मुंबई Maharashtra Money Laundering Case: ED के सामने नहीं पेश हुए अनिल देशमुख, ऑनलाइन पेशी का आग्रह किया

Maharashtra Money Laundering Case: ED के सामने नहीं पेश हुए अनिल देशमुख, ऑनलाइन पेशी का आग्रह किया

Maharashtra Money Laundering Case: ED के सामने नहीं पेश हुए अनिल देशमुख, ऑनलाइन पेशी का आग्रह किया

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख (Former Home Minister Anil Deshmukh) कोविड-19 और अपनी वृद्धावस्था का हवाला देते हुए धनशोधन के एक मामले के सिलसिले में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के समक्ष पेश नहीं हुए और केंद्रीय एजेंसी (Central Agency) को उपर्युक्त लगने वाले किसी भी दिन ऑनलाइन बातचीत (Online Talk) करने के लिए आग्रह किया.

रिश्वतखोरी सह वसूली रैकेट से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में आरोपी है देशमुख:
ईडी ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के 71 वर्षीय नेता से मंगलवार को सुबह 11 बजे कार्यालय में पेश होने के लिए कहा था जब वह शनिवार को जांच अधिकारी के समक्ष पेश नहीं हुए थे. देशमुख ने कई करोड़ के कथित रिश्वतखोरी सह वसूली रैकेट से जुड़े धनशोधन के मामले में शनिवार को पेशी की नई तारीख मांगी थी. इस मामले के चलते उन्हें इस साल अप्रैल में गृह मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था. मंगलवार को, देशमुख ने नोटिसों का अनुपालन करते हुए अपने वकील इंदरपाल सिंह को अधिकृत प्रतिनिधि बनाकर एजेंसी को एक पत्र सौंपा.

मैं खुद कानून का पालन करने वाला आदमी हूं:
पत्र में, देशमुख ने प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (ईडी की प्राथमिकी) की एक प्रति और ईडी से अन्य दस्तावेजों को उपलब्ध कराने का आग्रह किया था. उन्होंने पत्र में लिखा था कि मैं कानून का पालन करने वाला नागरिक हूं. मैं खुद पर लगे आरोपों में झूठ, खोखलेपन और वास्तविकता की कमी को उजागर करने के लिए तत्पर हूं. देशमुख ने कोविड-19 स्थितियों और उम्र एवं उनकी अन्य बीमारियों के चलते संक्रमण की चपेट में आने की आशंका का भी हवाला दिया और अधिकृत प्रतिनिधि के तौर पर अपने वकील को भेजा.

मैं कई बिमारियों से जूझ रहा हूं:
उन्होंने पत्र में लिखा कि मेरी उम्र 72 वर्ष के करीब है और मैं उच्च रक्तचाप, हृदय संबंधी और कई अन्य गंभीर बीमारियों से जूझ रहा हूं. देशमुख ने यह भी कहा कि तलाशी और उनके बयान दर्ज किए जाने के दौरान 25 जून को जांच एजेंसियों के अधिकारियों के साथ उनकी पहले ही लंबी बातचीत हो चुकी है जो कई घंटों तक चली थी. उन्होंने दोहराया कि ईसीआईआर के विषय एवं ब्योरों के बारे में पता चलने के बाद वह ईडी को जो भी सूचनाएं एवं दस्तावेज चाहिए होंगे, सब उपलब्ध कराएंगे.

ऑनलाइन पेश होने की मांग:
देशमुख ने पत्र में लिखा कि मैं बातचीत के ऑडियो-विजुअल माध्यम से आपके सामने पेश हो जाउंगा, जो भी दिन और समय आपको उचित लगे, आज या किसी भी दूसरे दिन. इस बीच, देशमुख के वकील ने मीडियाकर्मियों को बताया कि वे जांच एजेंसी के साथ सहयोग कर रहे हैं और भविष्य में भी ऐसा करना जारी रखेंगे.

और पढ़ें