मुंबई Maharashtra Politics: महाराष्ट्र सरकार के सियासी संकट में घिरने को लेकर बोले कमलनाथ- कांग्रेस के विधायक बिकाऊ नहीं

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र सरकार के सियासी संकट में घिरने को लेकर बोले कमलनाथ- कांग्रेस के विधायक बिकाऊ नहीं

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र सरकार के सियासी संकट में घिरने को लेकर बोले कमलनाथ- कांग्रेस के विधायक बिकाऊ नहीं

मुंबई: विधायकों के एक समूह की बगावत के बाद शिवसेना (Shiv Sena) की अगुवाई वाली महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) के सियासी संकट (political crisis) में घिरने को लेकर कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता कमलनाथ (Kamal Nath) ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी एकजुट है और इसके विधायक ‘‘बिकाऊ नहीं’’ हैं.

बता दें कि नाथ को मंगलवार को राज्य में राजनीतिक उथल-पुथल के मद्देनजर महाराष्ट्र में एआईसीसी पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया था. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार के दोपहर के आसपास मुख्यमंत्री और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मिलने की उम्मीद है. बाद में महाराष्ट्र सरकार की एक कैबिनेट बैठक भी होगी. महाराष्ट्र में कांग्रेस शिवसेना और राकांपा के साथ सत्ता साझा करती है.

महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री और कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) के नेता बालासाहेब थोराट के मुंबई स्थित आधिकारिक आवास पर पहुंचने पर पत्रकारों से कमलनाथ ने कहा कि अपने दल के विधायकों का ध्यान रखना शिवसेना का जिम्मा है. वह देखे कि वह अपने विधायकों को कैसे संभालना चाहती है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता एकजुट हैं.

कांग्रेस विधायक दल की बुधवार को थोराट के आवास पर बैठक संभव:
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे यकीन है कि हम एकजुट रहेंगे. कांग्रेस विधायक बिकाऊ नहीं हैं. कांग्रेस विधायक दल की बुधवार को थोराट के आवास पर बैठक हो सकती है. गौरतलब है कि मंगलवार की शाम कांग्रेस के 44 में से 42 विधायक पार्टी सचिव एच के पाटिल द्वारा बुलाई गई बैठक में मौजूद थे. कांग्रेस के अनुसार, उसके वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र के राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार आधिकारिक यात्रा पर विदेश गए थे और बुधवार को वह मुंबई पहुंचने वाले हैं, जबकि विधायक सुभाष धोटे भी चंद्रपुर से वापस आ रहे हैं. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें