कटनी Madhya Pradesh: निर्माणाधीन सुरंग धंसने से दबे 9 मजदूर, 7 को बचाया गया, बचाव अभियान जारी

Madhya Pradesh: निर्माणाधीन सुरंग धंसने से दबे 9 मजदूर, 7 को बचाया गया, बचाव अभियान जारी

Madhya Pradesh: निर्माणाधीन सुरंग धंसने से दबे 9 मजदूर, 7 को बचाया गया, बचाव अभियान जारी

कटनी: मध्य प्रदेश के कटनी जिले में स्लीमनाबाद के नजदीक एक निर्माणाधीन सुरंग के अचानक धंसने से वहां काम कर रहे नौ मजदूर मलबे में दब गये, जिनमें से सात मजदूरों को रविवार सुबह तक सकुशल बाहर निकाल लिया गया है जबकि दो लोगों को बचाने के प्रयास जारी है. अधिकारियों ने बताया कि यह घटना बरगी नहर परियोजना के अंतर्गत भूमिगत नहर के निर्माण कार्य के दौरान शनिवार देर रात को हुई.

उन्होंने कहा कि बचाए गए मजदूरों में से छह को 'ग्रीन कॉरिडोर' बनाकर घटनास्थल से लगभग 30 किलोमीटर दूर स्थित कटनी जिला अस्पताल ले जाया गया. मध्यप्रदेश गृह विभाग के अपर प्रमुख सचिव राजेश राजोरा ने ‘भाषा’ को बताया कि सात मजदूरों को अब तक सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. वे सभी खतरे से बाहर हैं तथा स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं. उन्होंने बताया कि सुरंग में दो मजदूर गोरेलाल कोल और रवि (सुपरवाइजर) अब भी फंसे हुए हैं तथा दोनों से संपर्क नहीं हो पाया है. उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) एवं राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) सुरंग में फंसे हुए इन दो मजदूरों को बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. राजोरा ने बताया कि वह भोपाल में वल्लभ भवन स्थित कक्ष से बचाव कार्य की चौबीसों घंटे निगरानी कर रहे हैं. स्लीमनाबाद के उपमंडलीय मजिस्ट्रेट (SDM) एस एम गौतम एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस (स्लीमनाबाद) मोनिका तिवारी ने बताया कि फंसे हुए मजदूर भी जीवित हैं और उन्हें बचाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं.

 

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनोज केडिया ने घटनास्थल से ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि रात से अब तक बचाए गए सात मजदूरों में से छह को जिला अस्पताल कटनी में भर्ती किया गया है. उन्होंने कहा कि उन्हें 'ग्रीन कॉरिडोर' के माध्यम से 25 मिनट में अस्पताल ले जाया गया. केडिया ने बताया कि बचाया गया एक अन्य मजदूर सदमे की स्थिति में है. सुरंग के पास उसे प्राथमिक उपचार दिया जा रहा है और ढ़ाढस बंधाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि मलबे से बाहर निकाले जाने के बाद बचाए गए मजदूरों को आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित विशेष एम्बुलेंस में करीब 30 मिनट तक घटनास्थल पर प्रारंभिक उपचार दिया गया और बाद में उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कटनी जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से घटना के बारे में बात की. राजोरा ने बताया कि चौहान ने अधिकारियों को घायल मजदूरों के इलाज की उचित व्यवस्था करने का निर्देश दिये हैं. सोर्स- भाषा

और पढ़ें