जबलपुर भतीजे ने चाचा और चाची को उतारा मौत के घाट, काले जादू के शक के चलते दी वारदात को अंजाम

भतीजे ने चाचा और चाची को उतारा मौत के घाट, काले जादू के शक के चलते दी वारदात को अंजाम

भतीजे ने चाचा और चाची को उतारा मौत के घाट, काले जादू के शक के चलते दी वारदात को अंजाम

जबलपुर: मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में 27 वर्षीय एक व्यक्ति को अपने ही चाचा और चाची की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. आरोपी को शक था कि दंपति ने उसपर कथित काला जादू किया है. एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी.जिले के चौराई गांव के पास एक झोंपड़ी में कुछ दिन पहले एक वृद्ध दंपति के शव के जले हुए अवशेष पुलिस को मिले थे.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) शिवेंद्र सिंह ने मंगलवार को बताया कि आरोपी दयाराम कुलस्ते को सोमवार को बरेला थाना क्षेत्र के हिनोतिया गांव से गिरफ्तार किया गया है जो कि मृतक सुमेर सिंह कुलस्ते (60) और उसकी पत्नी सिया बाई (55) का भतीजा है.उन्होंने कहा कि घटना नौ व दस जनवरी की मध्य रात चौराई गांव के पास हुई थी.

अधिकारी ने पत्रकारों से कहा कि आरोपी ने सुमेर सिंह और उसकी पत्नी की धारदार हथियार से हत्या कर दी और बाद में उनकी झोंपड़ी में आग लगा दी. उन्होंने बताया कि जांच में पता चला है कि आरोपी को शक था कि मृतक दंपति द्वारा उस पर काला जादू किया जा रहा है जिसके कारण आरोपी के भाई ने पूर्व में आत्महत्या की थी.

एएसपी ने कहा कि दयाराम ने सुमेर सिंह पर अपने पिता की जमीन पर कब्जा करने का भी आरोप लगाया, इसलिए भी आरोपी उससे नाराज था.उन्होंने कहा कि जांच के अनुसार दयाराम नौ जनवरी की रात को चौरई गांव में मौजूद था और घटना के बाद वह वहां से फरार हो गया. पुलिस अधिकारी ने कहा कि पुलिस मामला दर्ज कर आगे की जांच कर रही है.(भाषा) 

और पढ़ें