Live News »

Rajasthan Lockdown: भेड़ बकरियों के जैसे लोगों को भरकर ला रहे है लोडिंग वाहन, जिम्मेदार कौन?

Rajasthan Lockdown: भेड़ बकरियों के जैसे लोगों को भरकर ला रहे है लोडिंग वाहन, जिम्मेदार कौन?

झालावाड़: पूरे देशभर में कोरोना वायरस की वजह से लॉक डाउन है. शासन और प्रशासन समेत पूरी दुनिया इस कोरोनावायरस के कहर से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग की बात कर रहे है. सरकार की तरफ से सोशल डिस्टेंस को लेकर कई तरह के प्रयास किए जा रहे हैं. समझाइश की जा रही है. वहीं दूसरी तरफ सारे प्रयासों को विफल कर देने वाली एक भयावह तस्वीर यह भी है. मजदूरी करने गए कुछ लोग टोंक से मनोहरथाना तक भेड़ बकरियों की जैसे भरकर इस लोडिंग वाहन में लाए गए. जब इसको रोककर पूछा गया तो वाहन चालक ने 17 लोगों को टोंक से लाने की परमिशन दिखाई. जो इसको मनोहरथाना एसडीएम के द्वारा दी गई. लोडिंग वाहन में लोग भेड़ बकरियों के जैसे ठसाठस भरे हुये थे.

Rajasthan Lockdown: मजदूरों के लिए सबसे बड़ी राहत भरी खबर, शुरू होगी राजस्थान रोडवेज बस सेवा

लोगों की जिंदगी से खिलवाड़:
परमिशन मात्र 17 लोगों को लाने की थी जो कि 17 लोग तो वाहन के बाहर ही लटके हुए थे. वाहन में परिमिशन से करीब तीन से चार गुना लोगों को भरकर यह लोडिंग माल वाहन लेकर आ रहा था. सबसे बड़ा सवाल टोंक से लेकर मनोहरथाना तक चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है, लेकिन कहीं पर भी पुलिस ने नहीं रोका. रोका तो छोड़ कैसे दिया? झालावाड़ में वाहन का 300 रुपए का चालान बनाया गया और छोड़ दिया गया. ऐसे ड्राइवर थोड़े से पैसे के लालच में लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं. ऐसे में क्या ऐसे वाहन चालकों को परमिशन देना उचित है. सरकार बार-बार कह रही है कि जो जहां है वही रहे सभी को खाने-पीने के बंदोबस्त किए जा रहे.

Coronavirus Updates: पूरी दुनिया में कोरोना का कहर, विश्वभर में संक्रमितों की संख्या पहुंची 6 लाख

प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती:
समाजसेवी संस्था समाजसेवी लोग राशन सामग्री बांट रही है. बावजूद इसके लोग अपने अपने घरों पर पहुंचने के लिए जिद पर अड़े हुए हैं. और इस तरह से भेड बकरियों के जैसे भरकर अपने गांव में पहुंच रहे हैं जो स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती बने हुए हैं. यह तस्वीर जो हम आपको दिखा रहे हैं यह तस्वीर है अकलेरा के भोपाल नाका की जहां ड्यूटी पर तैनात कांस्टेबल ने इसे लेकिन लोडिंग वाहन चालक ने बात नहीं सुनी और आगे बढ़ गया.

और पढ़ें

Most Related Stories

कोरोना वायरस संक्रमण फैलाने पर क्लीनिक संचालक सहित 4 के विरुद्ध प्रकरण दर्ज

कोरोना वायरस संक्रमण फैलाने पर क्लीनिक संचालक सहित 4 के विरुद्ध प्रकरण दर्ज

झालावाड़: जिले के झालरापाटन थाना अधिकारी जगदीश मीणा ने बताया कि कस्बा झालरापाटन में सब्जी कुईया के पास स्थित क्लीनिक संचालक द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण फैलाने पर क्लीनिक संचालक के विरुद्ध थाना झालरापाटन पर राजस्थान महामारी अधिनियम 2020 तथा रोग संक्रमण फैलाने की धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है.

