close ads


MP Political Crisis: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने छोड़ा कांग्रेस का दामन, पीएम मोदी से मुलाकात के बाद दिया इस्तीफा

भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपना इस्तीफा कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजा है. सिंधिया के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के 14 और बागी विधायकों ने भी इस्तीफा दिया. इधर, खबर है कि कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी से निकाल दिया है. इस इस्तीफे में सिंधिया ने अपना दुख बयां किया है.

सिंधिया ने इस्तीफे में ये लिखा...

कांग्रेस से इस्तीफा दे चुके ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस्तीफे की शुरूआत में लिखा –डियर मिसेज गांधी, 18 साल से कांग्रेस का सदस्य होने के बाद यह समय अब मेरे लिए आगे बढ़ने का है. मैं कांग्रेस की अपनी प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहा हूं. उन्होंने सोनिया गांधी को संबोधित करते हुए लिखा कि जैसा कि आप जानती हैं मेरे इस सफर की शुरुआत पिछले साल ही हो गई थी.

उन्होंने आगे लिखा कि मेरे उद्देश्य पहले की ही तरह है. मैं अभी भी अपने राज्य और देश की सेवा करना चाहता हूं. लेकिन कांग्रेस में रहते हुए मेरे लिए यह करना मुमकिन नहीं था. मैं अपने लोगों और कार्यकर्ताओं के भरोसे के साथ नई शुरूआत कर रहा हूँ.उन्होंने इस्तीफे के आखिर मैं कांग्रेस के पार्टी सदस्यों और नेताओं को अभी तक उन्हें देश सेवा का मौका देने के लिए शुक्रिया कहा. उन्होंने लिखा है कि उनके अंदर जो कुछ भी चल रहा था, वह विधानसभा चुनाव के वक्त से ही चल रहा था. इससे पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया अमित शाह के घर गए और उनको साथ लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने पहुंचे. इसके कुछ घंटों बाद ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया. 

Madhya Pradesh Political Crisis: 28 में से 20 मंत्रियों ने कमलनाथ को इस्तीफा सौंपा, आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक

भोपाल से राज्यसभा के लिए भर सकते हैं पर्चा: 

ज्योतिराज सिंधिया को भाजपा के राज्यसभा उम्मीदवार बनाए जाने से पहले उनको औपचारिक तौर पर भाजपा में शामिल किया जाएगा. सिंधिया बुधवार को भोपाल में राज्यसभा की उम्मीदवारी का पर्चा दाखिल करेंगे. मंगलवार शाम को भोपाल में बीजेपी विधायक दल की बैठक में सभी विधायकों को पार्टी के अधिकृत राज्यसभा उम्मीदवारों के बारे में जानकारी दे दी जाएगी. साथ ही सिंधिया समर्थित विधायकों के इस्तीफे की भी घोषणा बेंगलुरु में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दी जाएगी.

MP Political Crisis: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की पीएम मोदी से मुलाकात, अमित शाह भी रहे मौजूद

MP Political Crisis: कांग्रेस ने माधवराव सिंधिया की जयंती पर किया उनको याद, तो ज्योतिरादित्य आज थाम सकते है BJP का दामन!

और पढ़ें