किया जा रहा है. 

परिजनों ने बताया कि जावन्ध नई फतेहगढ़ पर ट्यूबेल कास्त पर ली हुई थी. देर रात तेज आंधी तूफान आने के कारण ट्यूबेल पर कटी कटाई फसल तिनके की तरह आंधी में उड़ गई. सुबह उठ कर देखा तो कटी हुई फसल पूरे ट्यूबेल पर बिखरी हुई थी. अपने खेत की फसल देख कर अलादीन टेंशन में आ गया. इसको लेकर अलादीन ने कीटनाशक पिया लिया.  

मोहनगढ़ हॉस्पिटल में चल रहा उपचार: 
सूचना परिजनों को लगने पर परिजन युवक को मोहनगढ़ हॉस्पिटल लेकर पहुंचे जहां पर डॉ के आर पंवार की देखरेख में उपचार चल रहा है. युवक के मामा ने सरकार से निवेदन किया है कि तेज आंधी तूफान से किसानों की उजड़ी फसल का मुआवजा दिया जाये. 

और पढ़ें