छोटे बच्चों की परवरिश में इन बातों का रखें खास ख्याल

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/09/27 03:30

नई दिल्ली। पहली बार मां बनने का एहसास बेहद खूबसूरत होता है। उससे कई ज्यादा मुश्किल मां को अपने बच्चे की परवरिश करने में होती है। आए दिन मां को परवरिश में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। मां बनना एक खुशी भी है साथ ही एक जिम्मेदारी का बड़ा विषय भी है। कई बार बच्चों की परवरिश के दौरान मां जाने-अनजाने में कुछ गलतियां कर देती है, जिससे बेबी की जान खतरे में पड़ सकती है। आज हम आपको बताएगें की परवरिश करते समय इन बातों का ध्यान रखा जाए तो आप अपने बच्चे की बेहतरीन देखभाल कर सकती है।

1 दूध पिलाने के बाद बच्चे को डकार जरूर दिलवाएं

बच्चे को कुछ भी खिलाने या दूध पिलाने के बाद डकार जरूर दिलवाएं। जिससे बच्चे के शरीर से गैस निकल जाती है। अगर खाने या दूध पीने के बाद बच्चा डकार नहीं लेता है तो बच्चे के पेट में दर्द का खतरा बढ़ जाता है और बच्चें को सोने में काफी तकलीफ हो सकती है। 

2 बेबी को ज्यादा रोने ना दें 

अगर बच्चा ज्यादा देर तक रोता रहता है बच्चे का स्ट्रेस लेवल बढ़ता है। जिससे बच्चे के विकास असर पड़ता है। चाइल्ड एक्सपर्ट के मुताबिक बच्चे के साथ ज्यादा समय बिताने से बच्चे का विश्वास आपके ऊपर गहरा होता जाता है और भविष्य में उनमें आत्मविश्वास की कमी नहीं रहती है।  

3 बच्चे को अकेला ना छोड़ें

कई बार लगता है बच्चा छोटा है और वह अपनी जगह से हिल नहीं सकता है। ये सोचकर बच्चें को अकेला छोड़ मां घर के काम में लग जाती है। तो सावधान हो जाएं आपको बता दें कई बच्चे छोटे होने के बावजूद करवटें बदलने लगते हैं जिससे उनके गिरने का खतरा होता है। इसलिए सोते हुए बच्चे को कभी अकेला ना छोड़ें या फिर बच्चें को जमीन पर सुलाएं।  

4 बच्चे का मुंह जमीन की ओर कर के सुलाना 

अपने बच्चे को कभी भी नीचे की ओर मुंह कर के लेटने नहीं दें। क्योंकि ये आपके बच्चे के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। अपने बेबी के सोने का तरीका कैसा है इस बात का हमेशा ध्यान रखे। बच्चे को हमेशा मुहं ऊपर की ओर कर के ही लिटाएं।
  
5 बच्चे को अलग-अलग तरह की खाने की चीजें न दें 

अधिकतर लोग नवजात शिशु को मां के दूध के अलावा भी कई दूसरी चीजें खिलाने की कोशिश करते हैं। आपको बता दें, बच्चे का डाइजेस्टिव सिस्टम बच्चों की तरह ही बेहद नाजुक होता है अलग-अलग चीजों के सेवन से बच्चे को एलर्जी हो सकती है। 

6 बच्चे को मुश्किल सजा न दें

आजकल बच्चे जन्म से ही काफी शरारती पैदा होते है। पैरेंट्स बच्चों की शरारतों से परेशान होकर उनको कड़ी सजा दे देते हैं। इससे बच्चे पर बुरा असर पड़ता है अगर बच्चा जरूरत से ज्यादा शरारत करता है तो उन्हें सजा देने के बजाए उन्हें शांति से समझाएं। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन

प्रेरक वक्ता राम चंदानी ने दिए सफलता के मूल मंत्र, जिंदगी वैसी बनाएं जैसी जीना चाहते है
मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन
थम गई सरिस्का के बाघ ST-4 की साँसे
रूस के पायलेट उड़ाएँगे भारत के विमान, जोधपुर मेँ अवींद्र ड्रिल आज से
श्री गंगानगर के करणपुर के बूथ नंबर 163 पर आज पुनर्मतदान
थम गई सरिस्का के बाघ ST-4 की साँसे
रूस के पायलेट उड़ाएँगे भारत के विमान, जोधपुर मेँ अवींद्र ड्रिल आज से
loading...
">
loading...