नई दिल्ली लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में सिब्बल का सु्प्रीम कोर्ट से आग्रह, कहा- हमारे नागरिकों पर गाड़ी चढ़ाकर की जाती है उनकी हत्या, करें कठोर कार्रवाई

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में सिब्बल का सु्प्रीम कोर्ट से आग्रह, कहा- हमारे नागरिकों पर गाड़ी चढ़ाकर की जाती है उनकी हत्या, करें कठोर कार्रवाई

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में सिब्बल का सु्प्रीम कोर्ट से आग्रह, कहा- हमारे नागरिकों पर गाड़ी चढ़ाकर की जाती है उनकी हत्या, करें कठोर कार्रवाई

नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने बुधवार को लखीमपुर खीरी हिंसा मामले का हवाला देते हुए कहा कि उच्चतम न्यायालय को इस मामले पर स्वत संज्ञान लेते हुए कदम उठाना चाहिए. 

सिब्बल ने किया ट्वीट:
उन्होंने ट्वीट किया कि एक ऐसा समय था जब यूट्यूब, कोई सोशल मीडिया नहीं था, तब सुप्रीम कोर्ट प्रिंट मीडिया की खबरों के आधार पर स्वत संज्ञान लेते हुए कदम उठाता था. उसने उन लोगों की आवाज सुनी, जिनकी कोई नहीं सुन रहा था. वरिष्ठ वकील सिब्बल ने आग्रह किया कि आज हमारे नागरिकों पर गाड़ी चढ़ाई जाती है और उनकी हत्या कर दी जाती है. सुप्रीम कोर्ट से आग्रह है कि वह इस पर कदम उठाए. 

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. इस मामले में मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें