जोधपुर Jodhpur: डेढ़ साल से खुले नाले बने गोवंश के लिए खतरा, सुनवाई नहीं होने पर लोगों में दिखा रोष

Jodhpur: डेढ़ साल से खुले नाले बने गोवंश के लिए खतरा, सुनवाई नहीं होने पर लोगों में दिखा रोष

Jodhpur: डेढ़ साल से खुले नाले बने गोवंश के लिए खतरा, सुनवाई नहीं होने पर लोगों में दिखा रोष

फलोदी(जोधपुर): नदीक्षेत्र में खुला नाला गोवंश के लिए आफत बन गया है लेकिन जिम्मेदार है कि इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है. डेढ़ साल पूर्व नाले की सफाई के लिए नाले के ढ़क्कन हटाए गए थे जिसके बाद से नाला खुला हुआ है. जिसके कारण आए दिन गौवंश इसमें गिर रहे है. आस-पास के क्षेत्रों के नाले में जमें गन्दे पानी से आ रही दुर्गन्ध से श्वास लेना भी मुश्किल हो रहा है लेकिन इसके बावजूद भी जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं. 

नाला पालिकाध्यक्ष के वार्ड क्षेत्र में है लेकिन फिर भी पालिका के जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं. शनिवार सुबह एक बार फिर एक फोर्ट स्कूल के पास नाले में गिर गया. जिसे बाद में गौसेवकों ने बड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला. करीब दो घंटे से गौवंश सड़ांध मारते गंदे नाले में फंसा रहा. नाले की सफाई नहीं होने से पैंदे में पड़े कीचड़ में पैर फंसने से गौवंश के लिए खुला नाला आफत बन गया. 

नाला बारिश के दिनों में बड़ी आफत बन सकता है:

गौरतलब है कि फलोदी में नदी क्षेत्र में बना नाला बारिश के दिनों में बड़ी आफत बन सकता है. तेज बारिश के बाद फलोदी (Phalodi) के नदी क्षेत्र में बना नाला नदी आने पर उफान पर होता है और जामा मस्जिद के आगे से ब्रह्मबाग तक नदी का पानी उफान पर रहता है. ऐसे में किले के पीछे फोर्ट स्कूल के पास का खुला नाला नदी के दौरान आवागमन करने वालों के लिए बड़ी दुविधा बढ़ा सकता है. जिम्मेदारों को इसका पता होने के बाद भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है जिससे क्षेत्र के लोगों में रोष है.

और पढ़ें