आर्चर ने फिट होकर प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में की वापसी, कहा- अगर आईपीएल का कार्यक्रम फिर से बनता है तो उम्मीद है कि मैं खेल पाउंगा

आर्चर ने फिट होकर प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में की वापसी, कहा- अगर आईपीएल का कार्यक्रम फिर से बनता है तो उम्मीद है कि मैं खेल पाउंगा

लंदन: इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने चोट से उबर कर प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी करने के बाद कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अगर स्थगित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का कार्यक्रम फिर से बनता है तो वह इस साल भारत वापस जाएंगे.

इंग्लैंड के भारत दौरे के दौरान इस 26 साल के क्रिकेटर की कोहनी की चोट गंभीर हो गई थी, जिसके बाद वह आईपीएल के पूरे सत्र से बाहर हो गए थे.

काउंटी चैंपियनशिप में आर्चर ने किया कमबैकः
आर्चर ने चोट से उबर कर शानदार वापसी करते हुए ससेक्स की तरफ से केंट के खिलाफ काउंटी चैंपियनशिप मैच में गुरुवार को वापसी की तथा 13 ओवरों में 29 रन देकर दो विकेट लिए. उन्होंने ससेक्स क्रिकेट यू-ट्यूब चैनल से कहा कि अगर मैं भारत जाता (चोट से उबरने के बाद) तो भी शायद जल्दी घर वापस आ जाता. उम्मीद है, अगर इस साल आईपीएल के बचे हुए मैच होते है तो मैं फिर से जा सकूंगा. उन्होंने कहा कि भारत नहीं जाने का फैसला मुश्किल था. यह कुछ ऐसा था जिसका अनुमान लगाना मुश्किल था. मैं वहां जाता तो भी पता नहीं था कि कितने मैच खेलता. आईपीएल बायो-बबल (जैव-सुरक्षित) में कोरोना वायरस मामलों के बढ़ने के बाद इसे अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था.

राजस्थान रॉयल्स और इंग्लैंड की टीम ने मेरे फैसले का समर्थनः
राजस्थान रॉयल्स के लिए 20 विकेट लेने वाले इस खिलाड़ी ने कहा कि राजस्थान रॉयल्स और इंग्लैंड की टीम ने मेरे फैसले का समर्थन किया. आप वैसे ही अच्छे रिश्ते बनाना चाहते है जैसा कि (राजस्थान) रॉयल्स के साथ मैंने पिछले तीन साल में बनाया है. लगभग डेढ़ महीने में पहली बार प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खेल रहे आर्चर ने जॉक क्राउली और केंट के कप्तान बेल ड्रूमंड को आउट किया और विरोधी टीम को 145 रन पर आउट करने में अहम भूमिका निभाई.

फिटनेस को लेकर अच्छा महसूस कर रहे हैं आर्चरः
आर्चर ने कहा कि मेरी फिटनेस अच्छी है. मुझे लगता है कि मैंने अच्छी गेंदबाजी की. मैं पिछले सप्ताह ससेक्स की दूसरी श्रेणी की टीम के लिए खेला था और आत्मविश्वास हासिल करना अच्छा रहा तथा मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं. आर्चर ने इससे पहले अपना अंतिम मैच भारत और इंग्लैंड के बीच 20 मार्च को पांचवें टी20 अंतरराष्ट्रीय के रूप में खेला था. उनके दायें हाथ में कांच का टुकड़ा फंसा हुआ था जिसके लिए उन्हें ऑपरेशन करवाना पड़ा. यह तेज गेंदबाज जनवरी में अपने घर में चोटिल हो गया था.
सोर्स भाषा

और पढ़ें