Kota Kota: गड्ढे में गिरने के बाद करंट लगने से युवक की दर्दनाक मौत, बिजली कंपनी की लापरवाही पर मुआवजे की मांग

Kota: गड्ढे में गिरने के बाद करंट लगने से युवक की दर्दनाक मौत, बिजली कंपनी की लापरवाही पर मुआवजे की मांग

Kota: गड्ढे में गिरने के बाद करंट लगने से युवक की दर्दनाक मौत, बिजली कंपनी की लापरवाही पर मुआवजे की मांग

कोटा: जिले के स्टेशन क्षेत्र में आज एक निर्माणाधीन सड़क पर बने गड्ढे में भरे पानी में गिरने के बाद करंट लगने से एक 38 वर्षीय युवक सोनू की दर्दनाक मौत हो गयी. पूरे मामले में लापरवाही का आरोपों के साथ हंगामा बरप गया. लोकसभा स्पीकर ओमबिरला मोर्चरी पहुंचे और बाद में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पहुंचकर हंगामा शुरु कर दिया.

इस बीच यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के पुत्र अमित धारीवाल ने इस लापरवाही पर निजी बिजली कंपनी की जमकर खिंचाई की. बाद में कलेक्टर हरिमोहन मीणा के चैंबर में प्रशासन और बिजली कंपनी के अधिकारियों के साथ बैठक में मुआवजे पर बात बनी. बीजेपी विधायक संदीप शर्मा भी मोर्चरी पहुंच गये और मृतक का शव तुरंत दिये जाने की मांग करने लगे.

10 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी का प्रस्ताव:

आखिरकार 10 लाख के मुआवजे और सरकारी नौकरी का प्रस्ताव मुख्यालय भेजने पर सहमति बनी तो परिजनों को शव की सुपुर्दगी कर दी गयी. कांग्रेस नेता अमित धारीवाल ने पीड़ित परिवार को भरोसा दिलाया कि सरकारी नौकरी के प्रस्ताव में तकनीकी अड़चने आयी तो मृतक की पत्नी को यूआईटी से एक दुकान का नि:शुल्क आवंटन किया जायेगा. इस दौरान बीजेपी विधायक संदीप शर्मा ने इस लापरवाही की ज़िम्मेदारी तय करने और दोषियों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की मांग पुरजोर ढंग से उठायी.

और पढ़ें