121 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन, 4 सप्ताह में 1 लाख 73 हजार प्रवासियों को पहुंचाया गंतव्य तक 

घटना का विवरण:  
पुलिस उप अधीक्षक व्रत झालावाड़ ने बताया कि विगत दिनों कस्बा झालरापाटन में कोरोना के पॉजिटिव आए मरीजों की हिस्ट्री मालूमात की तो ज्यादातर मरीजों ने सब्जी कुईया के पास स्थित एक क्लीनिक पर प्राइवेट कंपाउंडर से इलाज करवाना बताया था. इस पर क्लीनिक संचालक इब्राहिम पुत्र शेख जाति बोहरा मुसलमान निवासी सब्जी कुईया के पास झालरापाटन का कोरोना वायरस जांच हेतु चिकित्सा टीम द्वारा सैंपल लेना चाहा तो क्लीनिक संचालक द्वारा चिकित्सा टीम को सैंपल देने से मना कर दिया. परंतु जब ज्यादातर पॉजिटिव मरीजों का क्लीनिक संचालक के संपर्क में होने की हिस्ट्री पूछताछ पर सामने आई तो पुलिस द्वारा जबरन क्लीनिक संचालक का चिकित्सा टीम को सैंपल दिलवाया गया जो जांच में पॉजिटिव पाया गया. क्लीनिक संचालक ने अपनी हिस्ट्री छुपाकर कोरोना वायरस संक्रमण फैलाकर आम जनता का जीवन संकट में डाला है और असाध्य रोग फैलाने में सहायक रहा है. 

आम जनता का जीवन संकट में डालने की धाराओं में प्रकरण दर्ज: 
इस पर झालरापाटन के हरिप्रसाद लकवाल मुख्य चिकित्सा अधिकारी सेटेलाइट अस्पताल झालरापाटन द्वारा दिए जाने पर क्लीनिक संचालक इब्राहिम के विरुद्ध राजस्थान महामारी अध्यादेश 2020 तथा असाध्य रोग का संक्रमण फैला कर आम जनता का जीवन संकट में डालने की धाराओं में आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया है.  

रेल मंत्रालय ने की यात्रियों से अपील, पूर्व ग्रसित बीमारी वाले व्यक्ति नहीं करें रेल यात्रा 

मौत के बाद लॉक डाउन का उल्लंघन होने पर लोगों पर मुकदमा दर्ज:
साथ ही इमली गेट पर 1 महिला की मौत होने पर 1 परिवार के 3 लोगों पर भी मुकदमा दर्ज हुवा जिन्होंने मौत के बाद लॉक डाउन का उल्लंघन कर बड़ा प्रोग्राम आयोजित किया, जिसमे बड़ी संख्या में लोगों ने शिरकत की जिसके कारण mp से लोगों का यहा बड़ी संख्या में पहुंचे और कोरोना फैलाने में कारण बने. इस पर पुलिस ने 4 लोगों पर मुकदमा दर्ज कर अनुसन्धान शुरू कर दिया है.  

झालावाड़ में कोरोना विस्फोट, पिछले 12 घंटे में सामने आए 64 नए मामले

झालावाड़ में कोरोना विस्फोट, पिछले 12 घंटे में सामने आए 64 नए मामले

झालावाड़: जिले में पिछले 12 घंटे में 64 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. 112 सैम्पलों की रिपोर्ट ने जिले में हड़कम्प मचा दिया. इस रिपोर्ट में 64 मरीज नए सामने आये है और इसमें 62 नए मरीज झालरापाटन मे निकले है ये सभी मरीज इमली गेट क्षेत्र बताये जा रहे हैं. ये सभी मरीज इमली गेट क्षेत्र के बताये जा रहे हैं साथ ही 2 केस अकलेरा क्षेत्र के बताए जा रहे है. ऐसे में अब जिले में 135 कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं.  

