Live News »

अलवर अस्पताल में आग से मासूम की मौत मामले में बड़ा एक्शन, दोषी छह कार्मिक निलंबित 

अलवर अस्पताल में आग से मासूम की मौत मामले में बड़ा एक्शन, दोषी छह कार्मिक निलंबित 

जयपुर: अलवर के गीतानंद शिशु अस्पताल के FBNC में आग से झुलसी मासूम "लक्ष्मी" की मौत के मामले में चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बड़ा एक्शन लिया है. जांच रिपोर्ट में प्रशासनिक लापरवाही सामने आने के बाद दो चिकित्सकों समेत आधा दर्जन कार्मिकों को तत्काल प्रभाव से निलम्बित किया गया है, जबकि एक संविदाकर्मी को नौकरी से बर्खास्त करने के आदेश दिए है. इसके साथ ही प्रदेशभर के अस्पतालों में रेडियंट वार्मर की स्पेशल ऑडिट के निर्देश भी दिए गए. एक रिपोर्ट:

उपचार के दौरान मौत:
अलवर के गीतानंद शिशु अस्पताल के FBNC में आग से झुलसी मासूम "लक्ष्मी" ने आखिरकार जयपुर के जेके लोन अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया. घटना को लेकर संजीदा चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने पूरे मामले की जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया, जिसकी रिपोर्ट मुख्यालय पहुंचते ही सभी अधिकारियों के होश उड़ गए. जांच रिपोर्ट में साफ कहा गया कि प्रशासनिक लापरवाही के चलते यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है. 

जांच में क्या-क्या खामिया:
—प्रशासनिक लापरवाही की भेंट चढ़ी मासूम "लक्ष्मी"
—अलवर के गीतानंद शिशु अस्पताल में आग के मामले से जुड़ी आज की बड़ी खबर
—चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा के निर्देश पर गठित कमेटी ने सौंपी रिपोर्ट
—रिपोर्ट में प्रथम दृष्टया प्रशासनिक लापरवाही को माना घटना का महत्वपूर्ण कारण
—अस्पताल के FBNC में पिछले 1 साल से बंद थे सीसीटीवी कैमरे
—बिजली सप्लाई को ऑटोमेटिक डिस्कनेक्ट करने वाली MCB सीधे वार्मर से जुड़ी हुई नहीं थी
—घटना के वक्त नर्सिंग स्टाफ नहीं था पूरी तरह चौकस
—संविदा पर लगे विद्युत कर्मी रघुनंदन शर्मा ने 19 दिसंबर को लिखे पत्र पर कोई कार्रवाई नहीं की
—रेडियंट वार्मर और अन्य संसाधनों की समय समय पर सही देखभाल नहीं होती मिली
—जांच कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में आधा दर्जन स्टाफ की अनदेखी को बताया घटना का प्रमुख कारण

पूरे मामले की जांच रिपोर्ट आने से पहले ही चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत में स्पष्ट कर दिया था कि घटना में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी और हुआ भी ऐसा ही. चिकित्सा मंत्री के पास जैसे ही रिपोर्ट आई, तत्काल प्रभाव से सभी दोषी कार्मिकों पर कार्रवाई के निर्देश जारी कर दिए गए. 

चिकित्सा मंत्री डॉं. रघु शर्मा का बड़ा एक्शन !
—अलवर अस्पताल में आग की भेंट चढ़ी मासूम के मामले में बड़ा एक्शन
—जांच रिपोर्ट में दोषी छह कार्मिकों के निलम्बन के निर्देश
—डॉ.महेश शर्मा प्रभारी शिशु विभाग, MO डॉ. कृपालसिंह
—FBNC प्रभारी शारदा शर्मा,FBNCऑन ड्यूटी स्टाफ भारती मीणा,
—स्नेहलता,वार्ड लेडी तारा के निलम्बन के निर्देश
—संविदा पर लगे इलेक्ट्रिशियन रघुनंदन शर्मा को किया जाएगा बर्खास्त
—सभी कार्मिकों पर कार्रवाई के लिए फाइल भेजी गई उच्च स्तर पर
—संभवतया कुछ ही देर में जारी होंगे सभी पर कार्रवाई के आदेश
—चिकित्सा मंत्री ने फर्स्ट इंडिया को पहले ही दे दिए थे संकेत
—इस प्रकरण में जो भी होगा दोषी, उसे बख्शा नहीं जाएगा

