Live News »

कर्नाटक के कालाबुरागी में पुलिस की नई पहल, शुरू किया 'नो हेलमेट, नो पेट्रोल’ अभियान

कर्नाटक के कालाबुरागी में पुलिस की नई पहल, शुरू किया 'नो हेलमेट, नो पेट्रोल’ अभियान

कालाबुरागी: नए ट्रैफिक नियम लागू होने के बाद देशभर में लोगों की मिलीजुली प्रतिक्रिया सामने आ रही है. कहीं इन नियमों का स्वागत हुआ है, वहीं देश के कुछ हिस्सों में विरोध भी देखने को मिल रहा है. इसी बीच लोग नियमों के मुताबिक चलें, इसको लेकर अब कर्नाटक के कालाबुरागी में पुलिस ने एक अभियान की शुरूआत कर दी है. जिसके तहत अगर दोपहिया वाहनों के पास हेलमेट नहीं है तो उनको पेट्रोल भी नहीं मिलेगा. 

दरअसल इस अभियान को 'नो हेलमेट, नो पेट्रोल’ का नाम दिया गया है. कालाबुरागी के पुलिस आयुक्त एमएन नागराज ने इस अभियान को लेकर कहा कि आज मैंने करीब 50 पेट्रोल पंप मालिकों को बुलाया. मैंने उनसे अनुरोध किया कि जिनके पास 2-व्हीलर्स हैं, लेकिन हेलमेट नहीं है, उन्हें पेट्रोल न दें. पहले 1 सप्ताह ग्राहकों को इसके बारे में सूचित किया जाएगा फिर एक सप्ताह के बाद यह निर्देश लागू किया जाएगा. 

और पढ़ें

Most Related Stories

मौसम विभाग ने राजस्थान में लू चलने का अलर्ट किया जारी, हरियाणा और दिल्ली में भीषण की संभावना 

मौसम विभाग ने राजस्थान में लू चलने का अलर्ट किया जारी, हरियाणा और दिल्ली में भीषण की संभावना 

नई दिल्ली: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को राजस्थान में भीषण गर्मी की वजह से लू चलने की चेतावनी दी है. केवल राजस्थान ही नहीं बल्कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और चंडीगढ़ में भी भीषण गर्मी की वजह से लू चलने की संभावना है. 

2 दिन भीषण गर्मी रहने का अनुमान:
जानकारी के मुताबिक अगले 4-5 दिन तक राजस्थान समेत पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में भीषण गर्मी के कारण लू चलने का अनुमान है. वहीं तटीय आंध्र प्रदेश समेत यनम और तेलंगाना में अगले तीन दिन तक भीषण गर्मी के कारण लू चलने की संभावना है और मराठवाड़ा और रायलसीमा में अगले 2 दिन भीषण गर्मी रहने का अनुमान है. 

एक पिता की अनूठी पहल, प्रवासी बेटे के आइसोलेशन के लिए बना दिया सर्व सुविधाओं युक्त ढाई दिन का झोपड़ा

राजस्थान के इन जिलों में चलेंगी लू:
राजस्थान के कई जिलों में मौसम विभाग ने रविवार को लू चलने का अलर्ट जारी किया है. राजस्थान के बीकानेर, चूरू, कोटा, बारां, बूंदी, झालावाड़, धौलपुर, करौली, झुंझुनूं,सवाई माधोपुर, बाड़मेर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, श्रीगंगानगर, नागौर, जोधपुर में रविवार को मौसम विभाग ने लू चलने का अलर्ट जारी किया है. 

SHO विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण, DGP ने प्रारम्भिक तथ्यात्मक रिपोर्ट मुख्यमंत्री गहलोत को दी 

COVID-19: देश में 24 घंटे में 6767 नए केस और 140 मरीजों की मौत, कुल मरीजों की संख्या हुई 1 लाख 31 हजार 868

COVID-19: देश में 24 घंटे में 6767 नए केस और 140 मरीजों की मौत, कुल मरीजों की संख्या हुई 1 लाख 31 हजार 868

नई दिल्ली: देश में तेजी से कोरोना का ग्राफ बढ़ रहा है. कोरोना वायरस के मामले बढ़कर  1 लाख 31 हजार 868 पहुंच गए है. वहीं अब तक कोरोना की चपेट में आने से 3 हजार 867 लोगों की मौत हो चुकी है. देश में कोरोना के 73 हजार 560 कुल एक्टिव केस है. कोरोना के अब तक 54,441 मरीज ठीक हो गए है. 24 घंटे में कोरोना के 6,767 नए मामले सामने आये है. जबकि 140 मरीजों की मौत हो गई है. 

