जयपुर उदयपुर घटनाक्रम पर ताजा अपडेट: पूरे राजस्थान में 24 घंटे तक बंद रहेगा इंटरनेट, धारा 144 भी रहेगी लागू 

उदयपुर घटनाक्रम पर ताजा अपडेट: पूरे राजस्थान में 24 घंटे तक बंद रहेगा इंटरनेट, धारा 144 भी रहेगी लागू 

उदयपुर घटनाक्रम पर ताजा अपडेट: पूरे राजस्थान में 24 घंटे तक बंद रहेगा इंटरनेट, धारा 144 भी रहेगी लागू 

जयपुर: उदयपुर घटनाक्रम को लेकर इस वक्त की सबसे बड़ी खबर मिल रही है. पूरे राजस्थान में इंटरनेट सेवा बंद होगी.आगामी 24 घंटे तक पूरे प्रदेश में इंटरनेट बंद रहेगा. पूरे प्रदेश में धारा 144 भी लागू रहेगी. DGP और ACS होम के साथ बैठक में लिया फैसला हुई. राजस्थान पुलिस ने उदयपुर जिले में हुई टेलर की नृशंस हत्या में कथित रूप से दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है.पुलिस के अनुसार आरोपियों को राजसमंद जिले के भीम क्षेत्र से पकडा गया.

राजसमंद के पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने कहा कि दोनों आरोपी मोटरसाइकिल पर हेलमेट पहनकर भागने की कोशिश कर रहे थे लेकिन उन्हें भीम क्षेत्र में नाकेबंदी के दौरान पकड़ लिया गया. उन्होने कहा कि हमने आरोपियों की पहचान की पुष्टि की है. 10 टीम को आरोपियों की तलाश में लगाया था.राजसमंद उदयपुर जिले का पड़ोसी जिला है. 

आपको बता दें कि राजस्थान में उदयपुर जिले के धानमंडी थानाक्षेत्र में मंगलवार को दिन दहाड़े एक टेलर की हत्या के बाद उपजे तनाव के बाद शहर के सात थाना क्षेत्रों में मंगलवार रात आठ बजे से आगामी आदेश तक कर्फ्यू लगा दिया गया. उदयपुर के जिलाधीश ताराचंद मीणा ने सात थाना क्षेत्रों-- धानमंडी, घंटाघर, हाथीपोल, अंबामाता सूरजपोल, भूपालपुरा और सवीना में कर्फ्यू के आदेश जारी किये. आदेशानुसार मंगलवार रात आठ बजे कर्फ्यू प्रभाव में आ गया है.

मीणा के अनुसार हालांकि आवश्यक सेवाओं में लगे लोंगो, परीक्षा में बैठने वाले छात्रों और परीक्षा प्रक्रिया में लगे कर्मचारियों को कर्फ्यू से छूट दी जायेगी। उनका कहना था कि शहर में मोबाइल इंटरनेट सेवा को भी बंद कर दिया गया है. उनके मुताबिक इस दौरान स्थिति पर नजर बनाये रखने के लिये दो अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, एक पुलिस उपमहानिरीक्षक, एक पुलिस अधीक्षक, राजस्थान पुलिस सेवा के 30 अधिकारियों और पांच आरएसी की कंपनियों को उदयपुर भेजा गया है. अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) हवा सिंह घुमरिया ने कहा कि राज्य स्तर पर अलर्ट जारी किया गया है और रेंज पुलिस महानिरीक्षक और पुलिस अधीक्षक को एहतियात के तौर पर गश्त बढ़ाने और गतिशीलता बढाने के लिये कहा गया है.

और पढ़ें