ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए बजट की कमी नहीं आने देंगे, नवसृजित ग्राम पंचायत खेलाना में भवन का किया शिलान्यास 

ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए बजट की कमी नहीं आने देंगे, नवसृजित ग्राम पंचायत खेलाना में भवन का किया शिलान्यास 

ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए बजट की कमी नहीं आने देंगे, नवसृजित ग्राम पंचायत खेलाना में भवन का किया शिलान्यास 

जयपुर: अल्पसंख्यक मामलात मंत्री. शाले मोहम्मद ने जैसलमेर जिले में नव सृजित ग्राम पंचायत खेलाना के भवन निर्माण कार्य का शिलान्यास किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए किसी प्रकार की बजट की कमी नहीं आने देंगे. 

ग्रामीण क्षेत्र में सुविधाएं मुहैया कराने के लिए सरकार प्रतिबद्ध:
इस दौरान उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में हर प्रकार की सुविधाएं मुहैया कराने के लिए सरकार प्रतिबद्ध हैं.  ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए किसी प्रकार की बजट की कमी नहीं आने देंगेनई ग्राम पंचायत बनने से क्षेत्र के लोगों को कई प्रकार की जन सुविधाएं अपने घर के निकट ही उपलब्ध हो सकेंगी. इससे आमजन के कार्य समय पर हो सकेंगे, जिससे जनता को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी. जनता को जागरूक होकर सरकार की ओर से संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का अधिकाधिक लाभ लेना चाहिए. 

कार्यक्रम के दौरान मंत्री ने जरूरतमंद परिवारों को राशन किट वितरित किए. उन्होंने कहा कि सरकार हर वर्ग एवं तबके के सहयोग के लिए कार्य कर रही है. इसके बाद मंत्री ने पंचायत परिसर में पौधरोपण भी किया.

जरूरतमंदों की मदद के लिए हर समय तैयार:
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि गरीब एवं जरूरतमंदों की हर सम्भव मदद के लिए सरकार तत्पर है. राज्य सरकार की ओर से जनकल्याण के लिए अनेकों योजनाएं संचालित की जा रही है. अब जरूरत इस बात की है कि जरूरतमंद लोग जागरूकता के साथ इनका पूरा-पूरा लाभ लेने आगे आएं. उन्होंने इस दौरान क्षेत्र के जरूरतमंद परिवारों को राशन सामग्री वितरित की.

सामाजिक फर्ज मानकर करें पौधारोपण:
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री . शाले मोहम्मद ने जैसलमेर जिले के पोकरण विधानसभा क्षेत्र में राजकीय बालिका विद्यालय भणियाणा, राउमावि चैनपुरा एवं नव सृजित ग्राम पंचायत खेलाना में पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया. 

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना ने पर्यावरण की महत्ता को बता दिया है. पूरे देश में ऑक्सीजन की कमी से जो स्थितियां देखी गई हैं उन हालातों में इस बीमारी ने यह जता दिया है कि पेड़- पौधे मानव जीवन के लिए कितने जरूरी हैं. उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को कम से कम एक पौधा हर वर्ष लगाना चाहिए ताकि पर्यावरण सुरक्षित रह सके. जब पर्यावरण सुरक्षित रहेगा तभी मानव जीवन सुरक्षित रह पाएगा.

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने अपने उद्बोधन में कहा कि शिक्षा को बढ़ावा देने एवं शैक्षणिक सुविधाओं में वृद्धि के लिए वे शिद्दत से प्रयास कर रहे हैं. विद्यार्थियों के रहने के लिए छात्रावास बनाए जा रहे हैं. उच्च शिक्षा के लिए कलेज खोले जा रहे हैं. 

उन्होंने कहा कि सरकार ने जो वादे किए थे उन्हें पूरा करने के लिए भरसक प्रयास जारी हैं और इनमें कहीं कोई कमी नहीं आने दी जाएगी. इस दौरान मंत्री के साथ पूर्व जिला प्रमुख अब्दुल्ला फकीर, जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी मौजूद रहे.

और पढ़ें