केजरीवाल ने महामारी से लड़ाई लड़ने वाले भारतीय चिकित्सकों को भारतरत्न देने की मांग की

केजरीवाल ने महामारी से लड़ाई लड़ने वाले भारतीय चिकित्सकों को भारतरत्न देने की मांग की

केजरीवाल ने  महामारी से लड़ाई लड़ने वाले भारतीय चिकित्सकों को भारतरत्न देने की मांग की

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Chief Minister Arvind Kejriwal) ने रविवार को कहा कि देश का शीर्ष नागरिक पुरस्कार (Top Civilian Award) इस साल उन सभी चिकित्सकों, नर्सों और पैरामेडिक्स को दिया जाना चाहिए जिन्होंने कोविड-19 महामारी के बीच लोगों की सेवा की. उन्होंने कहा कि यह उन चिकित्सकों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी जिन्होंने अपनी जान गंवाई.

शहीद हुए चिकित्सकों को मिलेगी सच्ची श्रद्धांजली:
केजरीवाल ने ट्वीट किया कि इस वर्ष भारतीय चिकित्सक को भारत रत्न (Bharat Ratna) मिलना चाहिए. भारतीय चिकित्सक (Indian Doctor) का मतलब सभी चिकित्सक, नर्स और पैरामेडिक्स हैं. शहीद हुए चिकित्सकों को यह सच्ची श्रद्धांजली होगी. अपनी जान और परिवार की चिंता किए बिना सेवा करने वालों का ये सम्मान होगा. पूरा देश इससे खुश होगा.

कोरोना के कारण कुल 730 चिकित्सकों की जान गई:
भारतीय चिकित्सा संघ (Indian Medical Association) (IMA) द्वारा मध्य जून में मुहैया कराए गए आंकड़ों के मुताबिक कुल 730 चिकित्सकों की जान कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर (Second Wave) के दौरान गई है. बिहार में सबसे अधिक 115 चिकित्सकों की कोविड-19 से मौत हुई है जबकि दिल्ली में 109, उत्तर प्रदेश में 79, पश्चिम बंगाल में 62, राजस्थान में 43, झारखंड में 39 और आंध्र प्रदेश में 38 चिकित्सकों ने महामारी से जान गंवाई है.

आईएम के मुताबिक देश में कोविड-19 महामारी की पहली लहर के दौरान 748 चिकित्सकों की मौत हुई थी.

और पढ़ें