इस पूरे घटनाक्रम को सरकार स्तर पर काफी गंभीरता से लिया गया है. पूरे मामले को लेकर एसीएस रोहित कुमार सिंह ने सभी अस्पताल अधीक्षक, CMHO, PMO के लिए फरमान जारी किया, जिसमें उन्हें अपने यहां रेडियन्ट वार्मर की तय गाइडलाइन के हिसाब से जांच के निर्देश दिए है. सभी प्रभारियों से बकायदा निरीक्षण प्रमाण पत्र भी मांगा गया है. ऐसे में अब उम्मीद है कि पूरे प्रकरण में सरकार की सख्ती से सरकारी मशीनरी में बड़ा मैसेज जाएगा. अधिकारी अपनी जिम्मेदारी समझेंगे, ताकि भविष्य में इस तरह की हृदय विदारक घटनाएं न हो. 

... संवाददाता विकास शर्मा की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

Rajasthan Corona Update: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, लैटर में लिखी यह प्रमुख बात

Rajasthan Corona Update: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, लैटर में लिखी यह प्रमुख बात

जयपुर: लॉकडाउन के चलते प्रदेश की आर्थिक हालत को लेकर सीएम गहलोत चिंतित है. इसी के चलते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि राज्यों को मजबूत करने के लिए केंद्र अत्यावश्यक कदम उठाए, राजस्व में भारी गिरावट की वजह से राज्यों की वित्तीय स्थिति तेजी से बिगड़ रही है. सीएम गहलोत ने कहा कि राज्यों के भुगतान का पुनर्निधारण करते हुए ब्याज मुक्त आधार पर कम से कम 3 माह का मोरेटोरियम उपलब्ध कराए. साथ ही भारत सरकार के स्तर पर ऋण लेकर राज्यों के विकास के लिए उपलब्ध करवाया जाए. 

अगले कुछ सप्ताह के लिए हमार व्यवहार ही तय करेगा कोरोना वायरस की अगली दशा—मुख्य न्यायाधीश 

मनरेगा के मजदूरों को अग्रिम भुगतान का किया आग्रह:
पत्र में सीएम गहलोत ने मनरेगा के तहत पंजीकृत और सक्रिय मजदूरों को 21 दिन के अग्रिम वेतन भुगतान पर विचार करने का भी आग्रह किया और सुझाव दिया कि अग्रिम भुगतान को मनरेगा साइट पर काम शुरू होने के बाद मजदूरों द्वारा किये जाने वाले काम समयोजित किया जा सकता है. इसके अलावा ठेले एवं रेहड़ी चलाने वाले, पंजीकृत निर्माण श्रमिक और कारखानों में काम करने वाले श्रमिक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के दायरे में नहीं आते हैं. ऐसे में उन्हे भी एनएफएसए लाभार्थियों के समान अनाज उपलब्ध करवाने की व्यवस्था पर विचार किया जाना चाहिए.

पारदर्शी अंतर्राज्यीय आपूर्ति श्रंखला प्रोटोकोल लागू हो:
वहीं सीएम गहलोत ने मांग करते पत्र में लिखा कि केन्द्र सरकार को आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही के लिए स्पष्ट एवं पारदर्शी अंतर्राज्यीय आपूर्ति श्रंखला प्रोटोकोल लागू करना चाहिए. विभिन्न राज्यों में दूसरे राज्यों से आए मजदूर फंसे हुए हैं.

वेंटिलेटर का उचित प्रमाणिकरण कर उसका मूल्य निर्धारण किया जाए:
इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने COVID19 के प्रसार की सटीक जानकारी प्राप्त करने हेतु केन्द्र से परीक्षण सुविधा में तेजी से वृद्धि करने, डॉक्टरों, चिकित्सा कर्मचारियों हेतु व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण, टेस्टिंग किट का युद्ध स्तर पर आयात कर कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या के आधार पर इसका वितरण करने का आग्रह किया. सीएम ने मांग करते हुए पत्र में लिखा कि केन्द्र सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा वेंटिलेटर का उचित प्रमाणिकरण कर उसका मूल्य निर्धारण किया जाए ताकि बाजार में आए कम लागत वाले प्रभावी वेंटिलेटर्स की खरीद में आसानी हो.

संघवाद के मूल्यों को मजबूत करने के लिए पीएम को धन्यवाद दिया:
इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने राज्य सरकारों को भरोसे में लेकर संघवाद के मूल्यों को मजबूत करने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद भी ज्ञापित किया. सीएम गहलोत ने पत्र में लिखा कि COVID19 महामारी से समन्वित एवं ऊर्जावान तरीके से निपटने के लिए संघवाद की भावना की आवश्यकता है.

मोदी कैबिनेट का अहम फैसला, सभी सांसदों के वेतन में एक वर्ष तक होगी 30 प्रतिशत कटौती

राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 300 के करीब:
प्रदेश में कोरोना वायरस का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 300 के करीब पहुंचने वाली है. वहीं प्रदेश की राजधानी जयपुर की बात करें तो यहां पर मरीजों की संख्या 100 पहुंच गई है. जयपुर में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आये है. सोमवार को जयपुर में सबसे ज्यादा 8 नए कोरोना के मामले सामने आए है. 
 

कोरोना के कारण सादगी से मना भाजपा का स्थापना दिवस, राजस्थान में सशक्त रहा इतिहास

कोरोना के कारण सादगी से मना भाजपा का स्थापना दिवस, राजस्थान में सशक्त रहा इतिहास

जयपुर: देश भर की बीजेपी ने आज अपना स्थापना दिवस मनाया. राजस्थान में बीजेपी के बीते 40 सालों में कई कीर्तिमान रहे. राजस्थान की माटी से निकले बीजेपी नेता देश की सियासत में सितारों की तरह चमके. भैंरो सिंह शेखावत उपराष्ट्रपति के ओहदे तक पहुंचे. इस दौरान उतार-चढ़ाव देखे लेकिन सबसे ज्यादा सदस्य बनाने के सफर को पूरा किया. वसुंधरा राजे पहली बीजेपी नेता रही जिन्होंने पहली बार मरुभूमि में पूर्ण बहुमत से कमल खिलाया.

अगले कुछ सप्ताह के लिए हमार व्यवहार ही तय करेगा कोरोना वायरस की अगली दशा—मुख्य न्यायाधीश 

बीजेपी ने धीरे धीरे विकास की नवीन इबारत लिखी:
अपने जन्म के साथ ही राजस्थान में बीजेपी ने धीरे धीरे विकास की नवीन इबारत लिखी है. स्वर्गीय भैंरो सिंह शेखावत,सुंदर सिंह भंडारी समेत दिग्गजों ने राजस्थान की बीजेपी को स्थापित किया. राज्य में पहली बीजेपी सरकार के निर्माण का श्रेय भैंरो सिंह शेखावत को ही जाता है. शेखावत के बाद केवल वसुंधरा राजे ही रही जिनके नेतृत्व में बीजेपी की दो सरकारों का निर्माण हुआ. भैरोंसिंह शेखावत ने उप राष्ट्रपति के पद पर पहुंचकर राजस्थान का गौरव बढ़ाया. वसुंधरा राजे 2 बार मुख्यमंत्री बनी वह भी पूर्ण बहुमत के साथ. देश को अंत्योदय से परिचित कराने वाली पहली सरकार राजस्थान की ही थी,जो कि भैंरो सिंह शेखावत का विजन था. वहीं वसुंधरा राजे की देन रही भामाशाह योजना. यह बात सही है कि आज बीजेपी राजस्थान में जिस जगह खड़ी है वहां तक कमल का पहुंचना आसान नहीं था.