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मौत:
अगर बात करें महाराष्ट्र की. तो यहां पर कोरोना के मामले सबसे ज्यादा है. यहां कोविड-19 के कुल 47 हजार 190 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं, जो किसी भी राज्य से कई गुना ज्यादा है. इनमें से 13 हजार 404 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें छुट्टी दे दी गई है. महाराष्ट्र में अब तक 1577 लोगों की मौत हो चुकी है.  

दूसरे नंबर पर तमिलनाडु:
कोरोना वायरस ने देश के महाराष्ट्र राज्य के बाद तमिलनाडु में कहर बरपाया है. तमिलनाडु में भी कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 15512 हो चुकी है. यहां इस महामारी से 103 की मौत भी हो चुकी है और 7491 पूरी तरह से ठीक भी हो चुके हैं. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 52 नये पॉजिटिव केस आए सामने, सर्वाधिक 18-18 केस अजमेर और जयपुर में आए सामने

राजधानी दिल्ली में 12 हजार से ज्यादा मामले:
राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार बढ़ते ही जा रही है. दिल्ली में कोरोना वायरस के अब तक 12 हजार 910 मामले आ चुके हैं. कोविड-19 महामारी से जहां 231 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 6267 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं. 

गुजरात में 13 हजार से ज्यादा मामले:
महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद गुजरात में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले है. गुजरात में कोरोना के 13 हजार 664 मामले अब तक आए हैं, जिनमें 829 लोगों की मौत हो चुकी है और 6169 लोग या तो स्वस्थ हो चुके हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.  

-मध्य प्रदेश में 6371 मरीज, अब तक 281 लोगों की मौत
-आंध्र प्रदेश में 2757 कुल केस, 1809 का इलाज के बाद छुट्टी, 56 मरीज की मौत 
-बिहार में 2380 मरीज, अब तक 11 लोगों की मौत, 653 लोग ठीक हुए.
-उत्तर प्रदेश में कुल 6017 केस, 3406 लोग पूरी तरह से स्वस्थ, 155 लोगों की मौत
-राजस्थान में कुल 6742 केस, 160 लोगों की मौत, 3786 लोग ठीक हुए
-पश्चिम बंगाल में 3459 मामले, 269 लोगों की मौत, 1281 लोग ठीक हुए 

जम्मू कश्मीर और केरल में आज मनाई जा रही है ईद, बाकी जगह सोमवार को मनाया जाएगा ये त्योहार

जम्मू कश्मीर और केरल में आज मनाई जा रही है ईद, बाकी जगह सोमवार को मनाया जाएगा ये त्योहार

जम्मू कश्मीर और केरल में आज मनाई जा रही है ईद, बाकी जगह सोमवार को मनाया जाएगा ये त्योहार

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर और केरल में आज ईद मनाई जा रही है. लोगों ने घरों में ही ईद की नमाज अदा की. वहीं केरल में भी आज ईद मनाई जा रही है. मालापुरम में लोगों ने ईद की नमाज घर पर ही अदा की. वहीं जम्मू-कश्मीर से अलग हुए लद्दाख में शनिवार को ईद मनाई गई. लद्दाख, करगिल क्षेत्र में शुक्रवार को चांद देखा गया था, इसलिए लद्दाख में 23 मई को ईद-उल-फितर मनाया गया.

देश के अन्य हिस्सों में कल मनाई जाएगी ईद:
जबकि देशभर के अन्य हिस्से में ईद सोमवार को मनाई जाएगी. दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी और फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मुफ्ती मुकर्रम ने शनिवार देर शाम को ऐलान किया कि देशभर में कहीं से चांद दिखने की इत्तला नहीं हुई है लिहाजा ईद-उल-फितर सोमवार को होगी.

