कोटा किसान आंदोलन में खाये जा रहे चिकन-मुर्गे, इससे पैदा हो गयी बर्ड फ्लू फैलने की गंभीर आशंकाएं- मदन दिलावर

किसान आंदोलन में खाये जा रहे चिकन-मुर्गे, इससे पैदा हो गयी बर्ड फ्लू फैलने की गंभीर आशंकाएं- मदन दिलावर

कोटा: बीजेपी के प्रदेश महामंत्री और कोटा के रामगंजमंडी से विधायक मदन दिलावर का एक विवादित बयान सामने आया है. किसान आंदोलन के बारे में बोलते हुए दिलावर ने कहा कि देश के तथाकथित किसान आंदोलन में चिकन-मुर्गे खाये जा रहे हैं. इससे बर्ड फ्लू फैलने की गंभीर आशंकाएं है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ये आंदोलन नहीं पिकनिक मना रहे हैं. काजू-बादाम खाने के साथ सब प्रकार के ऐश आराम कर रहे हैं. 

 

इससे आगे बोलते हुए दिलावर ने कहा कि भेष बदल-बदल कर वहां इस प्रकार से आ रहे हैं जिसमे आतंकवादी भी हो सकते हैं, कोई चोर-लुटेरे भी हो सकते हैं. इसके साथ किसानों को दुश्मन भी हो सकते हैं. वे सब लोग देश को बदनाम करना चाहते हैं. इसके साथ ही चिकन बिरयानी खा करके बर्ड फ्लू फैलाने का श्रेय लेंगे. मुझे पूरी आशंका है कि कुछ दिनों तक अगर सरकार ने इनको चाहे निवेदन करके या फिर सख्ती ने नहीं हटाया तो देश में बर्ड फ्लू बड़ा रूप धारण कर सकता है. 

किसान संगठनों और सरकार के बीच आठवें दौर की वार्ता बेनतीजा रही:
वहीं दूसरी ओर  किसान संगठनों और सरकार के बीच आठवें दौर की वार्ता एक बार फिर बेनतीजा रही. मुश्किल से दो घंटे की बातचीत के दौरान माहौल सामान्य नहीं रहा, जिससे वार्ता स्थगित हो गई. किसान संगठनों के नेता न तो सरकार के प्रस्ताव पर चर्चा के लिए तैयार हुए और न ही कोई और विकल्प पेश कर सके. सरकार की ओर से इन सभी मुद्दों पर विशेषज्ञ समिति के गठन की बात कही गई, जिसे किसान नेताओं ने खारिज कर दिया. वे कृषि कानूनों को रद करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी वाला कानून बनाने की मांग पर अड़े रहे. 

और पढ़ें