Coronavirus Updates: जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का शतक, राजस्थान में 288 पहुंची मरीजों की संख्या

बीज से वटवृक्ष बनने का सफर मुश्किलों भरा रहा:
राजस्थान में संघ के सफर से कमल खिला चाहे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ हो या फिर जनसंघ. पं दीनदयाल उपाध्याय और लालकृष्ण आडवाणी सरीखे दिग्गजों ने राजस्थान में ना केवल समय बिताया बल्कि यहां पर कमल खिलाने का मार्ग प्रशस्त किया. बीज से वटवृक्ष बनने का सफर मुश्किलों का भरा रहा. सुंदर सिंह भंडारी, भैरों सिंह शेखावत , भंवर लाल शर्मा,जेपी माथुर,हरिशंकर भाभडा,ललित किशोर चतुर्वेदी ,गुलाब चंद कटारिया,रघुवीर सिंह कौशल,रामदास अग्रवाल,ओम प्रकाश माथुर,महेश चंद्र शर्मा,प्रकाश चंद ,कैलाश मेघवाल, राजेन्द्र राठौड़ सरीखे कई दिग्गज चेहरे रहे जिन्होंने राजस्थान में बीजेपी को खड़ा करने में अहम भूमिका निभाई लेकिन बीजेपी को पार्टी विद द डिफरेंस बनाने में योगदान दिया समर्पित कार्यकर्ताओं ने. आज कमान कार्यकर्ता से प्रदेश अध्यक्ष बने सतीश पूनिया के हाथों में है और संगठन चलाने में उन्हें मार्गदर्शन मिल रहा है चंद्रशेखर का. यूं कह सकते है राजस्थान की बीजेपी में नव कमल उग रहा है.

....फर्स्ट इंडिया के लिए ऐश्वर्य प्रधान के साथ योगेश शर्मा की रिपोर्ट

अगले कुछ सप्ताह के लिए हमार व्यवहार ही तय करेगा कोरोना वायरस की अगली दशा—मुख्य न्यायाधीश

अगले कुछ सप्ताह के लिए हमार व्यवहार ही तय करेगा कोरोना वायरस की अगली दशा—मुख्य न्यायाधीश

जयपुर: कोरोना वायरस के संक्रमण के बढते आकड़ों के बीच राजस्थान हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति ने हौसला बढ़ाने वाला संदेश दिया है.फर्स्ट इंडिया न्यूज ने देश और प्रदेश में बढ़ते मामलों के बीच मुख्य न्यायाधीश से संदेश के लिए भी आह्वान किया गया था जिसके बाद सोमवार को एक अधिकारिक बयान जारी कर मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति ने केन्द्र और राज्य सरकार के साथ चिकित्साकर्मियों, पुलिस प्रशासन की सराहना की है.

मोदी कैबिनेट का अहम फैसला, सभी सांसदों के वेतन में एक वर्ष तक होगी 30 प्रतिशत कटौती

वायरस की दशा हमारा व्यवहार तय करेगा:
मुख्य न्यायाधीशा इन्द्रजीत महांति ने कहा कि अगले कुछ हफ्ते के लिए हमारा व्यवहार ही तय करेगा कि इस वायरस की अगली दशा क्या होगी. इस वायरस का फैलना या खत्म होने की दिशा हमारे व्यवहार पर ही निर्भर रहेगी. मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि न्याय हर हाल में मिलता रहे यही हमारा प्रयास है एक्सट्रीम अर्जेंट प्रकरणों की सुनवाई के लिए वीडियो और ऑडियो कॉल के जरिए सुनवाई कि जा रही है. मुख्य न्यायाधीश ने आम जनता से भी कोरोना से बचाव के लिए सरकारी निर्देशों की पालना करने का आह्वान किया है. 

Coronavirus Updates: जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का शतक, राजस्थान में 288 पहुंची मरीजों की संख्या

हम सभी निकट संपर्कों से बचें:
मुख्य न्यायाधीश ने आम जनता को संबोधित करते हुए कहा कि हम सभी निकट संपर्कों से बचें और लगातार हाथ धोते रहें. ट्रैवल एडवाइजरी का इस्तेमाल करें. साफ सफाई का ध्यान रखें. मुख्य न्यायाधीश ने केन्द्र और राज्य सरकार की ओर से जारी किेये गये निर्देशो की पालना करने की अपील की है. मुख्य न्यायाधीश ने पुलिस प्रशासन की तारीफ करते हुए और डॉक्टर को फ्रंटलाइन बैरियर बताते हुए उनकी सराहना की है. मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि लॉक डाउन काकुछ आर्थिक प्रभाव तो पड़ेगा लेकिन यह बड़े स्तर पर लोगों के जीवन की सुरक्षा के लिए आवश्यक है.

Coronavirus Updates: जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का शतक, राजस्थान में 288 पहुंची मरीजों की संख्या

Coronavirus Updates: जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का शतक, राजस्थान में 288 पहुंची मरीजों की संख्या

जयपुर: प्रदेश में कोरोना वायरस के मरीजों का आंकड़ा बढता जा रहा है. राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 288 पहुंच गई है. वहीं प्रदेश की राजधानी जयपुर की बात करें तो यहां पर मरीजों की संख्या 100 पहुंच गई है. जयपुर में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आये है. सोमवार को जयपुर में सबसे अधिक कोरोना के केस आये है. यहां पर 8 नए कोरोना के मामले मिले है. 

अब कोरोना की चपेट में जानवर, न्यूयॉर्क में बाघिन मिली पॉजिटिव, जू जनता के लिए बंद 

झुंझुनूं जिले में 5 नए पॉजिटिव मामले:
झुंझुनूं जिले में 5 नए पॉजिटिव मामले सामने आए है. वहीं दौसा में तीन, डूंगरपुर में दो, जोधपुर में एक, कोटा में एक मामला मिला है. वहीं ईरान से आए दो भारतीय यात्री भी जांच में पॉजिटिव मिले है. पिछले 24 घंटे के दरम्यान 22 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ अब तक 288 पहुंच चुका है. उधर कोटा में कोरोना वायरस की चपेट में आने से एक व्यक्ति मौत हो गई है. वहीं अब तक प्रदेश में 6 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. 

जल्द बन सकता है कोरोना वायरस का टीका, डॉक्टरों का रिसर्च जारी !

सीएम गहलोत की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग:
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शाम 5 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे है. जिसमें चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा भी मौजूद रहेंगे. इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जयपुर के 4 कांग्रेस विधायक शामिल रहेंगे, जिनमें महेश जोशी, प्रताप सिंह खाचरियावास, रफीक खान और  अमीन कागजी शामिल रहेंगे. चारों विधायक CMO में बैठकर वीसी से जुड़ेंगे. गृह विभाग और पुलिस के अधिकारी मौजूद रहेंगे. कलेक्टर और पुलिस कमिश्नर भी CM से संवाद करेंगे. जयपुर को लेकर पूरा फ़ोकस रहेगा. 

संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा:
देश में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. सोमवार को देश में संक्रमित मरीजों की संख्या चार हजार के पार पहुंच गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार  4067 मामलों में से 3666 सक्रिय मामले हैं. इनमें से 291 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और जबकि एक देश से बाहर जा चुका है. अब तक 109 लोगों की मौत हो चुकी है.

CORONA: घबराये नहीं, बस लक्षण दिखने पर तुरंत ले डॉक्टर से परामर्श, ले मेडिकल ट्रीटमेंट

CORONA: घबराये नहीं, बस लक्षण  दिखने पर तुरंत ले डॉक्टर से परामर्श,  ले मेडिकल ट्रीटमेंट

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (COVID-19) की बीमारी संक्रमण से फैलती है. यह एक नए वायरस के कारण होता है. इस बीमारी में सांस लेने में तकलीफ की समस्या होती है.  इसके अलावा, खांसी, बुखार, और ज़्यादा गंभीर मामलों में सांस लेने में परेशानी होना कोरोना के मुख्य लक्षण है. खुद को सुरक्षित रखने के लिए, अपने हाथों को बार-बार धोएं. इसके अलावा, अपने चेहरे को छूने से बचना चाहिए. जो इंसान बीमार हैं उनसे (एक मीटर या 3 फीट) की दूरी बनाकर रखनी चाहिए. 

अब कोरोना की चपेट में जानवर, न्यूयॉर्क में बाघिन मिली पॉजिटिव, जू जनता के लिए बंद 

ऐसे फैलती है ये बीमारी: 
चलिए अब बात करते है, ये बीमारी कैसे फैलती है, तो आपको बता दें कि सं​क्रमित इंसान के सम्पर्क में आने से यह बीमारी फैलती है. इसलिए तो घरों में रहने की सलाह दी जा रही है. लोगों से सम्पर्क नहीं करने की चेतावनी भी दी जा रही है. कोरोना संक्रमित इंसान के खांसने या छींकने पर उसके मुंह और नाक से गिरने वाली बूंदों से ये रोग एक से दूसरे इंसानों में फैलता है. जब कोई इंसान उस सतह या चीज़ को छूता है जिस पर वायरस होता है, इसके बाद अपनी आंख, नाक या मुंह को छूता है. तो इससे यह बीमारी फैल रही है.

कोरोना वायरस के लिए दवा:
यहां पर बात हो रही है कोरोना वायरस की दवा की, तो इसके उपचार के लिए अभी तक कोई भी खास दवा नहीं बनी है. बस लक्षण मिलते ही अगर डॉक्टर से सम्पर्क कर लिया जाये तो इसका इलाज हो सकता है. साथ ही कई इंसानों को बचाया जा सकता है. क्योंकि जिस इंसान में इसके लक्षण है, तो तुरंत ही डॉक्टर से फोन पर बात करके लक्षण के बारे में अवगत कराये. तो इसका उपचार हो सकेगा. क्योंकि कई इंसान पहले कोरोना पॉजिटिव आये थे. वहीं दूसरी बार उनकी जांच नेगेटिव आई है. कोरोना वायरस से घबराने की बात नहीं, बस सेफ्टी जरूरी है. अगर वक्त पर बीमारी के लक्षण बताये जाये तो इससे दूसरे इंसान संक्रमित होने से बच सकते है. 

राहत भरी भविष्यवाणी..! तो अप्रैल मध्य तक हो जाएगा कोरोना वायरस का खात्मा, ज्योतिषीय गणनाओं में हुआ खुलासा

इन लक्षण को ना करे नजरअंदाज, ले मेडिकल ट्रीटमेंट:
जिस इंसान को बुखार, खांसी, और सांस लेने में परेशानी हो रही है. तो तुरंत ही डॉक्टर से परामर्श लें, और आप जिस इंसान से सम्पर्क में आये है, उसके बार में भी बताये. आप अपने डॉक्टर को कॉल करके अपने हाल ही में की गई यात्राओं के बारे में बताए या अन्य किसी भी यात्रियों से मिले हों उनके बारे में बताए.

सीएम गहलोत के निर्देश, लॉकडाउन और कर्फ्यू की सख्ती से कराये पालना, अफवाह फैलाने पर हो कार्रवाई

सीएम गहलोत के निर्देश, लॉकडाउन और कर्फ्यू की सख्ती से कराये पालना, अफवाह फैलाने पर हो कार्रवाई

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए राज्य में लाॅकडाउन एवं कर्फ्यू की सख्ती से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए लोगों का घरों में रहना जरूरी है. गहलोत ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए गृह विभाग एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ राज्य में लाॅकडाउन एवं कर्फ्यू की स्थिति की समीक्षा की. गहलोत ने निर्देश दिए कि सोशल मीडिया तथा अन्य माध्यमों से फैलाई जा रही अफवाहों एवं गलत सूचनाओं पर पुलिस अधिकारी प्रभावी अंकुश लगाएं. ऐसा करने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई अमल में लाएं. राज्य के विभिन्न जिलों के 34 थाना इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया है. साथ ही सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचनाएं देने के मामलों में 50 से अधिक मुकदमे दर्ज किए गए हैं और 300 से अधिक लोगों पर कार्रवाई की गई है. 