उत्तर प्रदेश में कल से 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ खुलेंगे सरकारी दफ्तर, सुबह 9 से शाम 7 बजे तक 3 शिफ्ट में होगा काम 

सोशल डिस्टेंसिंग की पालना:
इस बार कोरोना संकट के बीच पूरे देशभर में ईद मनाई जाएगी, जिसमें लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए घर में ही ईद की नमाज अदा करनी पड़ेगी. दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम ने कोरोना वायरस और लॉकडाउन को लेकर लोगों से अपील की है कि बेहद सादगी के साथ घरों में रहकर ईद मनाएं. नमाज भी घर में ही अदा करें. लॉकडाउन में मस्जिदों में आम लोगों के जाने पर पाबंदी है, इसलिए एहतियात बरतें.आपको बता दें कि ईद की नमाज जमात में अदा की जाती है. हालांकि इस बार कोरोना संकट को देखते हुए सभी धार्मिक स्थल बंद हैं, इसलिए मस्जिद में नमाज अदा करने की इजाजत नहीं है.

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 52 नये पॉजिटिव केस आए सामने, सर्वाधिक 18-18 केस अजमेर और जयपुर में आए सामने

घट गई एयर कनेक्टिविटी! अब मात्र 13 शहरों के लिए चलेंगी जयपुर से फ्लाइट, अहमदाबाद और चेन्नई के लिए कोई फ्लाइट नहीं

जयपुर: सोमवार से देश में हवाई अड्डों पर घरेलू फ्लाइट्स का संचालन शुरू हो जाएगा. जयपुर हवाई अड्डे से कुल 21 फ्लाइट संचालित होंगी. हालांकि यह जरूर होगा कि कई प्रमुख शहरों के लिए जयपुर से अब सीधी फ्लाइट नहीं मिलेंगी. फ्लाइट्स की संख्या में कमी के चलते यात्रियों को परेशानी झेलनी होगी. कौन-कौन से शहरों के लिए नहीं मिलेगी सीधी फ्लाइट, चलिए जानते है. देश में हवाई सेवाओं का संचालन फिर से शुरू होना यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है. अब फिर से एक से दूसरे शहर तक पहुंचना सुगम हो जाएगा. हालांकि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार ने यात्रियों से जरूरी होने पर ही यात्रा करने की अपील की है.

जयपुर से चार एयरलाइंस की कुल 21 फ्लाइट होंगी संचालित:
सोमवार से जयपुर एयरपोर्ट से घरेलू फ्लाइट उड़ान भरने लगेंगी. जयपुर से चार एयरलाइंस की कुल 21 फ्लाइट संचालित होंगी. गौरतलब है कि लॉक डाउन से पहले जयपुर एयरपोर्ट से 63 फ्लाइट संचालित हो रही थी, जिनमें 7 इंटरनेशनल और 56 घरेलू फ्लाइट थी. जबकि अब केवल 21 फ्लाइट ही शुरू होंगी. नए शेड्यूल में समस्या यह है कि कई शहरों के लिए अब सीधी फ्लाइट नहीं मिल सकेंगी. जयपुर से अहमदाबाद, चेन्नई, जैसलमेर, देहरादून, भोपाल, लखनऊ आदि प्रमुख शहरों के लिए कोई फ्लाइट नहीं मिलेगी. इन शहरों के लिए अब यात्रियों को दिल्ली में फ्लाइट बदलने की जरूरत होगी.

भाई ने किया रिश्तों को शर्मसार, दोस्तों के साथ मिलकर नाबालिग बहन का रेप कर उतारा मौत के घाट 

एयरलाइन्स नहीं बना सकी यात्रियों की जरूरत के मुताबिक शेड्यूल
- जयपुर से अहमदाबाद के लिए रोजाना अच्छा हवाई यात्री भार रहता है
- लॉक डाउन से पहले जयपुर से अहमदाबाद के लिए रोज 4 फ्लाइट चल रही थी
- 1 इंडिगो, 1 गो एयर और 2 फ्लाइट स्पाइसजेट की हो रही थी संचालित
- लेकिन अब एक भी एयरलाइन ने अहमदाबाद के लिए नहीं दिया शेड्यूल
- भोपाल के लिए लॉक डाउन से पहले स्पाइसजेट और एयर इंडिया की 2 फ्लाइट चल रही थी
- लेकिन अब एक भी फ्लाइट नहीं चलेगी भोपाल के लिए
- चेन्नई के लिए जयपुर से कोई भी सीधी फ्लाइट नहीं मिलेगी
- इन शहरों को जाने के लिए पहले दिल्ली की फ्लाइट लेनी होगी
- इसके बाद दिल्ली से कनेक्टिंग फ्लाइट से यात्री दूसरे शहर तक पहुंच सकेंगे

