Live News »

कर्नाटक में कांग्रेस पर संकट के बादल, विधायकों को मिली चेतावनी
कर्नाटक में कांग्रेस पर संकट के बादल, विधायकों को मिली चेतावनी

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों से पहले कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन वाली सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। दो निर्दलीय विधायकों ने सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है। इसके बाद  प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और दिग्गज कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने पार्टी के तमाम विधायकों को 18 जनवरी को होने वाली बैठक में हिस्सा लेने का निर्देश जारी किया है। वहीं बीजेपी का कहना है कि कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार दो दिन में गिर जाएगी। 

बतादें, सिद्धारमैया ने तमाम विधायको को निर्देश जारी करते हुए चेतावनी दी है कि जो भी विधायक इस बैठक में शामिल नहीं होगा उसके खिलाफ दल बदल कानून लागू होगा और मान लिया जाएगा कि उसने पार्टी को छोड़ने का फैसला लिया है और पार्टी में उसकी प्राथमिक सदस्यता को रद्द कर दिया जाएागा।

इन तमाम उठापटक के बीच मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने सरकार में भरोसा जताते हुए कहा कि प्रदेश सरकार पर कोई संकट नहीं है। दोनो विधायकों के सरकार से अलग होने के बाद भी प्रदेश की सरकार को कोई खतरा नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार स्थिर और पूरी तरह से निश्चिंत है

मालूम हो, मंगलवार देर रात निर्दलीय विधायक एच नागेश और केपीजेपी के विधायक आर शंकर ने सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया था। दोनो ने अपने समर्थन को वापस लेने की चिट्ठी को राज्यपाल को भेज दिया है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in