हनुमान मंदिर में चोरी की वारदात, अज्ञात चोर ने 2 दानपात्र और 13 चांदी के छत्र चुराए

सीएम गहलोत ने की पुलिसकर्मियों की तारीफ: 
वीडियो कांफ्रेंस के दौरान अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजीव स्वरूप, पुलिस महानिदेशक  भूपेन्द्र सिंह, महानिदेशक कानून-व्यवस्था  एमएल लाठर, एडीजी क्राइम  बीएल सोनी, एडीजी इंटेलीजेंस उमेश मिश्रा, एडीजी एसओजी अनिल पालीवाल आदि वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को वस्तुस्थिति से अवगत कराया. अपनी-अपनी रेंज का दौरा कर लौटे प्रभारी अतिरिक्त पुलिस महानिदेशकों ने मुख्यमंत्री को लाॅकडाउन और कर्फ्यूग्रस्त इलाकों की जानकारी दी. वहीं मुख्यमंत्री गहलोत ने पुलिसकर्मियों की तारीफ करते हुए कहा कि विकट समय में पुलिसकर्मी सड़क पर खड़े रहकर मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी को अंजाम दे रहे हैं.

स्वास्थ्यकर्मियों की पुख्ता सुरक्षा करने के निर्देश:
साथ ही अन्य व्यवस्थाओं तथा मानवीय कार्यों में भी सहयोग दे रहे हैं जो कि प्रशंसनीय है. इस दौरान मुख्यमंत्री ने इस महामारी के रोगियों का उपचार कर रहे चिकित्सकों एवं स्क्रीनिंग कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों की पुख्ता सुरक्षा करने के निर्देश दिए. गहलोत ने इसके साथ ही कोर ग्रुप और क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से चर्चा कर कोरोना की स्थिति की समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने आईसोलेशन, चिकित्सा उपकरणों की उपलब्धता, राशन एवं खाद्य सामग्री पहुंचाने, प्रवासी कामगारों के लिए बनाए गए शिविरों में आवश्यक व्यवस्थाओं, गर्भवती महिलाओं के सुरक्षित प्रसव आदि के बारे तमाम इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. उन्होंने फसल कटाई, मंडियों में कृषि जिंसों की खरीद-फरोख्त प्रारंभ करने आदि के बारे में चर्चा की.

Coronavirus Updates: कोरोना का कहर, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 274, कोटा में एक मरीज की मौत 

भीलवाड़ा में किए गए उपायों की सराहना की:
उधर मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने मुख्यमंत्री को बताया कि केन्द्रीय कैबिनेट सचिव द्वारा रविवार को ली गई वीडियो कांफ्रेंसिंग में कोरोना से बचाव के लिए भीलवाड़ा में किए गए उपायों की सराहना की गई है. केन्द्रीय कैबिनेट सचिव ने भीलवाड़ा माॅडल को पूरे देश में लागू करने के संकेत दिए हैं. वार रूम प्रभारी सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव अभय कुमार ने क्वारेंटाइन में रह रहे लोगों की ट्रेकिंग के लिए तैयार डैश बोर्ड के बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इससे ऐसे लोगों की गतिविधियों की ट्रेकिंग सुनिश्चित की जा रही है.

Coronavirus Updates: कोरोना का कहर, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 274, कोटा में एक मरीज की मौत 

Coronavirus Updates: कोरोना का कहर, राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 274, कोटा में एक मरीज की मौत 

जयपुर: प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. इसके मामले लगातार बढते जा रहे है. प्रदेश में कोरोना से सोमवार को कोटा में मौत हो गई है, प्रदेश में ये छठी मौत है. कोटा में 60 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति की मौत हो गई है. ताजा नए  8 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आये. झुंझुनूं में 5, डूंगरपुर में दो, एक जैसलमेर में पॉजिटिव केस सामने आया. अब तक कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 274 पहुंच गया. 

देशभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3500 से ज्यादा:
वहीं देशभर में भी लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है. भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या अब तक 3500 से ज्यादा हो गई है. वहीं अब तक 83 लोगों की मौत हो चुकी है. अच्छी बात यहै है कि 274 मरीजों का इलाज सफल हो गया है.

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा

मोदी कैबिनेट की बैठक आज:
इसी बीच पीएम मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कैबिनेट की बैठक में भाग लेंगे. इस दौरान कोरोना के एक्शन प्लान पर चर्चा होगी. साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण स्कीम की समीक्षा भी की जाएगी. देश के अलग-अलग जिलों के अलग-अलग जिलों के जिलाधिकारियों से मिले फीडबैक को भी केंद्रीय मंत्री, पीएम के सामने रखेंगे. 

दुनियाभर में 13 लाख से अधिक लोग संक्रमित:
दुनियाभर में अब तक कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 13 लाख से अधिक हो गई है. इसके साथ ही मरने वालों का आंकड़ा 60 हजार के करीब पहुंच गया है. दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका इस वायरस से बुरी तरह प्रभावित है. यहां स्थिति बद से बदतर होती जा रही है. अमेरिका में अब तक नौ हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. यहां संक्रमण के मामले तीन लाख से ज्यादा हो गए हैं.

Coronavirus Updates: दीये, मोमबत्ती और टॉर्च वाली रोशनी से जगमग हुआ देश, पीएम की अपील पर लोगों ने 9 मिनट तक मनाई 'दिवाली'

Coronavirus Updates: राजस्थान में 266 हुई पॉजिटिव मरीजों की संख्या, देशभर में 3500 से ज्यादा पहुंचा आंकड़ा

Coronavirus Updates: राजस्थान में 266 हुई पॉजिटिव मरीजों की संख्या, देशभर में 3500 से ज्यादा पहुंचा आंकड़ा

जयपुर: प्रदेश में लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है. रविवार को एक ही दिन में रिकॉर्ड 60 मरीज सामने आए. इनमें अकेले जयपुर के रामगंज में 39 मरीज मिले. इससे भी चिंता की बात यह है कि जयपुर के एसएमएस मेडिकल कॉलेज की कैंटीन में काम करने वाला रामगंज निवासी एक युवक भी पॉजिटिव आया है. ऐसे में डॉक्टर और रेजीडेंट में भय का माहौल हो गया. प्रदेश में अब 266 रोगी हो गए हैं. 

Coronavirus Updates: दीये, मोमबत्ती और टॉर्च वाली रोशनी से जगमग हुआ देश, पीएम की अपील पर लोगों ने 9 मिनट तक मनाई 'दिवाली' 

देशभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3500 से ज्यादा:
वहीं देशभर में भी लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है. भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या अब तक 3500 से ज्यादा हो गई है. वहीं अब तक 83 लोगों की मौत हो चुकी है. अच्छी बात यहै है कि 274 मरीजों का इलाज सफल हो गया है.

मोदी कैबिनेट की बैठक आज:
इसी बीच पीएम मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कैबिनेट की बैठक में भाग लेंगे. इस दौरान कोरोना के एक्शन प्लान पर चर्चा होगी. साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण स्कीम की समीक्षा भी की जाएगी. देश के अलग-अलग जिलों के अलग-अलग जिलों के जिलाधिकारियों से मिले फीडबैक को भी केंद्रीय मंत्री, पीएम के सामने रखेंगे. 

खुशखबरी: शोधकर्ताओं का दावा, 48 घंटे के भीतर कोरोना वायरस को मार सकती है ये दवा

दुनियाभर में 13 लाख से अधिक लोग संक्रमित:
दुनियाभर में अब तक कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 13 लाख से अधिक हो गई है. इसके साथ ही मरने वालों का आंकड़ा 60 हजार के करीब पहुंच गया है. दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका इस वायरस से बुरी तरह प्रभावित है. यहां स्थिति बद से बदतर होती जा रही है. अमेरिका में अब तक नौ हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. यहां संक्रमण के मामले तीन लाख से ज्यादा हो गए हैं.

Open Covid-19