कितनी कम हुई फ्लाइट्स
- मुंबई के लिए पहले रोज 9 फ्लाइट चल रही थी, अब मात्र 2 फ्लाइट मिलेंगी
- बेंगलुरु के लिए पहले रोज 6 फ्लाइट थी, अब मात्र 3 फ्लाइट मिलेंगी
- हैदराबाद के लिए पहले 6 फ्लाइट थी, अब मात्र 2 फ्लाइट मिलेंगी
- कोलकाता के लिए पहले 4 फ्लाइट थी, अब मात्र 1 फ्लाइट मिलेगी
- पुणे के लिए पहले तीन फ्लाइट थी, अब दो फ्लाइट मिलेंगी
- दिल्ली के लिए पहले 7 फ्लाइट थी, अब 4 फ्लाइट मिलेंगी

समर शेड्यूल में कई नए शहरों के लिए होनी थी फ्लाइट शुरू:
नए शेड्यूल में उन शहरों के लिए भी फ्लाइट संचालित नहीं होंगी, जिनके लिए एयरलाइंस ने समर शेड्यूल में प्रस्ताव दिए थे. दरअसल 31 मार्च से शुरू होने वाले समर शेड्यूल में कई नए शहरों के लिए फ्लाइट शुरू होनी थी. चंडीगढ़ और इंदौर के लिए इंडिगो को फ्लाइट शुरू करनी थी. इंडिगो एयरलाइन श्रीनगर और गोवा के लिए भी फ्लाइट शुरू करने के लिए शेड्यूल दे चुकी थी. लेकिन इन शहरों के लिए फिलहाल फ्लाइट शुरू नहीं होगी. कुल मिलाकर कोरोना महामारी ने एविएशन सेक्टर को करीब 1 साल पीछे धकेल दिया है. लॉक डाउन से पहले की गति पकड़ने के लिए एयरलाइंस को करीब 1 साल तक का समय लग सकता है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू 

दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू 

दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू 

नई दिल्ली: लॉकडाउन का उल्लंघन करने के आरोप में दाती महाराज पर केस दर्ज किया गया है. कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लागू है. लॉकडाउन के दौरान लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की गई है. साथ ही लॉकडाउन में धार्मिक कार्यक्रम और लोगों की भीड जुटने पर भी प्रतिबंध है. हालांकि अब दिल्ली में एक धार्मिक कार्यक्रम के आयोजन का मामला सामने आया है.

सादुलपुर SHO विष्णुदत्त आत्महत्या प्रकरण, CBI जांच की मांग पर अड़े उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ और सांसद राहुल कस्वां

लॉकडाउन पर सरकारी दिशा निर्देश के उल्लंघन का आरोप:
सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं. यह फोटोज दिल्ली में असोल के शनिधाम मंदिर की हैं. यहां लॉकडाउन की गाइडलाइन का पालन न करते हुए धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इतना ही नहीं, लोगों ने इस कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान नहीं रखा.

22 मई की शाम एक मंदिर में कार्यक्रम करने पर केस दर्ज:
पुलिस की शुरुआती जांच के दौरान यह पता चला कि शनिधाम मंदिर के मुख्य पुजारी दाती महाराज के साथ कुछ लोगों ने 22 मई की शाम 7:30 बजे मंदिर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया था. मंदिर में लॉकडाउन पर सरकारी दिशानिर्देशों का उल्लंघन किया गया.फिलहाल मामला दर्ज कर जांच की जा रही है. 

भाई ने किया रिश्तों को शर्मसार, दोस्तों के साथ मिलकर नाबालिग बहन का रेप कर उतारा मौत के घाट 

सितंबर तक मिल सकती है कोरोना वैक्सीन को लेकर Good News! भारतीय कंपनी को उत्पादन का कॉन्ट्रेक्ट देने का दावा

सितंबर तक मिल सकती है कोरोना वैक्सीन को लेकर Good News! भारतीय कंपनी को  उत्पादन का कॉन्ट्रेक्ट देने का दावा

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के बीच इस वक्त पूरी दुनिया में इसकी वैक्सीन को लेकर इंतजार किया जा रहा है. कोरोना वायरस का खात्मा करने के लिए कोशिशों का सिलसिला तेज होता जा रहा है. इसी बीच अब यह खबर आ रही है कि कोरोना की वैक्सीन सितंबर तक मिल सकती है. अमेरिका की मॉडर्ना नाम की कंपनी ने यह दावा किया है. इतना ही नहीं कंपनी ने यह भी दावा किया है कि उसने भारत की एक कंपनी को उत्पादन के लिए कॉन्ट्रेक्ट भी दे दिया है.

सादुलपुर थानाधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई ने अपने क्वार्टर में फंदा लगाकर की आत्महत्या  

कंपनी शुरूआती ट्रायल सफल रहने का किया दावा:
मॉडर्ना नाम की अमेरिकी कंपनी ने दावा किया है कि उसका शुरूआती ट्रायल सफल रहा है. वैज्ञानिकों ने वैक्सीन को जिन लोगों के शरीर में डाला है, उनमें कोरोना वायरस के लिए एंटीबॉडीज डेवलप हो गए हैं. ऐसे में अब कंपनी तय किया है कि अगले फेज में वो छह सौ इंसानों पर ट्रायल करेगी. 

हर उम्र के इंसानों पर होगा ट्रायल:
कंपनी के अनुसार छह सौ लोगों में से आधे 18 से 45 साल के बीच होंगे और आधे 55 साल से ऊपर के लोग होंगे. इस ट्रायल के सफल होने के बाद फिर 2500 और लोगों पर ट्रायल होगा जिसमें कम उम्र के बच्चे शामिल रहेंगे. 

सितंबर तक बना ली जाएगी 11 करोड़ डोज:
ऐसे में अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि ट्रायल पूरा होगा तो वैक्सीन की करोड़ों डोज बनाने में कितना वक्त लगेगा, लेकिन कंपनी का दावा है कि सितंर तक इस वैक्सीन की कम से कम 11 करोड़ डोज बना ली जाएगी. खबर तो यह भी है कि मॉडर्ना कंपनी ने एक भारतीय कंपनी को इस वैक्सीन की डोज बनाने का काम दिया है. 

1200 KM साइकिल चलाकर घायल पिता को लेकर बिहार पहुंची 15 साल की ज्योति, इवांका ट्रंप भी हुई मुरीद 

इवोला वायरस की भी बनाई थी वैक्सीन:
इस कंपनी के दावे पर इसलिए भरोसा किया जा सकता है क्योंकि इस कंपनी ने नौ महीने में इवोला वायरस का वैक्सीन भी बनाया था. कंपनी का कहना है कि कई टेस्ट पूरे हो गए हैं. वैक्सीन बनाने का काम भी शुरु हो गया है. 

1200 KM साइकिल चलाकर घायल पिता को लेकर बिहार पहुंची 15 साल की ज्योति, इवांका ट्रंप भी हुई मुरीद

1200 KM साइकिल चलाकर घायल पिता को लेकर बिहार पहुंची 15 साल की ज्योति, इवांका ट्रंप भी हुई मुरीद

नई दिल्ली: लॉकडाउन के चलते देश में कई ऐसे मंजर हमारी आंखों के सामने आए हैं जो शायद ही कभी देखें होंगे. संकट की इस घड़ी में प्रवासी मजदूरों की कुछ तस्वीरें ऐसी भी कहानियां दर्शा रही है जिन्हें किसी शब्द की जरूरत नहीं हैं. इनको देखकर हर किसी की अंदर तक रुह कांप जाती है और साथ-साथ गर्व की भी अनुभुति करवाती है. ऐसी ही एक घटना के चलते भारत की बेटी का विदेश में डंका बज रहा है.  हां, वही बिहार(bihar) की बेटी जिसने अपने पिता को साइकिल पर बैठाकर 1200 किलोमीटर से ज्यादा का सफर तय किया है. इस बेटी की तस्वीर जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो देशभर में तारीफ हुई. 

25 मई से शुरू होंगी घरेलू फ्लाइट, जयपुर एयरपोर्ट से 21 फ्लाइट का होगा संचालन 

इवांका ट्रंप भी ज्योती की मुरीद:
पर अब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) की बेटी इवांका ट्रंप (Ivanka Trump) भी बिहार की ज्योति की मुरीद हो चुकी हैं. उन्होंने ट्वीट के जरिए ज्योति की खूब तारीफ की है. इवांका ट्रंप ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि 15 साल की ज्योति कुमारी अपने घायल पिता को साइकिल पर बैठाकर 7 दिनों में 1,200 किमी सफर तय करके गांव पहुंची. धीरज और प्यार के इस सुंदर पराक्रम ने भारतीयों और साइकलिंग फेडरेशन का ध्यान खींचा है.