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 109 पॉजिटिव केस, संक्रमितों का ग्राफ पहुंचा 7645 

यहां पिछले 3 दिनों में 77 नए केस देखने को मिले: 
ऐसे में झालरापाटन क्षेत्र कोरोना हाट स्पॉट बना है. यहां पिछले 3 दिनों में 77 नए केस देखने को मिले हैं. जबकि 2 अकलेरा के मरीज सामने आए हैं. आज 64 केस सामने आने से प्रशासन में हड़कम्प मच गया. 

दो—दो नगर निगम बनाने का फैसला सरकार का नीतिगत निर्णय, हाईकोर्ट नहीं करें हस्तक्षेप— महाधिवक्ता 

झालरापाटन क्षेत्र में अधिकारियों ने डेरा जमा लिया:
बात करें तो आज सुबह से ही झालरापाटन क्षेत्र में अधिकारियों ने डेरा जमा लिया है और शहर के प्रमुख बाजारों को सीज कर दिया है. लोगों को घरों में रहने और जरूरत के बगैर बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी. वहीं राजस्थान में इसके अलावा भरतपुर में 6, बीकानेर में 1, दौसा में 1, जयपुर में 6, झुंझुनूं में 2, करौली में 1, कोटा में 16 और नागौर में 12 केस चिन्हित किए गए है. ऐसे में राजस्थान में अब संक्रमित मरीजों का ग्राफ बढ़कर 7645 पहुंच गया है. 

CORONA WARRIORS: श्रीवल्लभ पित्ती ग्रुप रोजगार के लिए आया आगे, हेल्थ वर्कर के परिजनों को मिलेगी प्राथमिकता

CORONA WARRIORS: श्रीवल्लभ पित्ती ग्रुप रोजगार के लिए आया आगे, हेल्थ वर्कर के परिजनों को मिलेगी प्राथमिकता

झालावाड़: एक तरफ प्रदेश में जहां कोरोना संक्रमितों का ग्राफ बढ़ता जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर कोरोना को फैलने से रोकने के लिए पहली पंक्ति में खड़े हेल्थ वर्कर के परिजनों को श्रीवल्लभ पित्ती ग्रुप अपने यहां रोजगार में प्राथमिकता देने के लिए आगे आया है.  

प्रथम पंक्ति में खड़े वर्करों के परिजनों को मिलेगी प्राथमिकता:
श्रीवल्लभ पित्ती ग्रुप के चेयरमैन विनोद पित्ती ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की इस संकट के समय में सभी को चिकित्सा, रोजगार और खाना उपलब्ध कराने की द्रढ़ संकल्प शक्ति की प्रशंसा करते हुए बताया कि इस महामारी से पीड़ित लोगों के इलाज और उसको समाज में फैलने से रोकने के लिए प्रथम पंक्ति में खड़े हमारे हेल्थ वर्करों के परिजनों और रिश्तेदारों को ग्रुप अपने यहां रोजगार में प्राथमिकता देगा. 

ग्रुप द्वारा रोज निशुल्क भोजन वितरण भी किया जा रहा:
उन्होंने बताया कि इस मुश्किल घड़ी में श्रीवल्लभ पित्ति ग्रुप समाज और राष्ट्र के साथ खड़ा है, समाज सेवा के इस क्रम में ग्रुप द्वारा पहले से रोज निशुल्क भोजन वितरण किया जा रहा है. इसके साथ ही झालावड़ पुलिस लाइन और झालारापाटन पुलिस स्टेशन में बॉडी सैनिटेशन टनल, फेश मास्क और सेनीटाइजर भी उपलब्ध करायें गए हैं. साथ ही राज्य सरकार द्वारा जारी जनसुरक्षा गाइडलाइन के तहत हैंड्स फ्री सेनीटाइजर मशीन सिस्टम भी विभिन्न सरकारी कार्यालयों को जल्द ही निशुल्क उपलब्ध करा दी जाएगी. 

ग्रुप की वेबसाइट पर करें अप्लाई:
चेयरमैन विनोद पित्ती ने कहा कि हमें अपने प्रथम पंक्ति में खड़े चिकित्सा कर्मी, प्रशासनिक अधिकारियों, कर्मचारियों, पुलिस विभाग, मीडिया कर्मी, सफाईकर्मियों सब पर पूरा भरोसा है की वो जल्द ही इस महामारी पर जीत हासिल कर लेंगे. हेल्थ वर्करों के परिजन ग्रुप की वेबसाइनट ग्रुप की वेबसाइट https://www.pittie.com/  एवं ईमेल- [email protected] पर अप्लाई कर सकते हैं. 

झालावाड़ हॉस्पिटल के 100 संविदा कर्मियों ने दिया इस्तीफा, कोरोना के चलते अनदेखी का लगाया आरोप

झालावाड़: राजस्थान के झालावाड़ जिले के सबसे बड़े हॉस्पिटल एसआरजी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के 100 संविदा कर्मचारीयों ने वेतन वृद्धि के साथ सोसायटी में शामिल करने मांग को लेकर सोमवार को सामूहिक इस्तीफा दे दिया.

पीएम मोदी ने की मुख्यमंत्रियों से बैठक, कहा-लॉकडाउन का मिला लाभ, स्थिति बाकी देशों से बेहतर 

ठेकेदार को सौंपा इ​स्तीफा:
सभी संविदा कर्मियों ने सामूहिक इस्तीफा हॉस्पिटल डीन को दे दिया. परन्तु डीन ने कहा आप हमारे कर्मचारी नहीं हो इस पर सभी संंविदा कर्मियों ने हॉस्पिटल के ठेकेदार को सामूहिक रूप से इस्तीफा दे दिया है. 

निशुल्क जारी रखेंगे सेवा:
परन्तु सभी कर्मचारियों ने कहा कि कोराना वायरस के प्रभाव को देखते हुए हम निशुल्क हॉस्पिटल में सेवा जारी रखेंगे, सभी संविदा कर्मियों ने 3 दिन पहले प्रशासन को ज्ञापन सौंपा था. ज्ञापन में कहा गया था कि अगर हमारी मांग तीन दिन में पूरी नहीं होगी तो वो संविदा के पद से इस्तीफा दे देंगे.

10 मई को होने वाली पीटीईटी परीक्षा हुई स्थगित, लॉकडाउन खुलने के बाद होगी नई तिथि की घोषणा

माहे रमजान का चांद दिखा, लोगों से घर में रहकर इबादत करने की अपील

झालावाड़: माहे रमजान का चांद आज बादलों की लुका छुपी के बाद दिखा है. चांद दिखने के बाद मुस्लिम समाज के लोगों ने एक दूसरे को रमजान मुबारकबाद दी. झालरापाटन शहर काजी असगर अली ने सभी जिले वासियों को माहे रमजान की मुबारकबाद दी. साथ ही लोगों से अपील की कि घर में बैठकर नमाज और इबादत करें किसी इफ्तार पार्टी में न जाये न क्योंकि कोरोना महामारी के रूप में पैर पसार रहा है ऐसे में  मस्जिदों में न जाकर घर मे इबादत करे साथ ही सरकार की गाइडलाइन का पालन करें.

VIDEO: लॉक डाउन में सक्रियता से काम कर रही राजस्थान पुलिस, 1 लाख से अधिक वाहन किए सीज 

इबादत के अलावा गरीब लोगों की मदद करें: 
रमजान का महीना पाक मुबारक महीना है. इसमें इबादत के अलावा गरीब मुफ़लिस लोगों की मदद करें. इस पाक महीने की कई फजीलते है. अल्लाह 1 नेकी के बदले 70 गुना देता है ऐसे में शहर काजी ने लोगो से अपील की खुदा जल्द ही कोरोना जैसी महामारी को खत्म करेगा. 

