डेंगू का एक मरीज मिलने पर एक्शन में आए कानपुर देहात जिला अधिकारी, चिकित्सा अधिकारियों की बुलाई तत्काल बैठक

डेंगू का एक मरीज मिलने पर एक्शन में आए कानपुर देहात जिला अधिकारी, चिकित्सा अधिकारियों की बुलाई तत्काल बैठक

डेंगू का एक मरीज मिलने पर एक्शन में आए कानपुर देहात जिला अधिकारी,  चिकित्सा अधिकारियों की बुलाई तत्काल बैठक

कानपुर(दुर्गेश मिश्रा): अब पछताए होत का जब चिड़िया चुन गयी खेत की कहावत को कानपुर देहात के जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह मात दे रहे हैं. जिस कदर देश मे डेंगू व मलेरिया के बुखार से जिला अस्पतालों में मरीजों तांता लगा हैं वहीं कानपुर देहात में इससे काफी दूर हैं. 

दरअसल हुआ यूं कि जैसे ही कानपुर देहात में मात्र एक मरीज डेंगू का आया उसी समय जिलाधिकारी ने यहां तत्काल बैठक भी बुला ली और खुद अध्यक्षता की और cmo पर लगाम लगानी शुरू कर दी. इस एक्शन में देखकर लोग तारीफ कर रहें कि वाकई में ''अब पछताए होत का जब चिड़िया चुन गयी खेत'' ये कहावत को मात दे रहें हैं.  

first india से एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया कि अब कानपुर देहात में तीन से चार महीनों में देहात के सभी मरीजों का खास ख्याल रखा जाएगा, और अब जो महिलाओं की डिलीवरी होगी खास तौर पर उनकी विशेष इंतजामात किये जायेंगे. 

और पढ़ें