फेसबुक पर फ्रेंड बनाकर दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी देने वाले गिरोह का खुलासा

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/26 10:49

रावतसर(हनुमानगढ़)। फेसबुक पर फ्रेंड बनाकर दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी देकर रुपये ऐंठने वाले एक गिरोह का रावतसर पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने इस गिरोह से जुड़ी 2 महिलाओं सहित 4 जनों को गिरफ्तार किया है जबकि फरार मुख्य अभियुक्त जसप्रीत कौर की तलाश जारी है। हनीट्रैप में यह गिरोह बुजुर्गों और रिटायर्ड कर्मचारियों को ठगी का शिकार बना चुका है। 

राजस्थान के अलावा पंजाब व हरियाणा में भी इस गिरोह ने दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी के साथ ब्लैकमेल कर कईयों के साथ ठगी की है। CI मोहमद अनवर ने गिरोह का खुलासा करते हुए बताया कि गिरफ्तार निहंग उर्फ गुरदीप सिंह उर्फ जगरूप सिंह उर्फ हरदीप सिंग निवासी नीमला हरियाणा व उसकी पत्नी गीता उर्फ महेंद्र कौर उर्फ मैद्दो को गिरफ्तार किया गया है । यह दोनों जसप्रीत के नकली माता पिता बनकर पुलिस बनाने का भय दिखाकर संबंधित व्यक्ति को बंधक बनाकर मारपीट करते थे साथ ही आरोपी लड़की की इज्जत खराब होने पर दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी देकर लाखो रुपये की डिमांड करते थे। 

पुलिस इससे पहले भी कर चुकी गिरफ्तार
पुलिस इससे पहले इस मामले में ऐलनाबाद हरियाणा निवासी मन्नत कौर व उसके पति गुरमीत सिंह को गिरफ्तार कर जेल भिजवा चुकी है। आपको बता दे कि कुलार अबोहर पंजाब निवासी ने पुलिस को बताया कि उसकी फेसबुक आई डी पर जसप्रीत नामक महिला ने फ्रैंड रिक्वेस्ट भेजी थी इसके बाद फेसबुक पर चैटिंग से उसकी दोस्ती हो गयी और जसप्रीत ने खुद की मजबूरी बता कर मिलने के लिए रावतसर बुलाया। 12 अप्रैल को सुभाष कार लेकर रावतसर पहुंचा। रावतसर में भगत सिंह चौक पर लाल रंग का सूट पहने एक युवती मिली जिसने खुद का नाम जसप्रीत बताते हुए उसके साथ कार में बैठ गयी। इसके बाद जसप्रीत सुभाष को अपने किराए के मकान में ले गयी ओर अपने कपड़े उतार शारीरिक संबंध बनाने का लालच दिया। 

दुष्कर्म केस में फंसाने की देते है धमकी 
इस पर सुभाष ने वहां से निकलने की कोशिश की तो निहंग नामक बुजुर्ग और 2 अन्य महिलाओं ने उसे पकड़ लिया और जसप्रीत की इज्जत खराब कर देने का आरोप लगाते हुए मारपीट करने लगे व दुष्कर्म केस में फंसाने की धमकी देने लगे। उसी दौरान गुरमीत नामक युवक वहां पर आया और सभी आरोपियों ने सुभाष को पिस्तौल दिखाते हुए दस लाख रुपये की डिमांड की। इसके बाद सुभाष के मोबाइल से परिजनों से बात कर 10 लाख रुपये मंगवाए। परिजनों के नही आने पर सुभाष की कार में रखे 305000 रुपये के चेक ,कार की आर सी,दो लाइसेंस व 26 हजार रुपये की नगदी निकाल लिए व धमकी दी कि 2 लाख ओर नही दिए तो दुष्कर्म केस में फंसा देंगे। इसके बाद 60 वर्षीय सुभाष ने रावतसर पुलिस थाने पहुंच कर मामला दर्ज करवाया। आरोपी इतने शातिर थे कि हर बार वारदात के बाद अपना ठिकाना बदल लेते थे। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in