मुंबई महाराष्ट्र: तट पर आठ लाशें मिलने से मचा हड़कंप, Barge P305 पीड़ितों के शव होने का संदेह

महाराष्ट्र: तट पर आठ लाशें मिलने से मचा हड़कंप, Barge P305 पीड़ितों के शव होने का संदेह

महाराष्ट्र: तट पर आठ लाशें मिलने से मचा हड़कंप, Barge P305 पीड़ितों के शव होने का संदेह

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के रायगढ़ जिले (Raigad District) में समुद्र तट पर तीन अलग-अलग स्थानों पर आठ शव मिले हैं, जिसकी खबर मिलते ही हड़कंप मच गया है. पुलिस को संदेह है कि ये Barge P-305 के पीड़ितों के शव हो सकते हैं, जो चक्रवात ताउते (Cyclone Toute) के कारण मुंबई तट से 175 किलोमीटर दूर समुद्र में डूब गया था. 

पांच शव मंडवा तट पर बहकर आए:
रायगढ़ पुलिस (Raigad Police) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को बताया कि शनिवार को मिले आठ शवों में से पांच मंडवा तट पर बहकर आए, दो अलीबाग में और एक शव मुरुड में मिला है. उन्होंने कहा कि शवों की अभी पहचान नहीं की गई है. उन्होंने बताया कि स्थानीय प्रशासन और राज्य पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों (Senior State Police Officers) को शवों के बारे में सूचित कर दिया गया है.

मृतकों की संख्या 66 पहुंची: बार्ज पी 305 
नौसेना (Navy) के एक प्रवक्ता ने पहले बताया था कि बजरा P305 चक्रवात ताउते के दौरान समुद्री लहरों के कारण गत सोमवार को डूब गया था और शनिवार को समुद्र तल पर दिखा था. नौसेना ने बताया था कि शनिवार को छह और लोगों के शव मिलने के बाद इस हादसे में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 66 हो गई जबकि नौ कर्मी अब भी लापता हैं. उसने बताया कि घटना के समय बजरा पी305 पर 261 कर्मी सवार थे, जिनमें से अभी तक 186 को बचा लिया गया है.

समुद्री लहरों के कारण मुंबई तट के पास डूब गया था बार्ज पी305:
बार्ज पी305, पर सरकारी तेल और गैस कंपनी ONGC के एक अपतटीय तेल ड्रिलिंग प्लेटफॉर्म (Offshore oil Drilling Platform) के रखरखाव के काम में लगे कर्मी थे. उक्त बजरा गुजरात जाते वक्त तेज गति वाली हवाओं और ऊंची समुद्री लहरों के कारण मुंबई तट के पास सोमवार शाम को डूब गया था. बार्ज पी305 के नौ लापता कर्मियों के अलावा नौसेना और तटरक्षक बल नौका वरप्रदा (Coast Guard Boat Varprada) के उन 11 लोगों की भी तलाश कर रहा है, जो चक्रवात के बाद लापता हो गए थे. वरप्रदा पर सवार 13 लोगों में से दो को बचा लिया गया था. शनिवार को गुजरात के वलसाड जिले (Valsaad District) में अरब सागर के तट पर चार शव पाए गए थे.

जीवन रक्षक जैकेट और वर्दी से की जा रही है पहचान:
वलसाड के पुलिस अधीक्षक राजदीप सिंह झाला (Superintendent of Police Rajdeep Singh Jhala) ने कहा कि चार शवों पर वर्दी और जीवन रक्षक जैकेट (Life Jacket) देखकर ऐसा लगता है कि वे सभी उस बार्ज पी305  के सदस्य थे, जो मुंबई तट पर डूब गया था. नौसेना ने तलाश एवं बचाव अभियान (Search and Rescue Mission) तेज करने के लिए विशिष्ट गोताखोर (Specific Diver) दलों को तैनात किया है. जीवन रक्षक जैकेट और वर्दी से पी305 के पीड़ित लग रहे है.


 

और पढ़ें