जालोर में दो नाबालिग किशोरियों के अपहरण व गैंगरेप मामला, बाल संरक्षण आयोग अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने मामले को लिया गंभीरता से

जालोर में दो नाबालिग किशोरियों के अपहरण व गैंगरेप मामला, बाल संरक्षण आयोग अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने मामले को लिया गंभीरता से

जालोर में दो नाबालिग किशोरियों के अपहरण व गैंगरेप मामला, बाल संरक्षण आयोग अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने मामले को लिया गंभीरता से

जोधपुर: जिले में दो नाबालिग किशोरियों के अपहरण व गैंगरेप मामले में बाल सरंक्षण आयोग अध्यक्ष संगीतन बेनिवाल ने गंभीरता से से लेते हुए पूरे मामले में प्रसंज्ञान लिया है. प्रसंज्ञान लेने के साथ ही संगीता बेनिवाल ने पुलिस अधिकारियों से इस मामले में रिपोर्ट मांगी है. फरार आरोपियों को लेकर पुलिस को तुरंत गिरफ्तारी के भी आदेश दिए गए है. मामले की गंभीरता को देखते हुए आयोग अध्यक्ष संगीता बेनिवाल जालोर रवाना हुई जहां दोनो नाबालिग किशोरियों से मिलने के अलावा परिवार जनों से मिलकर हालात जानेंगी. 

आरोपी लड़कियों को पहाड़ियों पर बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गए थे: 
गौरतलब है कि जालोर जिले के भीनमाल थाना क्षेत्र के खाण्डादेवल गांव से कुछ युवकों द्वारा दो नाबालिग लड़कियों का अपहरण कर उनके साथ गैंगरेप करने की घटना सामने आई थी. गैंगरेप के बाद आरोपी लड़कियों को जसवंतपुरा थाना क्षेत्र के राजपुरा में सुंधामाता की पहाड़ियों पर बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गए थे. पहाड़ियों पर आरोपितों ने दोनों के साथ गैंगरेप किया था. सूचना पर पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंच लड़कियों को अचेत व घायल अवस्था में भीनमाल शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया था. जहां उनका इलाज चल रहा है. 

पहाड़ियों पर आरोपितों ने दोनों के साथ गैंगरेप किया था:
पड़िता के पिता ने रिर्पोट दर्ज करवाई कि खाण्डादेवल निवासी चेतनराम, अशोक, तेजाराम, पीराराम भील व दो अन्य ने उसके घर में प्रवेश कर उसकी नाबालिग बेटी व उसकी नाबालिग चचेरी बहन का अपहरण कर लिया था. अपहरण करने के बाद आरोपियो ने दोनों को जसवंतपुरा के राजपुरा गांव ले गए. जहां पहाड़ियों पर आरोपितों ने दोनों के साथ गैंगरेप किया था. गैंगरेप के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए. सूचना पर पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंच लड़कियों को अचेत व घायल अवस्था में भीनमाल शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया. जहां उनका इलाज चल रहा है. 

गैंगरेप के बाद आरोपी मौके से फरार:
पुलिस ने बताया कि पड़िता के पिता ने रिर्पोट दर्ज करवाई कि खाण्डादेवल निवासी चेतनराम पुत्र विरकाराम, अशोक पुत्र लसाराम, तेजाराम पुत्र लसाराम, पीराराम पुत्र करताराम भील व दो अन्य ने उसके घर में प्रवेश कर उसकी नाबालिग बेटी व उसकी नाबालिग चचेरी बहन का अपहरण कर लिया. अपहरण करने के बाद आरोपियो ने दोनों को जसवंतपुरा के राजपुरा गांव ले गए. जहां पहाड़ियों पर आरोपितों ने दोनों के साथ गैंगरेप किया. गैंगरेप के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए.  

और पढ़ें