लुधियाना केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने लुधियाना अदालत विस्फोट स्थल का किया दौरा, कहा- केंद्र व राज्य मिलकर कर रहे हैं काम

केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने लुधियाना अदालत विस्फोट स्थल का किया दौरा, कहा- केंद्र व राज्य मिलकर कर रहे हैं काम

केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने लुधियाना अदालत विस्फोट स्थल का किया दौरा, कहा- केंद्र व राज्य मिलकर कर रहे हैं काम

लुधियाना: केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्री किरेन रिजिजू ने शुक्रवार को लुधियाना जिला अदालत का दौरा किया जहां एक दिन पहले बम विस्फोट हुआ था. उन्होंने कहा कि देश के साथ राज्य में शांति और सद्भाव को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे घरेलू एवं विदेशी तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित करने के लिए केंद्र और राज्य मिलकर काम करेंगे. रिजिजू ने कहा कि केंद्र और राज्य की एजेंसियां ​​पहले से ही घटना की व्यापक जांच कर रही हैं. लुधियाना के जिला अदालत परिसर में गुरुवार को हुए बम विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत हो गई और छह अन्य घायल हो गए थे.

रिजिजू ने पत्रकारों को बताया कि उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से बात की थी और यह तय किया गया था कि केंद्र और राज्य की एजेंसियां ​​संयुक्त रूप से इस मामले की जांच करेंगी तथा इस कायराना कृत्य करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि उनकी यात्रा का मुख्य मकसद लुधियाना के साथ ही पंजाब के लोगों को यह विश्वास दिलाना है कि राज्य सरकार के साथ समन्वित प्रयास शुरू कर इस घटना की व्यापक जांच की जाएगी. रिजिजू ने कहा कि उन्होंने विस्फोट के पीड़ितों और पंजाब के लोगों के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सहानुभूति और समर्थन से भी अवगत कराया. उन्होंने कहा कि यह एक गंभीर घटना व एक संवेदनशील मुद्दा है और केंद्र एवं राज्य सरकारें पूर्ण समन्वय के साथ काम करेंगी तथा ऐसे संवेदनशील मुद्दों पर केंद्र और राज्य की आवाज एक होनी चाहिए.

यह पूछे जाने पर कि पंजाब में कुछ राजनीतिक नेता इस घटना पर अलग-अलग स्वर में बोल रहे हैं, रिजिजू ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है, हम जिम्मेदार लोग हैं. हमें जिम्मेदारी से बोलना चाहिए. उन्होंने कहा कि राजनीति अंतिम उपाय होना चाहिए. उन्होंने कहा कि न्यायपालिका और न्यायिक परिसरों की सुरक्षा केंद्र सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है. रिजिजू के साथ केंद्रीय राज्य मंत्री सोम प्रकाश और राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला भी थे. वे अस्पताल भी गए और विस्फोट में घायल हुए लोगों का हालचाल पूछा. रिजिजू ने जिला एवं सत्र न्यायाधीश और वकीलों से भी बातचीत की. इससे पहले दिन में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने चंडीगढ़ में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनकी सरकार ने विस्फोट मामले को सुलझाने के लिए केंद्र का सहयोग मांगा है. चन्नी ने कहा कि उन्होंने विस्फोट के कुछ घंटे बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बात की थी और केंद्र ने बम विस्फोट की जांच के लिए पंजाब में टीम भेजी है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें