जयपुर Rajasthan: विद्यालयों में पढ़ी जायेगी "माँ से प्यारा नाम नहीं" पुस्तक, पुस्तक परिचर्चा एवं परिदान समारोह हुआ संपन्न

Rajasthan: विद्यालयों में पढ़ी जायेगी "माँ से प्यारा नाम नहीं" पुस्तक, पुस्तक परिचर्चा एवं परिदान समारोह हुआ संपन्न

Rajasthan: विद्यालयों में पढ़ी जायेगी

जयपुर: माँ से प्यारा नाम नहीं" पुस्तक परिचर्चा एवं परिदान समारोह दौसा मुख्यालय पर संत श्री सुंदरदास पैनोरमा में संपन्न हुआ. मुख्य अतिथि दौसा जिला कलेक्टर क़मर उल जमान चौधरी ने टीकम अनजाना की पुस्तक की सराहना करते हुए मौजूद श्रोतागण से सीधा संवाद भी किया. जिला कलेक्टर क़मर चौधरी ने ऐसे आयोजनों की उपादेयता बताते हुए कविता-संग्रह ‘माँ से प्यारा नाम नहीं’ को जिले के सभी स्कूलों और कालेजों की पुस्तकालयों के लिए नि:शुल्क दिए जाने की प्रशंसा करते हुए एपीसी अनिल कुमार शर्मा को जिम्मेदारी दी और कहा कि ये पुस्तकें सभी विद्यालयों और महाविद्यालयों में पहुंचाना सुनिश्चित किया जाए. 

सुंदर भावों से भरा गुलदस्ता है यह कविता-संग्रह 
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राजस्थान लोकसेवा आयोग के पूर्व सदस्य विनोद बिहारी शर्मा ने कहा कि टीकम बोहरा की यह पुस्तक विविध विषयों पर सुंदर भावों से भरा कविताओं का गुलदस्ता और समाज का आईना है.  साहित्यकार प्रधानाचार्य राजेन्द्र यादव, शिक्षाविद रामबाबू ज्योति एवं डॉ. राजेन्द्र सिंह गुर्जर ने कविता-संग्रह ‘माँ से प्यारा नाम नहीं’ की समीक्षा करते हुए पुस्तक को नयी पीढ़ी के लिए बहुत उपयोगी बताया. साहित्यकारों ने परिचर्चा में बताया कि इस पुस्तक में माँ, मातृभूमि, मातृशक्ति, मातृभाषा सहित देश के किसानों और समसामयिक विषयों पर उत्कृष्ट रचनाएँ जो समाज के हर वर्ग के लिए पठनीय और अनुकरणीय हैं. 

चार सौ विद्यालयों के लिए पुस्तकों का परिदान 
इस अवसर पर मुख्य अतिथि जिला कलेक्टर क़मर उल जमान चौधरी ने टीकम अनजाना की पुस्तक "माँ से प्यारा नाम नहीं" को दौसा जिले के सभी राजकीय माध्यमिक, उच्च माध्यमिक, महात्मा गांधी, विवेकानंद मॉडल स्कूलों एवं महाविद्यालयों में संचालित पुस्तकालयों में विद्यार्थियों पढ़ने के लिए समाजसेवकों के सहयोग से दान स्वरूप भेंट की गई. एपीसी अनिल कुमार शर्मा को चार सौ पुस्तकें सौंपी गई. परिदान का प्रतीकात्मक शुभारंभ मुख्य अतिथि जिला कलेक्टर क़मर चौधरी, अध्यक्ष विनोद बिहारी शर्मा एवं लेखक टीकम बोहरा अनजाना ने राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय, गांधी चौक, शहर दौसा की प्रधानाचार्य श्रीमती सीमा मीना, महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल प्रिंसिपल रविन्द्र चतुर्वेदी एवं प्रधानाचार्य रामबाबू ज्योति को अपने विद्यालय की लाइब्रेरी के लिए यह कविता संग्रह देकर किया.

सौ और विद्यालयों में दी जायेगी पुस्तकें 
कविता-संग्रह ‘माँ से प्यारा नाम नहीं’ की उपयोगिता जानकर दौसा क्लब के अध्यक्ष डॉ. रजनीश शर्मा, सचिव अटल खुंटेटा ने क्लब के सदस्यों के सहयोग से सौ और विद्यालयों में यह पुस्तक दौसा क्लब की ओर से उपलब्ध करायी जायेगी. टीकम ‘अनजाना’ ने बताया कि दौसा वासियों के लिए प्रकाशक द्वारा यह पुस्तक आधी क़ीमत पर उपलब्ध करायी जायेगी. 

कर्मस्थली के प्रति कृतज्ञता ज्ञापन
कार्यक्रम संयोजक महेश बालाहेड़ी ने बताया कि रचनाकार टीकम बोहरा "अनजाना" की इस कृति की हर एक कविता समाज, समय, रीति, नीति सहित आम से खास तक सभी के मन स्पर्श करती है. उनकी कविताओं में समाज के हर वर्ग को स्थान दिया गया है. कार्यक्रम के मुख्य संयोजक मनोहर लाल गुप्ता ने अपने संबोधन में अतिथियों व आगंतुक गणमान्यजनों का स्वागत करते हुए कहा कि आज यह कार्यक्रम संत सुंदरदास जी की जन्मभूमि और साहित्यकार टीकम ‘अनजाना’ की कर्मभूमि पर आयोजित करके अपनी कर्मस्थली के प्रति कृतज्ञता ज्ञापन का सराहनीय कार्य किया है. 

संत सुंदरदास पैनोरमा का जिला कलेक्टर ने किया अवलोकन
पुस्तक परिचर्चा एवं परिदान कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे जिला कलेक्टर क़मर चौधरी ने पैनोरमा का दौसावासियों के साथ अवलोकन किया. इस अवसर पर उनके साथ टीकम बोहरा, डॉ. नोपाराम पारीक, विनोद बिहारी शर्मा, एसडीएम संजय गोरा, मनोहर लाल गुप्ता, ऋषभ शर्मा, सुशील शर्मा, हजारी लाल गुप्ता सहित कई अन्य भी मौजूद रहे. जिला कलेक्टर क़मर चौधरी पैनोरमा को देखकर अभिभूत हुए. विकास के लिए जरूरी सुझाव व सुधार के लिए हिदायतें भी दी.

आईएएस में पदोन्नति पर किया अभिनंदन
कार्यक्रम समापन पश्चात् राष्ट्रीय कवि, विचारक एवं साहित्यकार टीकम बोहरा अनजाना की राजस्थान प्रशासनिक सेवा से भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नति के बाद पहली बार दौसा आगमन पर स्वागत अभिनंदन किया गया. टीकम बोहरा 'अनजाना' का संत सुंदरदास जन्मभूमि विकास संस्था, लायंस सिटी दौसा, गाता रहे मेरा दिल ग्रुप, दौसा सर्व ब्राह्मण महासभा, आजाद कलम मंच, दौसा क्लब, सहित कई संगठनों व संस्थाओं के पदाधिकारियों व सदस्यों सहित अनेकों दौसावासियों द्वारा अभिनंदन पत्र, सम्मान पत्र, प्रतीक चिन्ह देकर फूलमालाओं और गुलदस्तों से अभिनंदन एवं सम्मान किया गया. सर्व ब्राह्मण महासभा जिला अध्यक्ष ऋषभ शर्मा, लायंस क्लब दौसा सिटी अध्यक्ष हजारी लाल गुप्ता, सलाहकार सुशील शर्मा, दौसा क्लब अध्यक्ष डॉ. रजनीश शर्मा, सचिव अटल खुंटेटा, धर्मराज शर्मा, मुरली मनोहर शर्मा टापरिया, माय म्यूजिक वर्ल्ड (एमएमडब्ल्यू) की चेयरपर्सन एवं ‘गाता रहे मेरा दिल’ के ग्रुप एडमिन सोनिया शर्मा, गौड़ सनाढ्य ब्राह्मण सभा की महिला जिला अध्यक्ष सुनीता शर्मा ने अतिथियों का फूल व मोतियों की माला, गुलदस्ता, साफा और शॉल से स्वागत - सम्मान किया.

पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्षारोपण
 पर्यावरण संरक्षण एवं कार्यक्रम की यादें स्थायी बनाने के लिए पेनोरमा परिसर में ज़िला कलक्टर क़मर चौधरी और टीकम बोहरा अनजाना के हाथों से पौधारोपण भी कराया गया.

ये रहे अतिथिगण
डॉ. नोपाराम पारीक, अतिरिक्त निदेशक (लेखा) ओटीएस, उपखंड अधिकारी दौसा संजय गोरा बतौर विशिष्ट अतिथि इस कार्यक्रम में शरीक हुए.  इस अवसर पर बाल कल्याण समिति सदस्य एडवोकेट मानसिंह गुर्जर, विनोद मीना, धर्मी मीना, रमेश मीणा, मुंशी खान, लक्ष्मीकांत शर्मा, हिमांशु बापीवाल, डॉ. अशोक शर्मा, सचिन शर्मा, नीरज शर्मा, अंशुल खंडेलवाल, हेमन्त भारद्वाज, श्रीमती सुनीता गुप्ता, जान्हवी शर्मा, ललिता शर्मा सहित कई गणमान्यजन उपस्थित रहे. कार्यक्रम का सफल संचालन मिमिक्री कलाकार अशोक खेड़ला ने किया.

और पढ़ें