बेहतर चिकित्सकीय प्रबन्धन से राजस्थान से खुश-खबर, कोरोना के बढ़ते केस के बीच मरीजों की सेहत में भी सुधार 

झालावाड़ पुलिस ने किया तीन हजार के इनामी बदमाश को गिरफ्तार

झालावाड़ पुलिस ने किया तीन हजार के इनामी बदमाश को गिरफ्तार

झालावाड़: प्रदेश के झालावाड़ जिले की डग पुलिस ने तीन हजार के इनामी अपराधी प्रेम सिंह को गिरफ्तार किया है. थानाधिकारी राजपाल सिंह यादव ने बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी के निर्देशन में जिला टॉप टेन अपराधियों की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया जा रहा है, इसके तहत अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक राजेश यादव एवं गंगधार वृताधिकारी बृजमोहन मीणा के सुपरविजन में डग में एएसआई अब्दुल अलीम और हेड कानिस्टेबल शक्ति सिंह द्वारा मुखबिर की सूचना इनामी अपराधी प्रेम सिंह को बुधवार को स्वयं के गांव में खुद के कुए पर छुपे होने की सूचना मिली थी.

आरपीएफ ने लिया जयपुर जंक्शन के कुली परिवारों को गोद, खाद्य सामग्री सहित जरूरत का सभी समान कराएंगे उपलब्ध

इन धाराओं में किया गिरफ्तार:
इस पर स्पेशल टीम द्वारा प्रेम सिंह को उसके खेत से डिटेन कर प्रकरण में अनुसंधान पर गिरफ्तार किया गया. मुलजिम प्रेम सिंह पुत्र करण सिंह जाति सोंधिया राजपूत उम्र 39 साल निवासी धामंदा खुर्द को मुकदमा नंबर 84/2020 धारा 341, 323, 354 में गिरफ्तार किया गया. 

जिला पुलिस अधीक्षक ने की थी ईनाम की घोषणा:
जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रेमसिंह घटना के बाद से ही घर पर नहीं था, वह फरार हो गया था, जिसकी काफी प्रयासों के बावजूद गिरफ्तारी नहीं हो सकी थी. इस पर उक्त अभियुक्त को जिले में सर्वाधिक सक्रिय टॉप टेन वांछित अपराधियों में सूचीबद्ध कर इसके ऊपर 3000 रुपए का इनाम घोषित किया गया था.

स्वास्थ्य विभाग ने किया खंडन, कहा-भागे नहीं, गलतफहमी में घर चले गए थे कोरोना के 9 संदिग्ध पेशेंट

Lockdown: कभी फूलों की खुशबू से महका करते थे ये बगीचे, आज बेगाने हो गए- फूलों की खेती हुई बर्बाद

Lockdown: कभी फूलों की खुशबू से महका करते थे ये बगीचे, आज बेगाने हो गए- फूलों की खेती हुई बर्बाद

झालावाड़: ये फूलों की खुशबू से महकते फूलों के बगीचे अब वीरान पड़े है इन फूलों की खुशबू तो पहले जैसी है लेकिन अब इन फूलों महक लोगो के लिए काम नही आ रही है फूल इंतजार कर रहे है सजने सवरने का भगवान के चरणों मे गिरकर शीश नवाने का किसी महिला के गजरे की शोभा बढ़ाने का तो किसी नेता या दूल्हा दुल्हन के गले मे हार बनकर उनके गले की शोभा बढ़ाने का, लेकिन अब इन फूलों की किस्मत में यह नहीं की अभी ये लोगो के कार्य आये अभी ये बेबस अपनी सुंदरता पर इठला तो सकते गए मगर किसी के आंगन की मन्दिरो की शोभा बढ़ा नही सकते है.

कोरोना महामारी के संकट में एयरलाइन्स निभा रहीं जिम्मेदारी, एयर इंडिया सहित निजी एयरलाइन्स कर रही कार्गो का परिवहन

फूलों की खेती तबाह:
इन फूलों पर न जाने कितने फिल्मी गीत लिखे गए जो खूब चर्चा में रहे लेकिन इन फूलों ने भी यह नहीं सोचा होगा.  दिन ऐसा आएगा जब कोई हमारी पूछ परख करने वाला नही होगा. झालावाड़ जिले में कोरोना संकट एवं लॉक डाउन के चलते फूलों की खेती अब तबाह होने लगी है खेत मे पडे पड़े गुलाब के फूल गेंदे के फूल और अन्य फूल खराब होने लगे है इनको कोई खरीदार नही मिल रहा है, खेती करने वाले माली समाज के लोगो ने भी यह यह नही सोचा था कि जो खेती मुनाफे की मानी जाती थी.

