नई दिल्ली ओमीक्रोन के मद्देनजर हवाई अड्डों पर 11 देशों से आने वाले यात्रियों की जांच शुरू हुई: ज्योतिरादित्य सिंधिया

ओमीक्रोन के मद्देनजर हवाई अड्डों पर 11 देशों से आने वाले यात्रियों की जांच शुरू हुई: ज्योतिरादित्य सिंधिया

ओमीक्रोन के मद्देनजर हवाई अड्डों पर 11 देशों से आने वाले यात्रियों की जांच शुरू हुई: ज्योतिरादित्य सिंधिया

नई दिल्ली: नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस के नये स्वरूप ओमीक्रोन के खतरे की आशंका को देखते हुए ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और इजरायल समेत 11 देशों से आने वाले लोगों की हवाई अड्डों पर जांच शुरू की गई है. लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान मनीष तिवारी, चिंता अनुराधा और कुछ अन्य सदस्यों के पूरक प्रश्नों के उत्तर में सदन को यह जानकारी दी.

उन्होंने कहा कि ओमीक्रोन को लेकर पूरा विश्व सचेत हो चुका है. 31 देशों के साथ अंतरराष्ट्रीय हवाई यातायात समझौता (एयर बबल एग्रीमेंट) हैं, 10 देशों के साथ समझौते का प्रस्ताव है...हमें स्वास्थ्य और परिवाहन सेवा की सुविधा के बीच संतुलनक बनाकर रखना होगा.

सिंधिया ने बताया कि ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, इजरायल समेत 11 देशों से आने वाले लोगों की हवाई अड्डों पर स्वास्थ्य जांच की सुविधा शुरू की गई है. उन्होंने कहा कि 11 देशों को जोखिम के पैमाने पर रेखांकित किया गया. इसकी जांच कल शुरुआत हो गई. विभिन्न हवाई अड्डों पर कल विदेश से आने वाले साढ़े पांच हजार लोगों की जांच की गई.

सिंधिया ने कहा कि कोविड के माहौल में मार्च, 2020 में विश्व भर में आमागन की सुविधाएं बंद की गई थी. सात मई को वंदे भारत की सुविधा शुरू की गई. अब तक 1.83 करोड़ लोग इस सुविधा के जरिये वापस आए और यहां से अपने घर वापस जा सके. (भाषा)

और पढ़ें