जनहित योजनाओं को धरातल पर लाने में पंचायती राज विभाग का बड़ा योगदान: गहलोत

जनहित योजनाओं को धरातल पर लाने में पंचायती राज विभाग का बड़ा योगदान: गहलोत

जनहित योजनाओं को धरातल पर लाने में पंचायती राज विभाग का बड़ा योगदान: गहलोत

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कहा कि गांव-ढाणी तक विकास कार्यों को मूर्त रूप देने और योजनाओं का लाभ जमीनी स्तर तक पहुंचाने में पंचायती राज विभाग (Panchayati Raj Department) की अहम भूमिका है. राज्य सरकार निरंतर फैसले लेकर प्रदेश में पंचायतीराज को सशक्त बना रही है. उन्होंने निर्देश दिए कि पंचायतीराज विभाग में कनिष्ठ लिपिक-2013 की भर्ती को चरणबद्ध रूप से पूरा करें. प्रथम चरण में 4 हजार पदों तथा शेष पदों पर अगले चरण में भर्ती प्रक्रिया पूरी की जाए. 

योजनाओं एवं बजट घोषणाओं की प्रगति की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश:
गहलोत गुरूवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पंचायतीराज विभाग की योजनाओं एवं बजट घोषणाओं की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी राज्य सरकार की गुड गवर्नेंस की मंशा के अनुरूप बजट घोषणाओं की क्रियान्विति को गति देकर अंतिम छोर तक विकास का लाभ पहुंचाना सुनिश्चित करें.

नए भवनों के निर्माण में भविष्य की आवश्यकताओं को देखा जाए:
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने गांवों के विकास को गति प्रदान करने के लिए 57 नई पंचायत समितियों और 1456 नई ग्राम पंचायतों का गठन किया है. इन नई पंचायत समितियों और ग्राम पंचायतों के लिए जहां पर कोई सरकारी भवन रिक्त या अनुपयोगी स्थिति में है तो उनका उपयोग किया जाए. जहां सरकारी भवन उपलब्ध नहीं हैं वहां नए भवनों का निर्माण भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर किया जाए. नवसृजित ग्राम पंचायत मुख्यालय पर ग्राम पंचायत भवनों का निर्माण ग्राम सचिवालय की अवधारणा को साकार करने के उद्देश्य से किया जाए, जहां आमजन को एक ही स्थान पर ग्राम पंचायत स्तरीय कार्यालयों की सभी सुविधाओं का लाभ मिल सके. 

प्रक्रियाधीन सरकारी भर्तीयों में अभ्यर्थियों को जल्द दी जाए नियुक्तियां:
गहलोत ने कहा कि पंचायतीराज विभाग में विभिन्न रिक्त पदों पर भर्तियों के काम को गति दी जाए. साथ ही ग्रामीण विकास राज्य सेवा एवं अधीनस्थ सेवा कैडर में पदोन्नति के पर्याप्त अवसर उपलब्ध कराए जाए. उन्होंने निर्देश दिए कि जो भर्तियां प्रक्रियाधीन हैं, उनमें परीक्षा और परिणाम जारी करने की प्रक्रिया जल्द पूरी कर अभ्यर्थियों को नियुक्तियां दी जाए. गहलोत ने कहा कि 15वें वित्त आयोग तथा राज्य वित्त आयोग के तहत होने वाले विकास कायोर्ं एवं योजनाओं को समयबद्ध रूप से पूरा करने का प्रयास किया जाए. ताकि लोगों को इनका समुचित लाभ समय पर मिल सके. 

और पढ़ें