फिर लौटेगी फूलों की रौनक:
अब घाटे का सौदा हो रही है कोई खरीदार नही आ रहा है जब की सीजन है लेकिन लोक डाउन ने सब बर्बाद कर दिया यहां तक कि मन्दिरों में भी नही जा रहे है. मन्दिर बन्द है या सिर्फ पुजारी ही पूजा पाठ कर रहा है लागत भी नही निकली इस लोक डाउन ओर कोरोना न सब बर्बाद कर दिया है अब तो 3 मई का इंतजार है लोक डाउन खत्म होगा कोरोना जैसी महामारी नष्ट होगी. तो इन फूलों की रौनक फिर लौटेगी ऐसा लगता है ओर कहते है अंधेरे के बाद फिर उजियाला आता है ऐसे ही इन फूलों की महक ओर खुशबू फिर लौटेगी. 

लॉक डाउन में निजी स्कूलों की फीस नहीं लिए जाने पर क्या कार्रवाई की, हाईकोर्ट ने केन्द्र व राज्य सरकार समेत सीबीएसई से मांगा जवाब

Coronavirus Updates: डॉक्टर समेत उनके परिवार को किया होम आइसोलेट, क्लिनिक किया सीज

Coronavirus Updates: डॉक्टर समेत उनके परिवार को किया होम आइसोलेट, क्लिनिक किया सीज

भवानीमंडी: कोरोना वायरस से जुड़ा मामला जब भी सामने आता है और जांच के लिए चिकित्सा विभाग की टीम वहां पहुंचती है, तो वहां आसपास रहने वाले लोग सख्ते में आ जाते है. ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें पिड़ावा में पॉजिटिव आई एक महिला का भवानीमंडी के सिद्धार्थ हॉस्पिटल में रहने वाले डॉक्टर अनिल यादव ने पिड़ावा के एक क्लिनिक में उपचार किया था. जिसके बाद डॉक्टर के परिवार को ओर स्टाप के लोगों को आइसोलेट किया है. साथ ही अस्पताल को भी जांच रिपोर्ट नहीं आ जाने तक सील कर दिया है. 

प्रशासन पहुंचा मौके पर:
जानकारी मिलने के बाद एसडीएम मनीषा तिवारी ,तहसीलदार राजेन्द्र कुमार मीणा ,सीआई महेन्द्र मीणा चिकित्सा प्रभारी केएल पटेरिया, डॉक्टर रामसिंह जाट  स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ सिद्धार्थ हॉस्पिटल के यहां पहुंचे. जहां उन्होंने डॉक्टर ओर उनके परिवार ओर अन्य लोगों का स्क्रैनिंग टेस्ट लिया उसके बाद उन्हें होम आइसोलेट किया गया है. एसडीएम मनीषा तिवारी ने बताया कि पिड़ावा में डॉक्टर ने अपने निजी क्लिनिक पर एक महिला रोगी को देखा था जो जांच में कोरोना वायरस की पॉजिटिव आई है. 

कोरोना महामारी पर पुलिस की सोशल मीडिया पर पैनी नजर, भ्रामक अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई

रोगियों की भी लिस्ट ली गई:
जिसके बाद डॉक्टर अनिल यादव की स्क्रैनिंग करवाई गई है साथ ही इनके सैम्पल जांच के लिए भिजवाए जाएंगे. डॉक्टर के पूरे परिवार को होम आइसोलेट किया गया है और इनसे उन रोगियों की भी लिस्ट ली गई हैं जिनका इन्होंने 5 और 6 अप्रैल को उपचार किया था.  प्राथमिक तोर पर तो डॉक्टर और उनके परिवार के लोग स्वस्थ बताए गए है लेकिन इनकी जांच आने के बाद ही मामला स्पष्ठ हो पाएगा. 

Coronavirus Updates: राजस्थान में कोरोना वायरस से 10 वीं मौत, जयपुर के जेके लोन अस्पताल में हुई 13 वर्षीय बालिका की मौत

Open Covid-19