श्रीनगर महबूबा मुफ्ती बोलीं- नागरिकों की हत्या जम्मू-कश्मीर में स्थिति सामान्य होने के दावों की पोल खोलती है

महबूबा मुफ्ती बोलीं- नागरिकों की हत्या जम्मू-कश्मीर में स्थिति सामान्य होने के दावों की पोल खोलती है

महबूबा मुफ्ती बोलीं- नागरिकों की हत्या जम्मू-कश्मीर में स्थिति सामान्य होने के दावों की पोल खोलती है

श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने गुरुवार को केंद्र की जम्मू-कश्मीर नीति पर सवाल उठाते हुए कहा कि नागरिकों की हत्या इस केंद्र शासित प्रदेश में स्थिति सामान्य होने के सरकार के दावों की पोल खोलती है.

महबूबा ने ट्वीट किया कि कश्मीर में शोक हर दिन का एक दुखद रिवाज बन गया है. अनगिनत नागरिक किसी न किसी तरीके से मारे जाते हैं और तबाह हो चुके परिवार उस कष्ट को (जिन्दगी भर) भोगते रहते हैं. इस रक्तपात को समाप्त करने के लिए जम्मू-कश्मीर नीति में कुछ बदलाव के लिए केंद्र सरकार क्या करेगी? बडगाम जिले के चदूरा इलाके में बुधवार को लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादियों द्वारा टीवी अभिनेत्री की हत्या पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार, हालांकि स्थिति सामान्य होने का दावा कर रही है, लेकिन वीभत्स हत्याएं कुछ अलग कहानी बयां कर रही हैं.

महबूबा ने कहा कि भारत सरकार जम्मू-कश्मीर में स्थिति सामान्य होने का ढोल पीट रही है, जबकि ऐसी वीभत्स हत्याएं कुछ अलग कहानी बयां कर रही हैं. अम्बरीन भट के परिजनों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदनाएं और उनके भतीजे के जल्द स्वस्थ होने की ईश्वर से प्रार्थना. गौरतलब है कि मई माह के दौरान आतंकवादियों द्वारा दो नागरिक- अम्बरीन भट एवं कश्मीरी पंडित राहुल भट- तथा ऑफ-ड्यूटी तीन पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या की जा चुकी है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें