सीएम गहलोत की सर्वदलीय बैठक, वीसी के जरिये हो रहा है संवाद, गुलाबचंद कटारिया ने रखी अपनी बात

सीएम गहलोत की सर्वदलीय बैठक, वीसी के जरिये हो रहा है संवाद, गुलाबचंद कटारिया ने रखी अपनी बात

जयपुर: कोरोना संकट को लेकर रविवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये राजस्थान के सभी विधायकों से चर्चा कर रहे है. दलगत राजनीति से उठकर यह संवाद है. सभी विधायक सीएम गहलोत को अपने अपने क्षेत्रों की स्थिति से अवगत करवा रहे है. इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में डिप्टी सीएम सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, BJP प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, भाजपा-कांग्रेस के सभी विधायकों से कोरोना समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा हो रही है. प्रदेश का पूरा मंत्रिमंडल भी  वीडियो कांफ्रेंसिंग में मौजूद रहेगा. इस बैठक में CPM, RLP, BTP के सभी विधायक मौजूद हैं.

गुलाबचंद कटारिया ने रखी अपनी बात:
सीएम गहलोत की वीसी में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने अपनी बात रखी.  मुख्यमंत्री गहलोत के प्रयासों की तारीफ करते हुए कटारिया ने कुछ सवाल भी उठाये.  कटारिया ने कहा कि निचले स्तर तक की मॉनिटरिंग की जाए. नीचे के अफसर ठीक काम नहीं कर रहे है. हमें डिटेल दी जाए ताकि संतुष्टि हो सके.

सिक्किम बॉर्डर पर भारत-चीन के सैनिक आमने-सामने, नाकु ला सेक्टर के पास हुई झड़प ! 

सरकार की मंशा सबको साथ लेकर चलने की है:
नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि सीमा पर मजदूरों को कलेक्टर अनुमित दें. क्वॉरेंटाइन सेंटर पर हालातों की समीक्षा की बात कही है. केन्द्र ने कुछ मदद नहीं दी ये कहना बंद करना होगा. क्योंकि इससे फिर हमारा भी मन बदल जाता है. कांग्रेस विधायक नाम छपवा कर राशन बांट रहे है. जबकि भाजपा के विधायक को सामग्री वहीं छोड़ने को कहा जाता है. कटारिया ने जोर देकर कहा कि हम कोरोना की लड़ाई में पार्टी पॉलिटिक्स नहीं लाना चाहते है. मेरी पार्टी 24 घण्टों कोरोना की लड़ाई में साथ है. सीएम गहलोत ने कहा कि सरकार की मंशा सबको साथ लेकर चलने की है.

सीएम गहलोत का जताया आभार
मुख्यमंत्री गहलोत के संवाद में 17 मई के बाद की रणनीति को लेकर चर्चा कर रहे है. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने सुझाव देते हुए नई परिपाटी शुरू करने के लिए सीएम गहलोत का आभार जताया है. कटारिया ने अन्य राज्यों से आ रहे श्रमिकों की परेशानी का मुद्दा उठाया है. कहा कि राज्य की सीमा पर उन्हें घंटों इंतजार करना पड़ता है. पैदल चल रहे लोगों के लिए वाहन और भोजन की व्यवस्था सरकार करवाए. कुछ मुद्दों पर कटारिया ने नाराजगी भी जताई है. कोरोना सेंटर में बड़े चिकित्सकों के नहीं जाने पर कटारिया ने नाराजगी जताई है. कटारिया ने कहा कि कहा कि दिल्ली ने कुछ नहीं दिया इस तरह के बयान देना गलत है. जवाब में हमें भी बयान बाजी करनी पड़ती है. विधानसभा में जब हम कह चुके है, राजनीति से ऊपर उठकर हम सरकार के साथ है. चिकित्सक और पुलिसकर्मियों पर हमला करने वालों के खिलाफ संगीन केस बनाए जाएं.

अमेरिका में भारतीय राजदूत का बयान, भारत-अमेरिका मिलकर बना रहे कोरोना वैक्सिन 

सीपी जोशी ने उठाया प्रवासियों का मुद्दा:
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की वीसी में विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी भी जुड़े है. सीपी जोशी ने सीएम को इस पहल पर धन्यवाद दिया है. सीपी जोशी ने कहा कि नेताओं की जिम्मेदारी है कि लोगों के मन से डर निकाले. सावधानी जरूर रखें, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क के बिना काम नहीं चलेगा. राज्य में एक भी मरीज वेंटिलेटर पर नहीं है. विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि बिहेवियर चेंज जरूरत और इसमें नेता महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है. सीएम गहलोत और सीपी जोशी की वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये वार्ता हुई, जिसमें सीपी जोशी ने प्रवासियों का मुद्दा उठाया है.

और पढ़ें