एक हजार किलोमीटर से ज्यादा की दूरी सात दिन में तय की:
दरअसल, बिहार की एक बेटी ज्योति ने अपनी साइकिल पर पिता को बिठाकर हरियाणा (Haryana) के गुरुग्राम से एक हजार किलोमीटर से ज्यादा की दूरी सात दिन में तय की. वह एक दिन में 100 से 150 किलोमीटर अपने पिता को ही पीछे कैरियर पर बिठाकर साइकिल चलाती थी. जब कहीं ज्यादा थकान होती तो सड़क किनारे बैठ कर ही थोड़ा आराम कर लेती थी. रास्ते में कई तरह की परेशानियां हुईं, लेकिन हर बाधा को ज्योति बिना हिम्मत हारे पार करती गई. ज्योति कुमारी की इस तकलीफ और साहस के बारे में जानकर लोग हैरान हो गए.

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 48 नए पॉजिटिव, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 6542 

ज्योति को फेडरेशन ने बुलाया दिल्ली:
ज्योति के जज्बे को देखने के बाद भारतीय साइकिलिंग फेडरेशन ने उनकी तारीफ की और उन्हें अगले महीने ही ट्रायल के लिए दिल्ली बुलाया है. वहीं इवांका ने भी अपने ट्वीट में भारतीय साइकिलिंग फेडरेशन जिक्र किया है. फेडरेशन के चेयरमैन ओंकार सिंह का कहना है कि, अगर 8वीं की छात्रा ट्रायल पास कर लेती है तो उसे आईजीआई सपोर्ट कॉम्प्लेक्स में स्थित स्टेट-ऑफ़-द-आर्ट नेशनल साइकिलिंग एकेडमी में ट्रेनी के रूप में चुन लिया जाएगा. गौरतलब है कि यह एकेडमी स्पोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) के अधीन आता है और यह एशिया की सबसे विकसित साइकिल एकेडमी है. यह खेलों के अंतराष्ट्रिय संस्था UCI से भी मान्यता प्राप्त संस्था है.


 

UGC ने लिया देश के करोड़ों स्टूडेंट्स को राहत देने वाला फैसला, अब एक साथ कर सकते हैं दो डिग्री कोर्स

UGC ने लिया देश के करोड़ों स्टूडेंट्स को राहत देने वाला फैसला, अब एक साथ कर सकते हैं दो डिग्री कोर्स

जयपुर: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने देश के करोड़ों स्टूडेंट्स को राहत देने वाला फैसला लिया है. यूजीसी ने हाल ही में हुई एक बैठक में एक साथ दो डिग्री कोर्स करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. आयोग के इस फैसले के बाद अब स्टूडेंट्स एक ही समय पर 2 डिग्री पूरी कर सकेंगे. हालांकि इसके लिए कुछ नियम बनाए गए हैं. जिनके अनुसार स्टूडेंट्स एक ही समय पर अलग-अलग स्ट्रीम्स के दो अलग-अलग डिग्री कोर्स कर सकते हैं. दोनों डिग्रियां पूरी तरह मान्य होंगी.

चाय में नशीला पेय पिलाकर युवती से सामूहिक दुष्कर्म, बल्कैमेल कर मां के साथ भी करते थे अश्लील बातें 

सुविधा सिर्फ कॉलेज और यूनिवर्सिटी स्तर पर पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स के लिए: 
यूजीसी सचिव के अनुसार यह सुविधा सिर्फ कॉलेज और यूनिवर्सिटी स्तर पर पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स के लिए होगी. यदि कोई स्टूडेंट 2 डिग्री कोर्स की पढ़ाई एक साथ करने की सोच रहा है तो वह उनमें से एक ही डिग्री रेगुलर फॉर्मेट पर कर सकता है. दूसरी डिग्री ऑनलाइन डिस्टेंस लर्निंग मोड पर करनी होगी. इस संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश व नियमों की जानकारी जल्दी आधिकारिक अधिसूचना के साथ जारी कर दी जाएगी. पिछले साल इस मुद्दे पर यूजीसी उपाध्यक्ष भूषण पटवर्धन की अध्यक्षता वाली समिति ने अपने सुझाव दिए थे. इससे पहले भी एक समिति बनाई गई थी लेकिन तब इस योजना को मंजूरी नहीं मिली थी. 

यूपी: प्रयागराज में प्रवासी मजूदरों को ले जा रही बस पलटने से 35 मजदूर घायल, तीन की हालत गंभीर 

Open Covid-19