वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर कर्टली एम्ब्रोस ने बुमराह को बताया अन्य गेंदबाजों से अलग, कहा- वह  400 टेस्ट विकेट हासिल कर सकता है

वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर कर्टली एम्ब्रोस ने बुमराह को बताया अन्य गेंदबाजों से अलग, कहा- वह  400 टेस्ट विकेट हासिल कर सकता है

वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर कर्टली एम्ब्रोस ने बुमराह को बताया अन्य गेंदबाजों से अलग, कहा- वह  400 टेस्ट विकेट हासिल कर सकता है

नई दिल्लीः वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज कर्टली एम्ब्रोस ने कहा है कि भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ जसप्रीत बुमराह उन अन्य गेंदबाजों से काफी अलग हैं जिन्हें उन्होंने देखा है और अगर वह फिट रहते हैं तो टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट की उपलब्धि हासिल कर सकते हैं.

खुद को बताया जसप्रीत बुमराह का बड़ा प्रशंसकः
वेस्टइंडीज की ओर से 98 टेस्ट में 20.99 की औसत से 405 विकेट चटकाने वाले एम्ब्रोस ने कहा कि मौजूदा भारतीय गेंदबाजों में वह बुमराह से सबसे अधिक प्रभावित हैं. एम्ब्रोस ने यू-ट्यूब पर ‘कर्टली एंड करिश्मा शो’ पर कहा कि भारत के पास कुछ अच्छे तेज गेंदबाज हैं. मैं जसप्रीत बुमराह का बड़ा प्रशंसक हूं. मैंने जिन गेंदबाजों को देखा है वह उनसे काफी अलग है. वह इतना अधिक प्रभावी है और मुझे उम्मीद है कि वह काफी अच्छा प्रदर्शन करेगा.

एम्ब्रोस का मानना 400 टेस्ट विकेट हासिल कर सकता है बुमराहः
यह पूछने पर कि क्या यह 27 वर्षीय तेज गेंदबाज 400 टेस्ट विकेट हासिल कर सकता है तो एम्ब्रोस ने कहा कि वह जब स्वस्थ और फिट रहता है और पर्याप्त समय तक खेलता है तो ऐसा कर सकता है. वह गेंद को सीम और स्विंग कर सकता है और शानदार यॉर्कर फेंकता है. उन्होंने कहा कि उसके पास काफी क्षमता है. इसलिए अगर वह लंबे समय तक खेल पाया तो मुझे यकीन है कि वह यह उपलब्धि हासिल कर सकता है. वर्ष 2018 में टेस्ट पदार्पण करने वाले बुमराह ने सिर्फ 19 टेस्ट में 22.10 की प्रभावी औसत से 83 विकेट चटकाए हैं और भारतीय टीम का अहम हिस्सा हैं.

छोटे रन अप से अपने शरीर पर कुछ अधिक दबाव डालता है बुमराहः
हमवतन कर्टनी वॉल्श के साथ मिलकर टेस्ट इतिहास की सबसे खतरनाक तेज गेंदबाजी जोड़ियों में से एक बनाने वाले एम्ब्रोस का मानना है कि भारतीय तेज गेंदबाज अपने छोटे रन अप से अपने शरीर पर कुछ अधिक दबाव डालता है. उन्होंने कहा कि तेज गेंदबाजी आम तौर पर लय से जुड़ी होती है. इसलिए गेंदबाजी करने से पहले आपको अच्छी लय की जरूरत होती है. एम्ब्रोस ने कहा कि बुमराह का रन अप काफी छोटा है. वह रन अप में अधिकांश समय चलता है और गेंद फेंकने से पहले शायद एक या दो या तीन कदम में हल्की तेजी दिखाता है. इसका मतलब है कि वह अपने शरीर पर कुछ अधिक दबाव डाल रहा है लेकिन अगर वह मजबूत रह पाता है तो मुझे लगता है कि कोई समस्या नहीं है.

एम्ब्रोस का मानना अच्छी सलामी जोड़ीदार विराट कोहली की टीम के लिए महत्वपूर्णः
भारत को 18 जून से साउथम्पटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना है और एम्ब्रोस का मानना है कि अच्छी सलामी जोड़ीदार विराट कोहली की टीम के लिए महत्वपूर्ण होगी. उन्होंने कहा कि यह बेहद महत्वपूर्ण है कि सलामी जोड़ी ठोस मंच तैयार करे क्योंकि अगर आपने एक या दो विकेट बेहद जल्दी गंवा दिए तो कप्तान कोहली काफी जल्दी निशाने पर होंगे और मध्यक्रम के अन्य खिलाड़ी भी. एम्ब्रोस ने कहा कि अगर आपको सलामी बल्लेबाजों से ठोस मंच मिलता है तो फिर मुझे यकीन है कि मध्यक्रम के लिए काफी आसानी रहेगी और टीम अच्छा स्कोर खड़ा कर पाएगी.
सोर्स भाषा

और पढ़ें