ह्यूस्टन (अमेरिका गांधी की 152वीं जयंति: विदेश में भी महात्मा गांधी के अनुयायियों ने दी श्रद्धांजलि, कहा- गांधी के मानवता संदेश की आती है याद

गांधी की 152वीं जयंति: विदेश में भी महात्मा गांधी के अनुयायियों ने दी श्रद्धांजलि, कहा- गांधी के मानवता संदेश की आती है याद

गांधी की 152वीं जयंति: विदेश में भी महात्मा गांधी के अनुयायियों ने दी श्रद्धांजलि, कहा- गांधी के मानवता संदेश की आती है याद

ह्यूस्टन (अमेरिका): राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के अनुयायियों ने उनकी 152वीं जयंती के अवसर पर यहां शांति दूत को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की. इटरनल गांधी म्यूजियम ह्यूस्टन (EGMH) द्वारा एक पार्क में और ऑनलाइन ‘वॉक फॉर पीस’ कार्यक्रम शनिवार को आयोजित किया गया था. ह्यूस्टन में भारतीय वाणिज्य दूतावास ने अपने महावाणिज्य दूत असीम महाजन के नेतृत्व में, ईजीएमएच के सदस्यों के साथ, शहर के हरमन पार्क’ में गांधी जयंती मनाई, जहां गांधी की छह फीट लंबी कांस्य प्रतिमा स्थापित है. प्रतिमा का 2004 में अनावरण किया गया था, जिसे मशहूर मूर्तिकार राम वी सुतार ने बनाया है. यह भारत सरकार द्वारा यहां के नागरिकों को भेंट दी गई थी. 

महाजन, ह्यूस्टन के मेयर सिल्वेस्टर टर्नर, कांग्रेस सदस्य शीला जैक्सन ली, सांसद अल ग्रीन, ईजीएमएच सदस्यों और विभिन्न भारतीय-अमेरिकियों ने इस दौरान गांधी के शांति एवं अहिंसा के संदेश को याद किया. महाजन ने कहा कि महात्मा गांधी ने मार्टिन लूथर किंग जूनियर सहित दुनियाभर के लोगों को प्रेरित किया, जिन्होंने नागरिक अधिकार आंदोलन में गांधीवादी सिद्धांतों और अहिंसा के संदेश पर जोर दिया. मौजूदा समय में जब हम कोविड-19 की वैश्विक महामारी का मिलकर सामना कर रहे हैं, तब हमें गांधी के मानवता की सेवा के संदेश की याद आती है. 

महाजन ने कहा कि ‘इटरनल गांधी म्यूजियम ह्यूस्टन’ (EGMH) का निर्माण भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर आयोजित ‘अमृत महोत्सव’ के तहत किया जा रहा है. अमेरिका में गांधी को समर्पित इस पहले संग्रहालय की नींव तीन जुलाई को रखी गई थी और इसका निर्माण अभी जारी है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें