Jhunjhunu: 39 दिन के बाद स्वदेश लौटा पन्नेसिंह का शव, दुबई में हो गई थी मृत्यु

Jhunjhunu: 39 दिन के बाद स्वदेश लौटा पन्नेसिंह का शव, दुबई में हो गई थी मृत्यु

Jhunjhunu: 39 दिन के बाद स्वदेश लौटा पन्नेसिंह का शव, दुबई में हो गई थी मृत्यु

झुंझुनूं: जिले के मलसीसर इलाके की गुसाइयों की ढाणी तन बास कालियासर में एक व्यक्ति का शव विदेश से 39 दिन के बाद आया. 

दरअसल गुसाइयों की ढाणी निवासी पन्नेसिंह दुबई (Dubai) की एक कंपनी में काम करता था. 39 दिन पहले हार्ट अटैक से पन्नेसिंह (Pnnesinh) की मृत्यु हो गई थी. जिसके बाद उसका कोरोना सैंपल भी पॉजिटिव आ गया था. कंपनी कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) के कारण शव को स्वदेश भेजने की बजाय वहीं पर दाह संस्कार कराने की जिद कर रही थी. लेकिन परिजनों ने अपना शव मांगा और 39 दिन की लड़ाई के बाद आखिरकार उन्हें शव भेजा गया. 

पीपीई किट पहनकर पन्नेसिंह का अंतिम संस्कार किया गया:
कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline) मुताबिक पीपीई किट पहनकर पन्नेसिंह का अंतिम संस्कार किया गया. अब परिजनों ने कंपनी और सरकार से मांग की है कि वे पन्नेसिंह के बकाया पैसे, क्लेम के साथ—साथ सहायता दिलाएं. क्योंकि परिवार बहुत गरीब है. दो बेटियों की शादी, मकान का कर्ज और बेटे को नौकरी लगाने में सरकार और कंपनी सहयोग करें. परिजनों और ग्रामीणों ने शव को वापिस स्वदेश लाने में केंद्रीय मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत के साथ—साथ मीडिया का आभार जताया है.

और पढ़ें